खुद पर हमले की साजिश: 22 लाख के कर्ज में डूबा कारोबारी अपने ही नौसेखुआ शूटर के हाथों मारा गया, चार आरोपी गिरफ्तार

अपराध, देश, राज्य

सद्दाम हुसैन, लखनऊ, NIT; 

​लखनऊ शहर में भारी कर्ज में डूबे एक कारोबारी को अपने ही ऊपर हमला करवा कर लूटमार की वारदात जाहिर करने की कोशिश भारी पड गयी। नौसेखुआ शूटर की चलाई गई गोली कंधे पर न लग कर सीने में जा लगी जिससे उसकी मौत हो गई। हत्या के आरोप में पुलिस ने चार सुपारी बाजों को गिरफ्तार किया है।

एसएसपी दीपक कुमार ने प्रेस कांफ्रेंस कर मीडिया को बताया कि बीसी के खेल में 22 लाख के कर्ज में डूबे मोबाइल फोन व्यवसायी करन गुप्ता ने खुद पर हमले की साजिश रची थी। विश्वस्त नौकर के जरिये शूटर से कंधे पर गोली मारकर बैग लूटकर भागने की डेढ़ लाख में डील की। उसे पिस्टल खरीदने को 40 हजार रुपये भी दिए। ऐनवक्त नौसिखिया शूटर का निशाना चूकने से गोली सीने में जा लगी और करन खुद की रची साजिश में जान से हाथ धो बैठा। साजिश में शामिल एक युवक के मोबाइल फोन की वायस रिकार्डिंग से खेल उजागर हुआ। पुलिस ने नौकर समेत चार आरोपियों को गिरफ्तार करके आलमबाग इलाके में रविवार देर रात हुए हत्याकांड का खुलासा किया है। 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार ने बताया कि आलमबाग क्षेत्र में रेलवे के कैरिज एंड वैगन वर्कशाप के पास करन गुप्ता (26) की गोली मारकर हत्या के मामले में इलेक्ट्रानिक सर्विलांस व अन्य तरीकों से गहन पड़ताल करके बाजार खाला क्षेत्र के करेहटा ऐशबाग निवासी कल्लू उर्फ प्रियांशु शर्मा, अजय लोधी, मोतीझील कॉलोनी के अभिषेक गौतम और पांडेय का तालाब मालवीयनगर निवासी आशीष भारतीय उर्फ शुभम को गिरफ्तार किया गया है। उनके कब्जे से वारदात में इस्तेमाल 32 बोर की पिस्टल, बाइक, करन गुप्ता का आधार कार्ड, बैग व 8,260 रुपये बरामद किए गए हैं। करन के मोबाइल के कॉल डिटेल के आधार पर आशीष को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो एक के बाद एक राज खुलने लगे। करन से मोबाइल फोन पर वार्तालाप की वायस रिकॉर्डिंग से पूरे मामले का पर्दाफाश हो गया। विश्वस्त नौकर कल्लू ने भांडा फूटते देख सारी कहानी कुबूल ली।

Leave a Reply