ग्वालियर में आक्रोशित गुर्जर समुदाय के युवाओं ने किया सड़क जाम, पुलिस की गाड़ी भी तोड़ी | New India Times

पवन परुथी/गुलशन परुथी, ग्वालियर (मप्र), NIT:

ग्वालियर में आक्रोशित गुर्जर समुदाय के युवाओं ने किया सड़क जाम, पुलिस की गाड़ी भी तोड़ी | New India Times

ग्वालियर के फूलबाग मैदान पर गुर्जर महाकुंभ का आयोजन किया गया था जिसमें करीब 8 से 10 राज्यों से गुर्जर समुदाय के लोग आए हैं। पहले तो घोषणा की गई थी कि मंच से आमसभा होगी फिर सभी रैली के रूप में जाकर कलेक्टर को ज्ञापन देंगे लेकिन सोमवार दोपहर 2 बजे अचानक गुर्जर समाज के युवा आक्रोशित हो गए। एक भी अधिकारी के फूलबाग पर बात करने नहीं आने से नाराज होकर चौराहा पर जाम लगा दिया। इसी समय ड्यूटी पर तैनात सिरोल थाना की बोलेरो में सवार पुलिस कर्मियों ने उन्हें रोकना चाहा तो थाना की गाड़ी पर युवाओं ने हमला कर दिया और गाड़ी का कांच तोड़ दिया। इसके बाद सीएसपी नागेन्द्र सिंह मौके पर पहुंचे और आक्रोशित युवाओं को समझाया। इस घटना के बाद वहां फोर्स बढ़ा दिया है और तनाव का माहौल है।

ग्वालियर में आक्रोशित गुर्जर समुदाय के युवाओं ने किया सड़क जाम, पुलिस की गाड़ी भी तोड़ी | New India Times


ग्वालियर में गुर्जर समाज विधानसभा चुनाव से पहले अपना शक्ति प्रदर्शन करने जा रहा है। गुर्जर महा पंचायत के बैनर तले गुर्जर समुदाय फूलबाग मैदान पर गुर्जर महाकुंभ का आयोजन किया गया है। सोमवार को गुर्जर महाकुंभ में आठ से दस राज्यों के गुर्जर समुदाय के लोग एकत्रित हुए हैं। गुर्जर महाकुंभ के मंच से गुर्जर समुदाय भाजपा-कांग्रेस सहित अन्य राजनीतिक दलों को चेतावनी दे रहा है कि प्रदेश में गुर्जर समुदाय की जनसंख्या को ध्यान में रखते हुए गुर्जर नेताओं को टिकट दिए जाए अन्यथा गुर्जर समाज उनके खिलाफ प्रचार करेगा। ग्वालियर-चंबल अंचल की कई विधानसभा सीट ऐसी हैं जहां गुर्जर वोट बैंक हार जीत में काफी निर्णायक होता है।

ग्वालियर में आक्रोशित गुर्जर समुदाय के युवाओं ने किया सड़क जाम, पुलिस की गाड़ी भी तोड़ी | New India Times

गुर्जर महाकुंभ के संयोजक दिनेश कंसाना निवासी ओहदपुर ने बताया कि 7 अगस्त को सातऊं गांव स्थित शीतला माता मंदिर से गुर्जर जागरण पदयात्रा निकली थी। यह कई शहरों और राज्यों में होने के बाद 48 दिन बाद फूलबाग मैदान पर सोमवार को पहुंची है। सोमवार को फूलबाग मैदान पर गुर्जर महाकुंभ का आयोजन किया गया है। यहां समाज के वरिष्ठजन ने सभा को संबोधित किया है। गुर्जर समाज के इतिहास और वर्तमान में उनकी मांगों को लेकर जागरुक करेंगे।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts to your email.

By nit

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading