निम्बोला स्थित टेक्सटाइल्स क्लस्टर को कैबिनेट से मंज़ूरी मिलने पर पूर्व कैबिनेट मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनीस दीदी ने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान सहित कैबिनेट का माना आभार

देश, राज्य

मेहलक़ा इक़बाल अंसारी, बुरहानपुर (मप्र), NIT:

प्रदेश भाजपा प्रवक्ता एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस (दीदी) के सतत प्रयासों के परिणामस्वरूप शिवराज कैबिनेट द्वारा बुरहानपुर में निम्बोला स्थित फेयरडील कोऑपरेटिव सोसाइटी अंतर्गत टेक्सटाइल्स क्लस्टर की स्थापना के लिए मंज़ूरी प्रदान करने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, विभागीय मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा एवं मध्य प्रदेश की कैबिनेट समस्त सदस्यों का आभार माना है। इस स्वीकृति पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए प्रदेश भाजपा प्रवक्ता एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनीस दीदी ने कहा कि यह अपने आप में रोजगार की दृष्टि से एक बड़ा महत्वपूर्ण कदम होगा। इससे लगभग 4 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा। कैबिनेट द्वारा आज 19.85 करोड़ रुपए प्रथम दृष्ट्या सहमति दी गई है।
श्रीमती अर्चना चिटनिस ने कहा कि बुरहानपुर के समग्र आद्योगिक विकास के लिए हम सतत प्रयत्नशील है, उसी परिपेक्ष्य में आज बुरहानपुर के निम्बोला के फेयरडील कोऑपरेटिव सोसायटी अंतर्गत संचालित टेक्सटाइल्स क्लस्टर को मध्यप्रदेश शासन द्वारा कैबिनेट में मंजूरी प्रदान की गई है। निश्चित रूप से प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की मंशानुरूप एवं मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान के नेतृत्व में आत्मनिर्भर बुरहानपुर बनाने के संकल्प को हम पूरा करेंगे। बुरहानपुर को टेक्सटाइल हब बनाने का हमारा संकल्प था जिसे इस स्वीकृति के बाद और गति मिलेगी तथा परोक्ष एवं अपरोक्ष रूप से क्षेत्रवासियों के लिए रोजगार का सृजन होगा। इसके लिए सांसद श्री ज्ञानेश्वर पाटिल भी समय-समय पर पत्राचार करते रहे और मुख्यमंत्री एवं विभागीय मंत्री जी लगातार संपर्क रहा। पूर्व मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस ने बताया कि निम्बोला टेक्सटाइल्स क्लस्टर से बुरहानपुर में करीब 220 करोड़ रूपए के संभावित निवेश के लिए पूर्ण सहयोग दिया जाएगा। इस क्लस्टर में 105 इकाइयों की स्थापना प्रस्तावित है। अधो-संरचनात्मक विकास के लिए भी लगभग 19.85 करोड़ रूपए की राशि व्यय प्रस्तावित है। क्लस्टर में टेक्सटाइल इकाइयों को विकास के लिए ब्याज अनुदान सुविधा एवं अन्य आवश्यक रियायतें देने पर भी विचार किया जा रहा हैै।
उल्लेखनीय है कि गत दिनों भोपाल में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम विभाग (एमएसएमई) द्वारा टेक्सटाइल्स फेयरडील बुरहानपुर क्लस्टर, सुखपुरी बुरहानपुर टेक्सटाइल क्लस्टर के प्रजेंटेशन हुआ था। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह जी चौहान ने कहा था कि प्रदेश में क्लस्टर आधारित विशेष औद्योगिक इकाइयों की स्थापना से जरूरतमंद लोगों को रोजगार देने का कार्य होगा। इस नाते प्राप्त ठोस प्रस्तावों को प्राथमिकता से क्रियान्वित किया जाएगा। निवेश और रोजगार राज्य सरकार की प्राथमिकता है। क्लस्टर्स में औद्योगिक इकाइयों की स्थापना और विकास के लिए नीतियों और प्रावधानों के तहत आवश्यक सहायता दी जाएगी। श्रीमती चिटनिस ने कहा कि अतिशीघ्र ही रेहटा-खड़कोद औद्योगिक परिसर, सुखपुरी टेक्सटाइल्स क्लस्टर को भी कैबिनेट से मंजूरी मिलेगी।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने बुरहानपुर आकर दी थी सौगातें

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह ने बुरहानपुर प्रवास के रेहटा-खड़कोद औद्योगिक परिसर, सुखपुरी टेक्सटाइल्स क्लस्टर एवं निम्बोला फेयर डील क्लस्टर के अधोसंरचना विकास हेतु जिले को बड़ी सौगातें दी थी। रेहटा-खड़कोद औद्योगिक परिसर में औद्योगिक प्लांट के लिए 30 प्रतिशत की रियायत एवं रेहटा-खड़कोद औद्योगिक परिसर एवं सुखपुरी टेक्सटाइल क्लस्टर में लगने वाले नए उद्योग हेतु 5 प्रतिशत ब्याज सब्सिडी दिए जाने के साथ ही सुखपुरी टेक्सटाईल क्लस्टर में नए औद्योगिक विकास के लिए एसपीवी के माध्यम से 20 करोड़ का अनुदान की सौगात प्रदान की थी।

फेयर डील क्लस्टर में करीब 200 करोड़ का होगा निवेश

पूर्व मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस ने बताया कि निम्बोला स्थित टेक्सटाइल औद्योगिक नगर स्थापित करने में गत 17-18 वर्षों से प्रयासरत है। फेयर डील क्लस्टर के अधोसंरचना विकास हेतु 57 एकड़ भूमि में 127 प्लॉट टेक्सटाइल उद्योग हेतु आवंटित किए गए हैं। इसके अधोसंरचना विकास हेतु मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान व सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा की उपस्थिति में अधिकारियों की बैठकें होती रही है। समय-समय पर इस क्लस्टर में अनेक कठिनाईयां आई लेकिन इसे मूर्तरुप देने के लिए संबंधित अधिकारियों को दिशा-निर्देश प्रदान किए गए। अब सभी परेशानियों को दूर कर इसे अंतिम रूप दिया जा रहा है।

टेक्सटाइल के क्षेत्र में बुरहानपुर का नाम और आगे बढ़़ेगा

पूर्व मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस ने कहा उक्त क्लस्टरों के मूर्तरुप में आने से टेक्सटाइल के क्षेत्र में बुरहानपुर का नाम और आगे बढ़़ेगा। औद्योगिक नगर में नई तकनीकों की इकाईयां स्थापित होंगी तो युवाओं के लिए रोजगार का सृजन होगा। आज के समय में युवाओं के पास नौकरी, स्वरोजगार और आय के साधन हैं तो यह देश की अर्थ व्यवस्था की दृष्टि से शुभ संकेत है।

पूर्व मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस के नेतृत्व में मुख्यमंत्री व विभागीय मंत्री से हुई बैठकें

पूर्व मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस के नेतृत्व में सुखपुरी टेक्सटाईल क्लस्टर, फेयर डील एक्सपोर्ट कोऑपरेटिव सोसायटी एवं लघु उद्योग भारती के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान एवं प्रदेश के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा से मुलाकात कर जिले के रेहटा-खड़कोद औद्योगिक परिसर, सुखपुरी टेक्सटाइल क्लस्टर एवं फेयर डील क्लस्टर के अधोसंरचना विकास के लिए संबंधित अधिकारियों के मध्य बैठकें होती रही है। उक्त क्लस्टरों के विकास में आ रही कठिनाईयों को दूर कर इन्हें मूर्तरूप की स्थिति में लाया गया है।
उद्योगपति प्रदीप केडि़या, प्रदीप तोदी, कृष्णा कन्हैया मित्तल, धनेंद्र पुरोहित एवं निखिल गुप्ता ने बताया कि बुरहानपुर जिले के सुखपुरी टेक्सटाइल क्लस्टर, रेहटा-खड़कोद औद्योगिक परिसर एवं निम्बोला फेयर डील क्लस्टर के रूप नए औद्योगिक नगर विकसित होने जा रहे है। इसके अधोसंरचनाओं के विकास हेतु पूर्व मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस (दीदी) का बड़ा ही सक्रिय योगदान रहा है। वहीं सांसद श्री ज्ञानेश्वर पाटिल जी का भी सहयोग रहा है। वह इन क्लस्टरों के विकास में आ रही सभी बाधाएं दूर करने तथा इसके विकास हेतु लगातार प्रयत्नशील रही है।

Leave a Reply