आम आदमी पार्टी सिवनी के जिला अध्यक्ष दुर्गेश विश्वकर्मा ने कोरोना संकट पर प्रशासन को सौंपा दस सूत्रीय सुझाव पत्र

देश, राज्य, समाज, स्वास्थ्य

पीयूष मिश्रा, ब्यूरो चीफ, सिवनी (मप्र), NIT:

आम आदमी पार्टी सिवनी के जिला अध्यक्ष अधिवक्ता श्री दुर्गेश विश्वकर्मा ने जिले में बढ़ रहे कोरोना पर चिंता व्यक्त करते हुए आज सिवनी जिला प्रशासन को अपनी और से दस सूत्री सुझाव पत्र सौंपा। “आप” की ओर से जिला मीडिया प्रभारी राजेश पटेल द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि इस मांग पत्र में सिवनी जिले में दिन प्रतिदिन बढ़ते कोरोना मामले की तुलना में जिला अस्पाताल में व्यवस्थाओं की कमी को सहज बनाया जाए,कोविड19 की एडवाइजरी को सख्ती से पालन के साथ भीड़ भाड़ वाले इलाकों को सेनेटराइज किया जाए। होमकोरेन्टीन वाले आदेशित व्यक्तियों पर व कंटेंट मेन्ट जॉन पर सख्ती से पालन हो व ऐसा नही होने पर कठोर कार्यवाही की जाए।
अन्य प्रदेशों व महानगरों से आने वाले हर एक व्यक्ति का कोरोना टेस्ट के साथ होम कोरेन्टीन सख्ती के साथ किया जाए।
कोरोना टेस्ट की प्रतिदिन के हिसाब से संख्या बढ़ाई जाए। व कोरोना जाँच रिपोर्ट का समय कम अतिशीघ्रता से किया जाए।

अस्थायी अस्पाताल की मांग, कोरोना मरीजों की बढ़ती
संख्या को देखते हुए बेड की संख्या बढ़ाई जाए व उनके लिए अन्य स्थान पर अस्थायी हॉस्पिटल की व्यवस्था की जाए।
आक्सीजन सिलेंडरों की संख्या के साथ ही वेंटीलेटर भी बढ़ाए जाएं ताकि मरीजों को रिफर करने के बजाये उनका सिवनी में ही सफलता पूर्वक इलाज हो सके।
जिन मरीजों में साधारण सिम्टम्स हो राज्य सरकार के दिशा निर्देशानुसार होम कोरेन्टीन की व्यवस्था की जाए तथा उन्हें अंडर ऑब्जर्वेशन रखा जाए ताकि अस्पाताल में गम्भीर मरीजों को सही व्यवस्था के साथ इलाज हो सके।
अधिकांश सार्वजनिक उपक्रम जो चालू हो चुके हैं उनमें कोविड 19 का सख्ती से पालन नहीं हो रहा जिस पर ध्यान दिया जाए व सख्ती से पालन करवाया जाए।
कोरोना के कारण अन्य बीमारियों के इलाज पर कोरोना योद्धा डॉक्टरों को बेहतर इलाज उपलब्ध करने निर्देशित करने की मांग के साथ व्यवस्था संबंधी सुझाव जिला प्रशासन को दिए हैं।

जिला मीडिया प्रभारी राजेश पटेल ने कहा जिला प्रशासन को अब एक साफ और कारगर नीति बनाने की आवश्यकता है एवं एक जिम्मेदार राजनीतिक दल होने के नाते जनता की तकलीफ दूर करने के लिए जो भी बन सकेगा वो आम आदमी पार्टी करने के लिए कृतसंकल्प है एवम आशा है कि यह सुझाव जिला प्रशासन के कुछ काम आ सके। आम जन से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के साथ ही बगैर काम के अकारण ही घर से नहीं निकलने, मास्क लगाने की अपील की है।

Leave a Reply