उपभोक्ताओं को अपने अधिकारों के प्रति जागरूक रहना चाहिए: कलेक्टर | New India Times

रहीम शेरानी हिन्दुस्तानी, इंदौर (मप्र), NIT:

आलीराजपुर राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस पर जिला खाद्य एवं आपूर्ति विभाग द्वारा कलेक्टर जनसुनवाई कक्ष में समारोह के रूप में मनाया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कलेक्टर डॉ. अभय अरविंद बेडेकर थे। विशेष अतिथि के रूप में सामाजिक कार्यकर्ता एवं एडवोकेट सुधीर जैन मौजूद थे।

कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रभारी जिला आपूर्ति अधिकारी एवं डिप्टी कलेक्टर सीजी गोस्वामी ने की। कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों ने मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन कर किया। इस अवसर पर कर्मचारियों के द्वारा अतिथियों का पुष्पमाला पहनाकर स्वागत किया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कलेक्टर डॉ. बेडेकर ने कहा कि उपभोक्ताओं को अपने अधिकारों के प्रति जागरूक रहना चाहिए, उपभोक्ता फोरम से काफी राहत मिली है।

उन्होंने कहा उद्देश्यपूर्ण व्यापार करने वाले एवं व्यापार के द्वारा ठगी करने वालों में बहुत अंतर है एवं ऐसे ठगी करने वाले व्यक्तियों से सावधान रहना चाहिए एवं उन पर प्रभावी कार्रवाई भी की जानी चाहिए। कलेक्टर बेडकर ने उपभोक्ता सेवाओं में होने वाली त्रुटि के संबंध में भी प्रकाश डाला व जिले में उपभोक्ता अधिकारों के और अधिक प्रचार प्रसार की आवश्यकता भी जताई।

जिला उपभोक्ता फोरम गठन करने की मांग

इस अवसर पर सामाजिक कार्यकर्ता एवं एडवोकेट सुधीर जैन ने उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम का इतिहास व महत्व बताते हुए उपभोक्ताओं के अधिकारों के प्रावधानों की समझाइश दी। उन्होंने कहा कि 24 दिसंबर 1986 को देश की संसद ने उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम पारित किया था एवं इस महत्वपूर्ण दिवस की स्मृति को बनाए रखने के लिए प्रतिवर्ष इस दिन राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस का आयोजन सरकार द्वारा किया जाता है।

जैन ने कहा कि उपभोक्ताओं द्वारा किसी भी वस्तु या सेवा के भुगतान के समय विक्रेता से ग्राहक को पक्का बिल अवश्य लेना चाहिए, क्योंकि विक्रेता द्वारा की गई किसी भी त्रुटि, ठगी या कमी होने पर ग्राहक उपभोक्ता फोरम में शिकायत करने करते समय ऐसे पक्के बिल या रसीद की आवश्यकता मुख्य रूप में होती है। साथ ही उन्होंने उपभोक्ता फोरम में शिकायत आवेदन की प्रक्रिया को समझाते हुए बताया कि 20 लाख रुपए तक के ऐसे प्रकरण जिला उपभोक्ता फोरम द्वारा सुने जाते हैं। उन्होंने कलेक्टर डॉ. बेडेकर से आलीराजपुर जिले में शीघ्रतापूर्वक जिला उपभोक्ता फोरम गठन करने की और ध्यान आकर्षित करवाया। इस पर कलेक्टर बेडेकर ने त्वरित रूप में इस संबंध में लिखित कार्रवाई किए जाने का निर्देश मौजूद विभागिय अधिकारियों को दिया।

मिलावट और उससे बचने की प्रक्रिया बताई

इस अवसर पर जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी जादौन ने खाद्य वस्तुओं में की जाने वाली मिलावट एवं उससे बचने की प्रक्रिया आदि के बारे में जानकारी दी। नापतोल विभाग के बाबूलाल मेहसन ने तोल काटे में की जाने वाली गड़बड़ी को उपकरणों द्वारा प्रदर्शित कर समझाइश दी।

परिवहन विभाग के इंद्रजीत ने परिवहन विभाग द्वारा बनाए जाने वाले लाइसेंस आदि में अनावश्यक धनराशि नहीं दिए जाने के बारे में बताया। कार्यक्रम को पेंशनर संघ के अरविंद गहलोत ने भी संबोधित किया।

स्वागत भाषण एवं आभार खाद्य निरीक्षक रामा आवासिया ने किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में विद्यार्थीगण, युवा, महिलाएं, गैस एजेंसी के प्रतिनिधि भी मौजूद थे।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

By nit

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading