लोकसभा चुनाव के दौरान शांति, सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था के मद्देनज़र पुलिस लाइन में हुआ बलवा मॉक ड्रिल का आयोजन | New India Times

अबरार अहमद खान/मुकीज खान, भोपाल (मप्र), NIT:

लोकसभा चुनाव के दौरान शांति, सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था के मद्देनज़र पुलिस लाइन में हुआ बलवा मॉक ड्रिल का आयोजन | New India Times

आगामी लोकसभा चुनाव शांतिपूर्ण एवं निष्पक्ष संपन्न कराने तथा चुनाव के दौरान शांति, सुरक्षा व कानून व्यवस्था के मद्देनजर वरिष्ठ अधिकारियो के मार्गदर्शन में नगरीय पुलिस भोपाल द्वारा आज प्रातः पुलिस लाईन नेहरु नगर में पुलिस उपायुक्त क्राइम/हेडक्वॉर्टर श्री अखिल पटेल, अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त श्रीमती नीतू ठाकुर की मौजूदगी में बल्वा मॉक ड्रिल रिहर्सल परेड का आयोजन किया गया, जिसमें थानों का बल, यातायात का बल, रक्षित केंद्र के अधिकारी/कर्मचारियों समेत करीब 250 पुलिस जवानों ने भाग लिया।

लोकसभा चुनाव के दौरान शांति, सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था के मद्देनज़र पुलिस लाइन में हुआ बलवा मॉक ड्रिल का आयोजन | New India Times

बलवा ड्रिल परेड से पूर्व पुलिस आयुक्त अखिल पटेल ने समस्त जवानों को संबोधित करते हुए बलवा ड्रिल परेड का महत्व बताया एवं कानून व्यवस्था के दौरान विपरित परिस्थितियों में क्या सावधानियां बरती जानी चाहिए एवं पुलिस जवानों की जिम्मेदारी होती है। इस बारे मे विस्तृत मार्गदर्शन दिया।

लोकसभा चुनाव के दौरान शांति, सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था के मद्देनज़र पुलिस लाइन में हुआ बलवा मॉक ड्रिल का आयोजन | New India Times

बल्वा मॉक ड्रिल रिहर्सल परेड में पुलिस जवानों की अलग-अलग टीम बनाई गई, जिससे टियर गैस पार्टी, अश्रु गैस पार्टी, लाठी पार्टी, राइफ़ल पार्टी, मेडिकल पार्टी, वाटर केनन पार्टी एवं को अपना-अपना कार्य तय कर दिशा निर्देश दिए गए, उपरांत विभिन्न मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे लोगों से पुलिस ने बात की एवं समझाने की कोशिश की किन्तु लोगों की भीड़ अचानक उग्र हो गई एवं पुलिस पर पथराव करने लगे। यह देख पुलिस ने पहले उन्हें चेतावनी दी।

लोकसभा चुनाव के दौरान शांति, सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था के मद्देनज़र पुलिस लाइन में हुआ बलवा मॉक ड्रिल का आयोजन | New India Times

इसके बाद भी वे नहीं माने तो टियर गैस के गोले दागे, उपरांत आंसू गैस के गोले छोड़े तब भी प्रदर्शनकारी सार्वजनिक सम्पत्ति को नुकसान पहुंचा रहे थे, तब पुलिस द्वारा अलाउंसमेंट कर चेतावनी दी गई, किन्तु प्रदर्शनकारियों को उग्र होता देख कर पुलिस टीम द्वारा लाठी चार्ज भी किया। उपरांत अनियन्त्रित भीड़ को रोकने एवं सार्वजनिक सम्पत्ति को नुकसान से बचाने के लिए मजिस्ट्रेट के आदेश उपरांत फायर किए गए, जिसमें कुछ प्रदर्शनकारी घायल हो गए एवं कुछ पुलिसकर्मी भी घायल हुए जिन्हें उपचार हेतु डॉक्टर की टीम द्वारा एम्बुलेंस से तत्काल अस्पताल पहुंचाया गया।

लोकसभा चुनाव के दौरान शांति, सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था के मद्देनज़र पुलिस लाइन में हुआ बलवा मॉक ड्रिल का आयोजन | New India Times

बलवा मॉक ड्रिल में दोनों ही भूमिकाओं में पुलिस अधिकारी और कर्मचारी थे। कानून-व्यवस्था को दृष्टिगत रखते हुए तथा विपरित परिस्थितियों में भीड़ पर नियंत्रण पाने के लिए अमले को प्रशिक्षण देने और अपनी क्षमताओं की परख करने के लिए समय-समय पर इस तरह की मॉक ड्रिल आयोजित की जाती है, ताकि कानून व्यवस्था ड्यूटी, धरना-प्रदर्शन इत्यादि के दौरान विपरित परिस्थितियों में पुलिसकर्मी अपने आप को सुरक्षित रखते हुए अपने कर्तव्यों का बखूबी निर्वहन कर भीड़ नियंत्रण एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकें।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts to your email.

By nit

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading