जलगांव में दिखी सद्भावना की मिसाल, घायल हिंदू व्यक्ति को मुसलमानों ने अस्पताल में कराया भर्ती

अपराध, देश, राज्य

जुनैद काकर, धुले/जलगांव (महाराष्ट्र), NIT,

पत्रकार के अथक प्रयासों से घायल व्यक्ति को जीवनदान मिला है, पत्रकार के इस प्रयास की जलगांव शहर से जिले में सराहना की जा रही है। शहर के शिवाजीनगर इलाके में एक व्यक्ति घायल अवस्था में रेलवे ट्रैक पर पड़ा हुआ था और इसी समय एक्सप्रेस का आने का समय हो गया था।कोई भी घायल मूर्छित व्यक्ति को ट्रक से हटाने को तैयार नहीं था इसकी जानकारी पत्रकार जकी अहमद को मिली उन्होंने तत्काल जान पर खेलकर घायल व्यक्ति को ट्रैक मैन की सहायता से जिला अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया है।

जानकारी के अनुसार मामूराबाद स्थित श्मशान भूमि के पास मामूराबाद से जलगांव भुसावल रेलवे ट्रैक गुजरा है इस ट्रैक पर एक व्यक्ति घायल हालत में पड़ा था।कोई भी उसे छूने को तैयार नहीं था। उस समय वहां से गुजर रहे एक पत्रकार ने ट्रैकमैन और नागरिकों की मदद से उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया। वहां तुरंत उसका इलाज किया गया। उनकी स्थिति अभी भी गंभीर है।

संप्रदायिक तनाव के बाद भी जिले में अभी भी सद्भावना बरकरार हैं। मुस्लिम पत्रकार के साथ ही अन्य लोगों ने इस को जिंदा रखते हुए एक हिन्दू व्यक्ति की जान बचाने प्रयास किया है।

शुक्रवार को दोपहर 3.30 बजे, पत्रकार जकी अहमद को फोन आया कि पटरी पर कोई घयाल hokr पड़ा है शायद रेल में कटा है. समाचार संकलन करने जकी मौके वारदात पर पहुंचे तो देखा कि रेलवे पटरियों पर एक युवक को घायल पड़ा देखा। साथ ही वहां से नागरिक उसे देखने के लिए आ रहे थे। लेकिन कोई भी उसे छूने को तैयार नहीं था। 108 एंबुलेंस बुलाने फोन किया गया 15 मिनट तक इंतजार करने के बाद भी एंबुलेंस नहीं आई। उसी समय आरपीएफ इंस्पेक्टर सीएस पटेल, सैयद रेहान और क्षेत्र के परिचितों को बुलाया गया और ट्रेकमेन समशेर अली, नवाज अली, अरबाज खान, शोएब अली, जुबैर शेख, रिक्शा चालक तुषार ठाकरे की। मदद से रिक्शा से जकी अहमद ने उसे जिला सामान्य अस्पताल ले जाया गया.डॉ. दीपक जाधव, डॉ. उमेश जाधव ने तत्काल ऑक्शन लगाकर उसका इलाज शुरू किया। चिकित्सकों ने उसकी हालत गंभीर बताई है। घायल की पहचान संतोष कोली के रूप में हुई .

घटना की जानकारी मिलते ही जीआरपी के चीफ कांस्टेबल रवींद्र ठाकुर और पुलिस कांस्टेबल स्वप्निल महाले जिला अस्पताल पहुंचे।उन्होंने पत्रकार जकी अहमद ट्रैकमैन समशेर अली को बधाई दी और समय पर युवाओं का इलाज करने के लिए उन्हें धन्यवाद दिया। मामले की अगली तफ्तीश जीआरपी पुलिस कर रही है।

Leave a Reply