दो कांग्रेसी पार्षदों की खींचतान में अटका क्षतिग्रस्त पुलिया का निर्माण कार्य, कमिशन के चक्कर में निर्माण कार्य में रोड़े अटकाने का आरोप

देश, भ्रष्टाचार, राज्य, समाज

मोहम्मद मुज़म्मिल/मो. इस्राइल, जुन्नारदेव/छिंदवाड़ा (मप्र), NIT:

जुन्नारदेव नगर पालिका की अंतरकलह सबके सामने आ गई है। कभी नगर पालिका अध्यक्ष पति का कर्मचारियों से कहा सुनी हो या कभी शासन के वाहन का दुरुपयोग का मामला हो, खरीदी में अनियमितताओं का मामला हो, इसी कड़ी में अब वार्ड नं. 16 में क्षतिग्रस्त पुल को लेकर नगर पालिका में वर्तमान की दो कांग्रेसी पार्षद आपस में ही उलझी हुई हैं।
23 मई 2020 को कांग्रेस की ही वार्ड क्रमांक 16 की पार्षद उर्मिला आम्रवंशी के द्वारा जिला कलेक्टर को लिखित रूप से शिकायत दी गई थी। शिकायत में बताया गया कि वर्तमान परिषद/ अधिकारी के द्वारा नियम विरुद्ध जाकर वार्ड 16 का नाम परिवर्तित कर वार्ड कमांक 12 के नाम से नवीन डीपीआर तैयार की गई है। डीपीआर में वार्ड क्रमांक 16 के स्थान पर वार्ड कमांक 12 का नाम संशोधन का आदेश किया गया, इसकी जांच करते हुये डीपीआर से वार्ड कमांक 16 के स्थान पर वार्ड कमांक 12 में पुलिया निर्माण कार्य में लिप्त अधिकारी पर आवश्यक कार्यवाही करते हुये वर्तमान में चालू कार्य को बंद करवाने की मांग की गई। वार्ड नंबर 12 और 16 मे कांग्रेस से ही निर्वाचित पार्षद हैं और बताया जा रहा है कि पुलिया निर्माण के कमीशन को लेकर खींचतान चल रही है। इससे जनता का भला तो नहीं होगा लेकिन नगर पालिका में चल रही अनियमितताओं और धांधली के खुले खेल के जरूर उजागर होने की संभावना है।
आपसी राजनीति की भेंट चढ रही क्षतिग्रस्त पुलिया इसके पहले भी निर्माण को लेके परेशानी आ चुकी है। पुलिया निर्माण न होने से आवागमन मे परेशानी हो रही है। ग्रामीण क्षेत्र व आसपास के लोगों को पैदल आने जाने के लिए यही एकमात्र रास्ता है। इसके पहले भी जन सहयोग से आस पास की कुछ समाजसेवी महिलाओं द्वारा चंदा इकट्ठा कर क्षतिग्रस्त पुलिया में मुरूम डलवाई थी। वार्ड वासियों द्वारा शिकायत करने के बाद भी आज तक यह क्षतिग्रस्त पुलिया बन नहीं पाई है।

One thought on “दो कांग्रेसी पार्षदों की खींचतान में अटका क्षतिग्रस्त पुलिया का निर्माण कार्य, कमिशन के चक्कर में निर्माण कार्य में रोड़े अटकाने का आरोप

Leave a Reply