प्रधानमंत्री आवास योजना में फर्जीवाड़ा कर पूर्व सचिव ने हितग्राही के हड़पे 40 हजार रुपये, दोषी पर नहीं हुई कार्यवाही

अपराध, देश, भ्रष्टाचार, राज्य

त्रिवेंद्र जाट, देवरी/सागर (मप्र), NIT:

मध्य प्रदेश के सागर जिले की तहसील देवरी की जनपद पंचायत देवरी के अन्तर्गत आने वाली ग्राम पंचायत सुना पंजरा में एक गरीब आदिवासी हितग्राही के साथ भ्रष्ट्राचार व फर्जीवाड़ा करने का मामला सामने आया है जिसमें शासन द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ ग्रामीण क्षेत्रों में गरीब पात्रता रखने वाले हितग्राहियों को दिया जा रहा है जिससे उनको रहने के लिये पक्का मकान मिल सके मगर शासन की इसी योजना को पंचायतों के कुछ सचिवों द्वारा चूना लगाया जाता है जिसके कारण पात्र हितग्राही योजना से बंचित रह जाते हैं।

ऐसा ही मामला देवरी जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत सुना पंजरा में देखने मिला है जहाँ पर पंचायत के सुना ग्राम के निवासी हितग्राही देवी सिंग पिता कनई आदिवासी की प्रधानमंत्री आवास योजना की 1.35 लाख में से पहली किस्त तो 40 हजार आई मगर दूसरी किस्त के 40 हजार का गोलमाल व फर्जीवाडा पूर्व सचिव रामकुमार शुक्ला द्वारा करके हड़प लिया गया। आवास करीब तीन साल से अधूरा पड़ा हुआ है। हितग्राही की तीसरी किस्त 25 हजार आ चुकी है। हितग्राही के प्रधानमंत्री आवास मै प्रलंत बनाकर दीवार तक बन चुकी है मगर लेंटर व छाप के लिये आज भी आवास अधूरा पड़ा हुआ है और हितग्राही अधिकारियों से करीब तीन साल से गुहार लगाता आ रहा है मगर आज तक उसको न तो पूर्व सचिव रामकुमार शुक्ला द्वारा फर्जी तरीके से हड़पे गये 40 हजार मिले न ही सचिव पर कोई कड़ी कार्यवाही की गई, आज भी आवास अधूरा बना पड़ा हुआ है। हितग्राही ने बताया कि सचिव का अब ट्रान्सफर भी कहीं बाहर हो गया है मगर मुझे आज भी न्याय नहीं मिला है।

Leave a Reply