सरकार और प्रशासन महिलाओं को रोजगार देने के नाम पर कर रही दिखावा, महिला समूहों को दिए खरीदी केंद्रों को चलाते दिख रहे हैं दलाल व नेता, किसानों से कर रहे हैं भारी लुटाई: हर्ष यादव

देश, भ्रष्टाचार, राज्य, समाज

राकेश यादव/त्रिवेंद्र जाट, देवरी/सागर (मप्र), NIT:

मध्य प्रदेश सरकार जिस प्रकार से महिला समूहों के नाम पर महिला वर्ग को रोजगार देने की बात कर रही है व उनको रोजगार देने हेतु खरीदी केंद्र भी दिए गए हैं जिससे उनकी आर्थिक व्यवस्था सुधारी जा सकें लेकिन जमीनी स्तर पर कुछ और देखने मिल रहा है. जहां सरकार की योजना पर पानी फिरता नजर आ रहा है. ऐसे ही देवरी क्षेत्र में करीब 35 खरीदी केंद्र स्थापित किया गए हैं जिनमें महिला समूह महिला केंद्र करीब 16 हैं मगर महिला समूह केंद्रों पर महिलाएं नदारद दिखाई दे रही हैं उनके स्थानों पर कई नेता व कई दलाल केंद्र चलाते नजर आ रहे हैं. महिलाओं को रोजगार देना सिर्फ दिखावा नजर आ रहा है. इन केंद्रों पर देखा जा रहा है कि शासन के नियम विरुद्ध किसानों से अच्छी खासी वसूली करते नजर आ रहे हैं व शासन अनुसार सुविधाएं ना देकर कोराना नियमों की खुलेआम धज्जियां उड़ाते नजर आ रहे हैं और प्रशासन चुप्पी साध कर नजरअंदाज कर रहा है जिसके कारण किसानों की सरकार और प्रशासन के खिलाफ आक्रोश दिखाई दे रहा है.

सरकार ने महिला समूहों को जो खरीदी केन्द्र दिये है वो सभी केन्द्र समूह की महिलायें नहीं चला रही हैं बल्कि वो तो दलाल व नेता चलाते नजर आ रहे हैं और महिला समूहों का नाम बस है. जिन समूहों के नाम पर दलाल सक्रिय होकर समूह चलाकर भ्रष्टाचार करते नजर आ रहे हैं और किसानों से भारी लुटाई कर रहे हैं और शासन ने जो किसानों को सुविधायें देने के निर्देश जारी किये हैं वो सुविधायें कहीं भी नजर नहीं आ रही है साथ ही कोरोना नियमों का भी खुलेआम उल्लघंन हो रहा है मगर जिला प्रशासन व देवरी प्रशासन चुप्पी साध के बैठा हुआ है जिसको लेकर मैंने कार्यवाही के लिये मुख्यमंत्री व कलेक्टर को पत्र लिखा है: हर्ष यादव, विधायक देवरी.

Leave a Reply