कोरोना वायरस के चलते जारी लाॅक डाउन से भोपाल में फंसे हुए हैं लगभग 1800 बिहार के छात्र-छात्राएं

देश, राज्य, समाज

अबरार अहमद खान/मुकीज़ खान, भोपाल (मप्र), NIT:

इस संकट की घड़ी में भोजन एवं अन्य संसाधनों की कमी के कारण छात्र-छात्राओं के समक्ष गंभीर समस्या उत्पन हो गयी है। ऐसे में बिहार युवा कांग्रेस के पूर्व सीवान जिलाध्यक्ष रिजवान अहमद ने भोपाल में फंसे 1800 छात्रों की सूची बनाकर बिहार युवा कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ललन कुमार से वार्ता कर इस मामले में दखल देने की मांग करते हुए मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को जानकारी दी और मदद का आग्रह किया। जिस पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखकर मध्यप्रदेश सरकार के साथ समन्वय बनाकर इन छात्रों को वापस घरों तक भिजवाने में मदद का अनुरोध किया। पत्र में कहा गया है कि “बिहार के लगभग 1800 छात्र-छात्राएं और मजदूर लॉकडाउन के चलते भोपाल में फंसे हुए हैं। इन सभी की सूचीपत्र के साथ आप तक भेज रहा हूं। ये सभी बिहार के विभिन्न जिलों के निवासी हैं और गंभीर परेशानी के चलते बिहार स्थित अपने गांव जाना चाहते हैं।”
पूर्व मुख्यमंत्री ने अपने पत्र में आगे लिखा है, “मेरा आपसे अनुरोध है कि मध्यप्रदेश सरकार से समन्वय स्थापित करके सभी की वापसी सुनिश्चित कराने के लिए आवश्यक कदम उठाने का कष्ट करें। पत्र के साथ सभी 1800 छात्रों के नाम आदि की सूची भी सौंपी गई है।

Leave a Reply