विधायक ने कहा मिलजुलकर करेंगे मंडी का व्यवस्थापन, मेरा पूरा सहयोग मिलेगा, व्यवस्थित सब्जी मंडी की मांग | New India Times

मो. मुजम्मिल, जुन्नारदेव/छिंदवाड़ा (मप्र), NIT:

विधायक ने कहा मिलजुलकर करेंगे मंडी का व्यवस्थापन, मेरा पूरा सहयोग मिलेगा, व्यवस्थित सब्जी मंडी की मांग | New India Times

जुन्नारदेव शहर के थोक सब्जी मंडी व्यापारी मण्डल ने मंगलवार विधायक सुनील उइके के साथ बैठक की। उन्हें सब्जी मंडी की अव्यवस्थाओं से अवगत कराया और व्यवस्थित थोक सब्जी स्थापित कराने की मांग की। वही विधायक सुनील उइके ने दलगत राजनीति से ऊपर उठकर व्यापारियों को भरोसा दिलाया कि वे शहर की भलाई और जन कल्याण के लिए सबका पूरा सहयोग करेंगे।
व्यापारियों ने बैठक में सब्जी मंडी के मुद्दों पर बिंदुवार बात की। व्यापारियों ने कहा कि मंडी का स्थानांतरण उत्तम व्यवस्थाओं के साथ होना चाहिए। वहाँ पार्किंग हो, वाहनों की आवाजाही के लिए बढ़िया सड़क मार्ग हो। सब्जी बेचने के लिए आने वाले किसानों के लिए शौचालय हो। मंडी में पर्याप्त मात्रा में जलापूर्ति के लिए नलजल व्यवस्था हो। प्रतीक्षालय और कैंटीन हो। मंडी के चारो तरफ कंपाउंड हो, वहाँ अप डाउन सिस्टम वाला गेट हो।

बैठक में व्यापारियों ने दुकानों के आवंटन को लेकर भी अपने विचार रखे। विधायक के समक्ष व्यापारियों ने कहा मंडी की हरेक दुकान कम से कम 20 गुणा 30 के क्षेत्रफल की होनी चाहिए। व्यापारियों को गोदाम के लिए भी स्थान का आवंटन किया जाना चाहिए। और दुकान के सामने और पीछे इतनी जगह होनी चाहिए कि अतिक्रमण की स्थिति कभी बन ही ना सके।

व्यापारियों ने मंडी में हम्माल यूनियन के लिए बैठक स्थल की भी मांग की।

व्यापारियों की मंडी व्यवस्थापन सम्बन्धी मांगों को सुनने और समझने के बाद विधायक सुनील उइके ने कहा कि राजनीति चुनाव तक ही ठीक रहती है उसके बाद नहीं।निर्वाचन के बाद जन आशीर्वाद से बना जनप्रतिनिधि क्षेत्र की जनता का प्रतिनिधि होता है। मैं सोच से क्षेत्र का विकास करना चाहता हूँ। उन्होंने व्यापारियों से कहा मंडी में सभी पुराने दुकानदारों को उनकी मंशा के अनुरूप लेकिन नियम और शर्तों के अधीन मिलेगी। उन्होंने व्यापारियों से कहा कि वे नपा के नुमाइंदों और व्यापारियों सबके साथ मिलजुलकर शहर और क्षेत्र की खुशहाली, विकास के लिए काम करेंगे।

इस बैठक में विधायक सुनील उईके के साथ कैलाश साहू महेश कुशवाह, भगवानदास साहू, मोहन वानखेडे, राधेश्‍याम पवार, पप्‍पू कुशवाह, राजकुमार वर्मा, ऋषि वर्मा, अशोक कुशवाह, हेमन्‍त ढंढोरे, आशा बाई कुशवाह, दुर्गेश पवार, रिंकु ढंढोरे, अमर धन्‍डोरे, जागेश्‍वर साहू, असलम भाई, नीतेश टांडेकर, भरत बक्‍सर, हरिशंकर टांडेकर, बलदेव माहोरे, संतोष माहोरे, पुष्‍पा कुशवाह, राजेश पंद्राम, लक्ष्‍मी टांडेकर, दिलीप साहू, अजय कुशवाह, लक्ष्‍मी साहू सहित किसान भाई हेमराज पवार, अरूणेश जायसवाल, उपस्थि‍त थे।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts to your email.

By nit

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading