भीमसेना चीफ सतपाल तंवर को सरगर्मी से तलाश कर रही है उ.प्र. पुलिस, देशद्रोह मामले में भीमसेना चीफ हुए भूमिगत, सरकार ने ट्विटर को भेजा नोटिस

अपराध, देश, राज्य

साबिर खान, गुरूग्राम/नई दिल्ली, NIT:

उत्तर प्रदेश के लखनऊ के हजरतगंज कोतवाली थाने में भीमसेना चीफ नवाब सतपाल तंवर पर दर्ज देशद्रोह मामले में उत्तर प्रदेश पुलिस की सख्ती बढ़ गई है और तंवर की सरगर्मी से तलाश की जा रही है। सोमवार को लखनऊ पुलिस ने भीमसेना चीफ नवाब सतपाल तंवर के गुरुग्राम और फरीदाबाद सहित दिल्ली के कई ठिकानों पर दबिश दी। उन्हें गिरफ्तार करने के लिए मेरठ एसटीएफ और लखनऊ पुलिस की कई टीमों का गठन किया गया है। बताया जा रहा है कि भीम सेना चीफ नवाब सतपाल तंवर को गिरफ्तार करने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्त आदेश जारी किए हैं और इसके लिए उत्तर पुलिस हरियाणा पुलिस हेडक्वार्टर और दिल्ली पुलिस की संपर्क में है। गिरफ्तारी के डर से नवाब सतपाल तंवर भूमिगत हो गए हैं। तंवर की गिरफ्तारी के लिए मेरठ एसटीएफ और लखनऊ की पुलिस टीम सरगर्मी से उनकी तलाश कर रही है। लेकिन तंवर के भूमिगत होने से कामयाबी नहीं मिल पाई है। सोमवार को मेरठ एसटीएफ और लखनऊ पुलिस की टीमों ने छापेमारी की लेकिन सतपाल तंवर फरार होने में कामयाब हो गए। तंवर ने गिरफ्तारी से बचने के लिए अपने आप को भूमिगत कर लिया है और अदालत से जमानत की प्रक्रिया शुरू कर दी है। कयास लगाए जा रहे हैं कि तंवर को गिरफ्तार करके योगी आदित्यनाथ सरकार उन्हें एक साल तक के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) यानी एनएसए लगाकर जेल में कैद कर सकती है। पुलिस से बचते बचाते तंवर लगातार अपने ठिकाने बदल रहे हैं। उधर नवाब सतपाल तंवर के समर्थकों और भीम सैनिकों ने योगी सरकार के खिलाफ भी मोर्चा खोल दिया है। ट्विटर पर हेज टैग #SupportNawabSatpalTanwar ट्रेंड किया जा रहा है। इससे पहले शुक्रवार को भी लखनऊ पुलिस तंवर के खांडसा निवास पर दबिश दे चुकी है। जन विरोध के कारण पुलिस को अपने पैर पीछे खींचने पड़े थे। इसके बाद शनिवार रात को भी पुलिस द्वारा दबिश दी गई। बताया जा रहा है कि तंवर की गिरफ्तारी के लिए यूपी पुलिस गुरुग्राम में डेरा डाले हुए है। वहीं भीम सेना प्रमुख नवाब सतपाल तंवर लगातार चकमा दे रहे हैं।

साथ ही योगी सरकार ने तंवर के ट्विटर अकाउंट को लेकर भी बड़ी कार्रवाई की है। यूपी सरकार ने इंडियन लॉ इंफोर्समेंट द्वारा नवाब सतपाल तंवर का ट्विटर अकाउंट बंद करने के लिए ट्विटर इंडिया की लीगल टीम को नोटिस भेज दिया है। जिसकी जानकारी ट्विटर की लीगल टीम ने नवाब सतपाल तंवर के आधिकारिक ईमेल पर ईमेल भेजकर इसकी सूचना दी है। उत्तर सरकार भीम सेना प्रमुख नवाब सतपाल तंवर की गतिविधियों को देश की लिए गंभीर खतरा बता रही है। ट्विटर ने ईमेल के माध्यम से बताया है कि इंडियन लॉ इंफोर्समेंट ने उनके ट्विटर हैंडल को बंद करने के लिए नोटिस भेजा है। अभी भीम सेना चीफ का ट्विटर हैंडल @BhimSenaChief बंद नहीं किया गया है। जिसपर ट्विटर की लीगल टीम निर्णय लेगी। भारत सरकार भी ट्विटर पर नए नियम लागू नहीं करने के आरोप लगा रही है। ऐसे में भीम सेना प्रमुख के ट्विटर अकाउंट को बंद करने की भी रिक्वेस्ट सरकार द्वारा भेज दी गई है। हालांकि सतपाल तंवर का कहना है कि वे न्याय के लिए आवाज उठाते हैं जिससे घबराकर योगी आदित्यनाथ सरकार उनकी आवाज को दबाना चाहती है। तंवर का कहना है कि उनकी अभिव्यक्ति की आजादी और मौलिक अधिकारों का हनन किया जा रहा है। योगी सरकार से जिसका जवाब अदालत में लिया जाएगा। वहीं नवाब सतपाल तंवर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित यूपी पुलिस और लखनऊ पुलिस के खिलाफ एससी/ एसटी एक्ट में शिकायत भी दर्ज कराई है। गुरुग्राम पुलिस शिकायत की जांच में जुट गई है। तंवर का आरोप है कि उन्हें सियासी मकसद से देशद्रोह के झूठे और फर्जी केस में फंसाया गया है। तंवर ने योगी सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं कि योगी सरकार उन्हें आजीवन यूपी की जेल में डालकर जेल में ही जान से मरवाने की साजिश रच रही है। ऐसा भी हो सकता है कि योगी आदित्यनाथ सरकार उनका एनकाउंटर करने का षडयंत्र रच रही हो। फिलहाल तंवर पुलिस की पकड़ से दूर हैं और भूमिगत हो गए हैं।

Leave a Reply