उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के बैनर तले हुए विरोध-प्रदर्शन में उमड़ा शिक्षकों का जन सैलाब

देश, राज्य

फराज़ अंसारी, ब्यूरो चीफ, बहराइच (यूपी), NIT:

जनपद बहराइच के विकास खण्ड तजवापुर के ब्लाक संसाधन केंद्र पर बेसिक शिक्षा परिवार में शिक्षकों, शिक्षामित्रों, अनुदेशकों और रसोइयों का भारी जन सैलाब इक्कीस सूत्रीय मांगों के समर्थन में विशाल धरना एवं प्रदर्शन ब्लाक संसाधन केंद्र तजवापुर में उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष आनंद कुमार पाठक एवं जिला मंत्री विजय कुमार उपाध्याय, ब्लाक अध्यक्ष भुवनेश्वर पाठक की अध्यक्षता में सकुशल सम्पन्न हुआ। धरने का आरंभ रश्मि प्रभाकर ने ईष्ट वंदना से किया। धरने को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के ब्लाक अध्यक्ष भुवनेश्वर पाठक ने कहा की अब एक विद्यालय प्रांगण में काम करने वाले शिक्षक, शिक्षामित्र, अनुदेशक, रसोईया अब अलग अलग नहीं है, जब उन्होंने ठान लिया है की हम सब एक हैं और एक साथ ही सरकार से अपनी मांगों को मनवाने के लिए संघर्ष करेंगे। धरने को संबोधित करते हुए ब्लाक मंत्री अनिल सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि एक तरफ तो सांसद, विधायक, तीन तीन पुरानी पेंशन ले रहे हैं और हमे एन पी एस का झुनझुना थमाया जा रहा है जब एन पी एस इतनी ही अच्छी है तो सांसद ,विधायक को ये सुविधा क्यों नही दी जा रही, आप भी ले लीजिए।धरने को संबोधित करते हुए शिक्षा मित्र संघ के प्रांतीय संगठन मंत्री बलराम बाजपेयी ने कहा कि आज हमे मात्र १० हजार रुपए के मानदेय पर सरकार हम से कार्य करा रही है जबकि हम पिछले १५ वर्षों से भी अधिक समय से विभाग में अनवरत अच्छी सेवा दे रहे हैं सरकार को चाहिए कि अब तो हम सब शिक्षा मित्रों को स्थाई शिक्षक बना देना चाहिए, आखिर हम कितने दिनों तक इस 10 हजार के मानदेय में अपने परिवार और बच्चों का भरण पोषण और शिक्षा दीक्षा कैसे कर पाएंगे। धरने को संबोधित करते हुए शिक्षा मित्र संघ के न्याय पंचायत प्रभारी लालजी सोनी ने कहा कि अब हम सब इस उमर के पड़ाव पर इतनी सारी परीक्षाओं का बोझ नहीं सह पाएंगे सरकार नियम बनाकर हम सभी शिक्षा मित्रों को शिक्षक के पद पर बिना शर्त समायोजन करे। धरने को संबोधित करते हुए अनुदेशक संघ के ब्लाक अध्यक्ष अरविंद कुमार मौर्य ने कहा की सरकार हमसे मात्र थोड़े से मानदेय में कार्य करवा रही है जबकि हम कई वर्षों से पूर्ण मनोयोग से विद्यालय में शिक्षण कार्य कर रहे हैं अब वक्त आ गया है की उत्तर प्रदेश सरकार को हम सब अनुदेशकों को बिना शर्त पूर्ण शिक्षक बना दिया जाए. अगर सरकार ने ऐसा नहीं किया तो हम सरकार के खिलाफ शिक्षकों और शिक्षा मित्रों के साथ मिलकर बृहद आंदोलन का रूप अखितयार करेंगे। धरने को संबोधित करते हुए वरिष्ठ उपाध्यक्ष सुनील कुमार मिश्र ने कहा की शिक्षकों को कैशलेश चिकित्सा के साथ साथ उपार्जित अवकाश का भी लाभ दिया जाए। धरने में शिक्षिका रोली सारस्वत ने अंतर्जनपदीय स्थानांतरण का मुद्दा प्रमुखता से उठाया, जिस पर धरने को संबोधित करते हुए संयुक्त मंत्री प्रदुम्न कुमार पाण्डेय ने कहा पिछले पांच वर्षों से हमारे शिक्षक साथियों का अंतर्जनपदीय ट्रांसफर नहीं हुआ है जबकि अन्य जनपदों से इस दरम्यान दो बार ट्रांसफर हो चुके हैं आखिर हमारा अपराध क्या है क्या हमारे शिक्षक साथियों ने जनपद बहराइच में नौकरी करके कोई अपराध किया है जो हमे ऐसी सजा दी जा रही है। डॉ एन के शुक्ल ने धरने को संबोधित करते हुए कहा कि प्रत्येक कक्षा में एक अध्यापक और प्रत्येक विद्यालय में एक प्रधानाध्यापक, एक लिपिक,एक अनुचर और एक चौकीदार की नियुक्ति की जाये तभी जाकर व्यवस्था में अनुकूल सुधार सम्भव होगा।धरने को चन्द्र शेखर नागवंशी,आत्म प्रकाश मिश्र, उदय शंकर त्रिपाठी आदि ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर हफीजुर्रहमान, सुकर्मा शर्मा, कंचन गुप्ता, उदय प्रताप, रवि श्रीवास्तव, सतीश कुमार पाण्डेय, संतोष गुप्ता, सुनीता मिश्रा, ऋतु तिवारी, सरिता गुप्ता, प्रानशी श्रीवास्तव सहित सैकड़ों शिक्षक, शिक्षा-मित्र, अनुदेशक, रसोईयां आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply