पेट्रोल पम्प संचालक की दिन-दहाड़े हत्या कर करीब 500000 रुपये लूट कर भाग रहे चार आरोपियों को नागौर पुलिस ने किया गिरफ्तार

अपराध, देश, राज्य

अशफाक़ कायमखानी, जयपुर (राजस्थान), NIT:

नागौर जिले की थाना रोल पुलिस ने सोमवार को नाकाबंदी के दौरान एक इनोवा गाड़ी से जयपुर में एक पेट्रोल पम्प संचालक की हत्या कर करीब 500000 रुपये लूट कर भाग रहे चार आरोपितों हनवन्त नगर थाना करधनी निवासी चेतन पुत्र भैरव सिह (18), लुणसरा थाना कुचेरा नागौर निवासी गौतम सिह पुत्र प्रभु सिह (23), जिला इटावा उत्तर प्रदेश निवासी अभय सिह (24) व शाहजहां पुर जिला अलवर हाल निवारु रोड झोटवाडा निवासी चालक पवन यादव पुत्र जसवंत सिह (23) को हिरासत में लेकर ईनोवा गाड़ी जब्त कर ली है।

एसपी श्वेता धनकड़ ने बताया कि पुलिस को इनोवा में रखे दो थैलों से 2.47 लाख व गौतम सिह के पास 20 हजार, चेतन के पास 10 हजार व अभय सिंह के पास 9 हजार कुल 2.86 लाख रुपये मिले हैं। घटना में शामिल अन्य अभियुक्तों के बारे में आरोपितों से पूछताछ की जा रही है।
जयपुर में दिनदहाड़े हत्या व लूट की वारदात के बाद हत्यारों की गिरफ्तारी के लिये जयपुर व आस-पास के तमाम जिलों में पुलिस द्वारा नाकाबन्दी की गई थी। इसी क्रम में नागौर एसपी श्वेता धनकड़ के निर्देश पर एएसपी राजेश मीणा व सीओ जायल हजारी राम चौहान के सुपरविजन में थानाधिकारी गणेश मीणा अपनी टीम के साथ थाना रोल के सामने नाकाबंदी कर रहे थे। इसी दौरान एक ईनोवा को रोक चेक किया तो उसमें कुल चार व्यक्ति बैठे थे।
थानाधिकारी के नाम पता पूछने पर बार-बार अलग-अलग नाम बताने पर थाने ले जाकर गहनता से पूछताछ की तो उन्होंने जयपुर के विश्कर्मा इलाके में पेट्रोल पम्प संचालक निखिल गुप्ता की हत्या करना स्वीकार किया। उन्होंने बताया कि सोमवार सुबह करीब 10-11 बजे के बीच गौतम, अभय, आईदान, भगवान सिह व चेतन दो बाइक से जयपुर में विश्वकर्मा रोड नं 09 पर गये। वहां निखिल गुप्ता अपनी कार से AU बैंक में पैसे जमा करवाने के लिये आया। गाड़ी से नीचे उतरते ही गौतम ने देसी कट्टे से उसके सीने पर फायर किया जिससे वो नीचे गिर गया। उसी समय आईदान पीड़ित की कार से पैसों से भरा बैग लेकर आ गया और वे वहां से मोटरसाइकिलों से भाग गये।
एसपी धनकड़ ने बताया कि घटना स्थल से भाग कर आरोपित गोकुलपुरा की तरफ गये, जहां एक सुनसान जगह पर उन्होंने पैसों का बंटवारा किया। गौतम, अभय सिंह व चेतन जयपुर से इनोवा गाडी किराये पर लेकर गौतम सिंह के गांव लुणसरा थाना कुचेरा गये। वहां पर पीपी चौधरी उर्फ धर्मेन्द्र को एक लाख रुपये व एक देसी कट्टा देकर वापिस नागौर से डीडवाना की तरफ जा रहे थे कि नाकाबंदी में थाना रोल पुलिस के हत्थे चढ़ गए।

Leave a Reply