गिरते हुए वोट प्रतिशत को बढ़ाने के लिए प्रशासन लेगा आशा दीदियों से सहायता, 13 मई को जलगांव और रावेर में होगा मतदान | New India Times

नरेन्द्र कुमार, ब्यूरो चीफ, जलगांव (महाराष्ट्र), NIT:

पूरे देश भर में पहले और दूसरे चरण की 190 लोकसभा सीटों की वोटिंग में मतदान के गिरते ग्राफ से परेशान चुनाव आयोग ने तीसरे और चौथे चरण के लिए कमर कस ली है। जलगांव की दोनों संसदीय सीटों पर 13 मई को वोट डाले जाएंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी आयुष प्रसाद ने जिला पंचायत प्रशासन महिला बाल विकास एवं स्वास्थ के सहयोग से जिले के प्रत्येक बूथ पर विशेष पहल का मंचन किया है। सभी 15 तहसीलों के पोलिंग बूथ पर माता बाल संगोपन, प्रथम उपचार केंद्र निर्माण किए जाएंगे। जैसे कि जामनेर की बात करते हैं, यहां के 327 बूथ पर 396 आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और 271 आशा दीदी 126 स्वास्थ कर्मी घर घर जा कर शहरी क्षेत्र से 847 और ग्रामीण से 5873 गर्भवती महिलाओ समेत शहरी क्षेत्र से 848 ग्रामीण से 5184 दुधमुहे बच्चों को स्तनपान कराती माताओ को सुबह 9 बजे से पहले बूथ पर लाकर उनका मतदान करवा लेंगी।

इस संबंध में जामनेर में तहसीलदार नानासाहब आगले और TMO डॉ राजेश सोनवाने के मार्गदर्शन में प्रशिक्षण शिविर संपन्न कराया गया। चिलचिलाती धूप के कारण जलगांव में पारा 42 डिग्री सेल्सियस पार कर चुका है। जिला प्रशासन द्वारा की गई यह पहल जनता के बीच जागृति से पैदा होने वाले सहयोग और कर्मियों के टीम वर्क के बलबूते काफ़ी असरदार साबित हो सकती है। मतदान को लेकर लोगों के मन से आस्था का वास्ता कमजोर क्यो हो गया है इसके बारे मे वोटर की अपनी सोच से वो समझदार है। प्रशासन की तरफ़ से शाम चार बजे के बाद भी इसी प्रकार के प्रयास दरकार हैं।

स्ट्रांग रूम पहुंचीं मशीनें: जिला प्रशासन द्वारा वितरित कराई गई। Electronic Voting Machine’s Unit हर ब्लॉक के स्ट्रांग रूम में पहुंच चुकी है। सुरक्षा के पुख्ता इंतजामात दुरुस्त कराए जा रहे हैं।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

By nit

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading