कलेक्टर ने ग्रामीण क्षेत्र के विद्यालयों एवं आंगनवाड़ी केन्द्रों का किया निरीक्षण, 7 शिक्षक निलंबित, तीन की वेतन वृद्धि रोकी, एक अतिथि शिक्षक की सेवा समाप्ति के दिए निर्देश

देश, राज्य, शिक्षा

पवन परूथी/गुलशन परूथी, ग्वालियर (मप्र), NIT:

कलेक्टर श्री अनुराग चौधरी ने सोमवार को जिले के मुरार एवं डबरा जनपद पंचायतों के तहत ग्रामीण अंचल में संचालित विद्यालयों एवं आंगनवाड़ी केन्द्रों का जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री शिवम वर्मा एवं अन्य अधिकारियों के साथ निरीक्षण किया। कलेक्टर ने निरीक्षण के दौरान विद्यालयों में 6 शिक्षक अनुपस्थित पाए जाने पर और एक शिक्षक द्वारा सामान्य जानकारी पूछने पर सही जवाब न देने के कारण निलंबन की कार्रवाई की। जबकि अपने कार्य के प्रति गंभीर न होने वाले तीन शिक्षकों की दो-दो वेतन वृद्धि रोकने और एक अतिथि शिक्षक की सेवाएं समाप्त करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर श्री अनुराग चौधरी ने ग्रामीण क्षेत्रों के भ्रमण के दौरान जनपद पंचायत डबरा के ग्राम गिजौर्रा में प्रसूति योजना के तहत दो हितग्राहियों को योजना का लाभ न मिलने पर सचिव को निलंबित करने एवं जतारा में मिनी आंगनवाड़ी केन्द्र की कार्यकर्ता के अनुपस्थित रहने पर निलंबन की कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए।

कलेक्टर श्री अनुराग चौधरी ने मुरार जनपद पंचायत के शासकीय माध्यमिक विद्यालय टाकोली के निरीक्षण के दौरान विद्यालय में पदस्थ पांच शिक्षकों में प्राथमिक शिक्षक श्री विष्णुदत्त शर्मा, सहायक शिक्षक श्रीमती कल्पना गौतम, सहायक शिक्षक श्रीमती संध्या शर्मा, सहायक शिक्षक निधि गौड़ के बिना सूचना के अनुपस्थित पाए जाने पर तत्काल निलंबन की कार्रवाई करने के संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए। कलेक्टर ने भ्रमण के दौरान बच्चों को अध्यापन कक्षों के बाहर खुले मैदान में पढ़ाए जाने पर शिक्षकों के प्रति नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देश दिए कि भविष्य में बच्चों को अध्यापन कक्षों में ही पढ़ायें। उन्होंने शाला प्रांगण टाकोली में हैण्डपम्प का व्यर्थ में बह रहे पानी को रोकने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने शासकीय प्राथमिक विद्यालय सिंहपुर के अवलोकन के दौरान 8 बच्चे उपस्थित मिलने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए विद्यालय के शिक्षक श्री मदन सिंह के अनुपस्थित पाए जाने पर निलंबन की कार्रवाई करने और अतिथि शिक्षक श्री प्रदीप शर्मा की सेवा समाप्त करने तथा संकुल प्राचार्य डबका को नोटिस देने के भी निर्देश दिए। शासकीय माध्यमिक विद्यालय गिजोरी डबरा के शिक्षक श्री प्रदीप मिश्रा की दो वेतन वृद्धि रोकने के नोटिस देने के निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने कक्षा-6वीं के छात्र अभिषेक से गणित के सवाल तथा अंग्रेजी एवं हिंदी में नाम लिखने और 13 का पहाड़ा सही सुनाने पर सराहना की। उन्होंने आंगनवाड़ी केन्द्र गिजौर्रा के निरीक्षण के दौरान श्रीमती उमा पत्नी सुनील को एवं श्रीमती सुमन को प्रसूति सहायता योजना का लाभ न मिलने पर पंचायत सचिव को निलंबित करने के निर्देश दिए। आंगनबाड़ी केन्द्र में आने वाले बच्चों को नाश्ता एमडीएम समूह द्वारा न देने पर समूह को पृथक करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर श्री चौधरी ने शासकीय माध्यमिक विद्यालय चकउबरासी के निरीक्षण के दौरान छात्र-छात्राएं गणवेश न पहनने और अध्ययन कक्षों के बाहर अध्ययन करते पाए जाने पर शिक्षक श्री सुरेन्द्र राम भगत, शिक्षक श्री प्रीतम सिंह कुशवाह की दो-दो वेतन वृद्धि रोकने एवं बिना सूचना के अनुपस्थित रहने पर शिक्षिका श्रीमती रेखा नरवरिया को निलंबिन करने के निर्देश दिए। उन्होंने जतारा मिनी आंगनवाड़ी केन्द्र की कार्यकर्ता श्रीमती रेखा जाटव के अनुपस्थित पाए जाने पर कार्रवाई करने और शासकीय माध्यमिक विद्यालय इकहरा डबरा के शिक्षक राजकिशोर धाकड़ द्वारा सामाजिक विज्ञान से संबंधित सामान्य जानकारी के प्रश्नों के सही जवाब न देने पर तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के निर्देश दिए। उन्होंने शासकीय माध्यमिक विद्यालय लखनौती का निरीक्षण कर बच्चों से हिंदी एवं संस्कृत भाषा के अध्ययन के संबंध में शिक्षिका से जानकारी ली और आंगनवाड़ी केन्द्र प्रांगण में सहजने के पौधे लगाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने शासकीय हाईस्कूल भगेह का निरीक्षण कर मध्यान्ह भोजन एवं रसोई घर तथा भण्डार कक्ष का भी अवलोकन किया।

Leave a Reply