राष्ट्रीय दलित पैंथर ने ज्ञापन सौंप कर खंडाला सरपंच-ग्रामसेवक के खिलाफ की कार्रवाई की मांग

देश, भ्रष्टाचार, राज्य

लियाक़त शाह, भुसावल/जलगांव (महाराष्ट्र), NIT:

भुसावल तहसील के पंचायत समिति के समूह विकास अधिकारी विलास भटकर को शुक्रवार को पंचायत समिति में सौंपे एक ज्ञापन में राष्ट्रीय दलित पैंथर ने मांग की है कि शहर से सटे खंडाला गांव में अधिकारी के क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली खंडाला ग्राम पंचायत में रोजगार हामी योजना के 14वें वित्त आयोग दलित वस्ति सुधार योजना के साथ-साथ स्वच्छ भारत मिशन में काफी भ्रष्टाचार हुआ है और इस संबंध में जांच के लिए शिकायत दर्ज कराने के बावजूद अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई और मालूम होता है के प्रशासन इन सभी शिकायतों को गंभीरता से नहीं ले रही है, राष्ट्रीय दलित पैंथर एक बार फिर से प्रशासन से शिकायत को गंभीरता से लेने और जांच करने तथा इसमें शामिल लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की राष्ट्रीय दलित पैंथर मांग करता है. अनुसूचित जाति बस्ती के लिए सरपंच और ग्राम सेवकों की ओर से आने वाले धन में काफी हेर फेर हुआ है और शेष राशि में भी गबन किया गया है. बयान में कहा गया है की इस शिकायत की तत्काल जांच कराकर इसमें शामिल लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए अन्यथा हमें मुख्य अधिकारी, जिला जलगांव के कार्यालय के सामने भूख हड़ताल पर जाएंगे. इस अवसर पर राष्ट्रीय दलित पैंथर के महाराष्ट्र प्रदेश सरचिटणीस सिद्धार्थ सोनवणे, जिल्हा सरचिटणीस प्रेमचंद सुरवाडे, जिल्हा सचिव सुभाष जोहरे, तालुका उपाध्यक्ष शरद सुरवाडे और कृषी उत्पन्न बाजार समिती चे उपसभापती अशोक पाटील उपस्थित थे.

Leave a Reply