सीमा संबंधी समस्याओं को लेकर नेपाल के धनगढ़ी में नेपाल-भारत पत्रकार संघ की हुई बैठक

दुनिया, देश

वी.के.त्रिवेदी, ब्यूरो चीफ, लखीमपुर-खीरी (यूपी), NIT:

भारत-नेपाल की सीमा समस्याओं को लेकर सोमवार को नेपाल के धनगढ़ी में नेपाल-भारत पत्रकार संघ की बैठक आयोजित की गई। बैठक में भाग लेने पहुंचे भारतीय पत्रकारों के दल को भारत-नेपाल की गौरीफंटा सीमा पर नेपाल के पत्रकारों ने माला पहनाकर जोरदार स्वागत किया। जिसके बाद नेपाल के धनगडी चटकपुर स्थित होटल फ़्लोरा में नेपाल-भारत पत्रकार संघ की बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें प्रदेश सरकार की वन एवं पर्यटन मंत्री माया भट्ट ने माँ सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। बैठक में दोनों देशों के पत्रकारों ने मंत्री माया भट्ट के समक्ष दोनों देशों के पर्यटकों को होने वाली समस्याओं को लेकर चर्चा की। बैठक में पर्यटन मंत्री ने मौजूद पत्रकारों व अधिकारियों को सम्बोधित करते हुये कहा कि नेपाल आने वाले सभी पर्यटकों को किसी भी प्रकार की असुविधा नहीं होने दी जायेगी, उनका हर तरीके से ध्यान रखा जायेगा। उन्होंने नेपाली पर्यटन स्थलों के नाम लेते हुये वहां की सुन्दरता व सुविधाओं के बारे मे बताया। जिसके बाद भारतीय व नेपाली पत्रकारों के दल ने मुख्यमंत्री कार्यालय पर जाकर मुख्यमंत्री त्रिलोचन भट्ट से मुलाकत कर कई मुद्दों पर चर्चा की। जिसमें भारत नेपाल पत्रकार संघ के कोषाध्यक्ष राहुल गुप्ता ने मुख्यमंत्री से नेपाली पर्यटन स्थल डडे्यलधुरा तक सुविधा बनाने व भारतीय वाहनों से अवैध बसूली बंद कराने के लिए कहा। जिस पर उन्होंने इस बारे में जल्द ही कार्यवाही किये जाने की बात की है। प्रदेश सरकार की वन एवं पर्यटन मंत्री माया भट्ट ने सभी पत्रकारों को नेपाली टोपी व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।

इस दौरन धनगड़ी के डीएम यज्ञराज बोहरा, भारतीय पत्रकारों के दल में वरिष्ठ पत्रकार रामचन्द्र शुक्ल, महेश भदौरिया, बाबी गुप्ता, जय कुमार गुप्ता, अभिषेक वर्मा, मनोज शर्मा, दिनेश वर्मा, नवीन गुप्ता, निर्जेश मिश्रा, सुमित गुप्ता, प्रशांत मिश्रा, अमन गुप्ता व शिशिर शुक्ला व नेपाली पत्रकार दल के अध्यक्ष दिल बहादुर छत्याल, महामंत्री शिवराज भट्ट, निवर्तमान अध्यक्ष हिकमत रावल, हरीश, हेमन्त पुण्डेल, लोकेन्द्र बिष्ठ, उम्मेद, अनीता, रमा भट्टारई सहित अन्य तमाम पत्रकार व अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply