कर्जमाफी से लेकर 5वीं-6ठीं अनुसूची पर आदिवासियों से धोखा: कुलस्ते

देश, राजनीति, राज्य

पंकज शर्मा, ब्यूरो चीफ, धार (मप्र), NIT:

अनुसूचित जनजाति मोर्चा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा विकास चाहिए तो मोदी सरकार के लिए वोट करें।
साढ़े चार माह पहले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के नेताओं ने कर्जमाफी के झूठे वादे पर जनजातिय क्षेत्रों से जीत हासिल करके अल्पमत की सरकार बना ली है। सरकार बनने के बाद कर्जमाफी नहीं की गई है। घोषणा पत्र में आदिवासियों के लिए 5वीं और 6ठीं अनुसूची लागू करने के वादे पर भी कोई काम नहीं किया गया है। केन्द्र की मोदी सरकार ने शिक्षा, स्वास्थ्य सहित कई क्षेत्रों में लोगों को लाभान्वित करने के लिए योजनाएं चलाई हैं। आयुष्मान योजना सबके सामने हैं। यह बात अनुसूचित जनजाति मोर्चा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद रहे फग्गनसिंह कुलस्ते ने कही। श्री कुलस्ते मंगलवार को धार के जिला भाजपा कार्यालय में पत्रकारों से मुखातिब हुए। उनके साथ संभागीय सह मीडिया प्रभारी ज्ञानेन्द्र त्रिपाठी, लोकसभा कार्यालय प्रभारी श्याम नायक, सह मीडिया प्रभारी रितेश अग्निहोत्री भी मौजूद रहे।

जनजातिय महापुरुषों को पटल पर लाएं
श्री कुलस्ते ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा ने जनजातिय महापुरुष बिरसा मुंडा, टंट्या मामा, रानी दुर्गावति जैसे अनेकों लोगों के बलिदान और उनके महत्व को सार्वजनिक पटल पर प्रस्तुत किया। जनजातिय गौरव को सबके समक्ष स्थापित किया है। पलायन आदिवासी क्षेत्रों की एक बड़ी समस्या है। इसका मुख्य कारण आदिवासियों के पास सीमित जमीन होने के कारण रहा है। वनाधिकार पट्टे सहित अनेकों योजनाओं के माध्यम से आदिवासियों के हक की आवाज को प्रदेश की भाजपा सरकार ने बुलंद किया है। अगले पांच वर्ष में केन्द्र की मोदी सरकार आदिवासियों के पलायन, शिक्षा सहित सशक्तिकरण के लिए योजना पर काम करेगी। इसको लेकर पहले से ही प्रधानमंत्री के साथ विमर्श चल रहा है।

विकास के लिए भाजपा
श्री कुलस्ते ने कहा कि देश के विकास और सुरक्षा के लिए नरेन्द्र मोदी जैसे सशक्त प्रधानमंत्री की आवश्यकता है। कांग्रेस के पास सिर्फ झूठ है। वह वरगलाने के अलावा कोई काम नहीं करती है। पिछले 15 सालों में प्रदेश की भाजपा सरकार ने जनजातिय क्षेत्रों में सड़क, पानी, बिजली जैसी महत्वपूर्ण आवश्यकताओं की पूर्ति की है। विकास की पहली परिभाषा भाजपा ने सार्थक की है।

Leave a Reply