केन्द्रीय आयुर्वेद अनुसंधान संस्थान, झाँसी द्वारा सतर्कता जागरूकता सप्ताह के तहत किया जा रहा है कार्यक्रम का आयोजन | New India Times

अरशद आब्दी, ब्यूरो चीफ, झांसी (यूपी), NIT:

केन्द्रीय आयुर्वेद अनुसंधान संस्थान, झाँसी, द्वारा संस्थान प्रभारी सहायक निदेशक डॉ. सी. वेंकट नरसिम्हाजी, के निर्देशन में दिनांक 03/11/23 को सतर्कता जागरूकता सप्ताह (30 अक्टूबर से 5 नवम्बर, 2023), थीम “भ्रष्टाचार का विरोध करें , राष्ट्र के प्रति समर्पित रहें” के अंतर्गत मुख्य अतिथि श्री आलोक कुमार शर्मा, पुलिस अधीक्षक, सतर्कता अधिष्ठान, झाँसी, द्वारा निवारक सतर्कता पर व्याख्यान दिया गया एवं सभी को सतर्कता के महत्व एवं जनहित प्रकटीकरण एवं सूचनादाता सरंक्षण (PIDPI) से अवगत कराया गया। उन्होंने केन्द्रीय सतर्कता आयोग के दिशानिर्देश के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की, एवं इस पर सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने सक्रियपुर्वक चर्चा भी की। संस्थान प्रभारी ने स्वागत भाषण में कहा कि, केन्द्रीय आयुर्वेद अनुसंधान संस्थान, झाँसी, औषधि का उत्पादन एवं गुणवत्ता नियंत्रण के साथ-साथ औषधि वनस्पति का संग्रहीकरण, मानकीकरण एवं गुणवत्ता के क्षेत्र में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है।

इसी के क्रम में मुख्य अतिथि को अष्टम आयुर्वेद दिवस 2023 के उपलक्ष्य में लगी औषधि एवं पुस्तकों की प्रदर्शनी कराई गई, तथा 10 नवंबर को मनाये जाने वाले धनवंतरी दिवस के बारे में एवं इस वर्ष की थीम ‘’हर दिन हर किसी के लिए आयुर्वेद’’ के बारे में अवगत कराया गया। संस्थान प्रभारी ने सभी को सतर्क एवं जागरूक रहने हेतु प्रोत्साहित किया। इस दौरान दिनांक ३१/१०/२३ को हुई निबंध प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार डॉ. चंद्रशेखर जगताप, द्वितीय पुरस्कार सुश्री यशिका गाँधी, तृतीय पुरस्कार श्री हेमंत रावत एवं सांत्वना पुरस्कार श्री आशुतोष मिश्र को मिला एवं दिनांक 0 ३/११/२३ को हुई वाद-विवाद प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार डॉ. सुजीत मिश्रा, द्वितीय पुरस्कार डॉ. विजय कुमार, तृतीय पुरस्कार श्री हेमंत रावत, प्रथम सांत्वना पुरस्कार श्री गणेश दाणे, द्वितीय सांत्वना पुरस्कार -डॉ. श्याम बाबू प्रसाद एवं तृतीय सांत्वना पुरस्कार श्री गगनदीप सिंह को प्राप्त हुआ। विजयी हुए सभी प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र वितरित किया गया। धन्यवाद ज्ञापन डॉ संजीव कुमार लाले, द्वारा दिया गया। कार्यक्रम का सञ्चालन डॉ. नीलम सिंह, द्वारा किया गया। इस अवसर पर संस्थान के समस्त अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे। कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान से किया गया।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

By nit

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading