काश्मीर हमारा है हमारा रहेगा और हम इसको लेकर रहेंगे, काश्मीर के लिए प्रयागराज का बच्चा बच्चा जान देने को तैयार है: अमित शाह | New India Times

अंकित तिवारी, ब्यूरो चीफ, प्रयागराज (यूपी), NIT:

काश्मीर हमारा है हमारा रहेगा और हम इसको लेकर रहेंगे, काश्मीर के लिए प्रयागराज का बच्चा बच्चा जान देने को तैयार है: अमित शाह | New India Times

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने रविवार को इलाहाबाद लोकसभा प्रत्याशी नीरज त्रिपाठी के समर्थन में प्रयागराज के मेजा सोरांव में विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए प्रयागराज की पावन धरा व अमर शहीद चंद्रशेखर आजाद, लाल पद्मधर और राष्ट्र निर्माता पंडित मदन मोहन मालवीय, महाकवि निराला, सुमित्रानंदन पंत, महादेवी वर्मा, हरिवंश राय बच्चन जैसे अमर साहित्यकारों को स्मरण करते हुए कहा
प्रयागराज की पावन भूमि हमेशा से समरसता और प्रेम को समर्पित रही है।

काश्मीर हमारा है हमारा रहेगा और हम इसको लेकर रहेंगे, काश्मीर के लिए प्रयागराज का बच्चा बच्चा जान देने को तैयार है: अमित शाह | New India Times

2024 का चुनाव एक महान भारत की संरचना का चुनाव है। सुरक्षित और सशक्त भारत निर्माण हेतु संकल्प लेने का चुनाव है। इंडी गठबंधन धारा 370 की वापसी व पाकिस्तान को सम्मान देने और भारत के परमाणु हथियारों को नष्ट करने का मंशा लेकर चल रहीं है। खड़गे जी कहते हैं काश्मीर से यूपी वालों का क्या लेना-देना है। अरे खड़गे महराज 80 पार कर गए इतना भी नहीं समझ पाए मेरे प्रयागराज का बच्चा बच्चा काश्मीर के लिए अपनी जान देने को तैयार हैं। कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर कहते हैं पाकिस्तान को सम्मान दो क्यों सम्मान दूं , क्योंकि उसके पास एटमबम है। जनता से पूछा- काश्मीर लेना चाहिए या नहीं लेना चाहिए। आवाज़ आई लेना चाहिए। शाह ने कहा काश्मीर हमारा है हमारा रहेगा,और हम इसको लेकर रहेंगे।

काश्मीर हमारा है हमारा रहेगा और हम इसको लेकर रहेंगे, काश्मीर के लिए प्रयागराज का बच्चा बच्चा जान देने को तैयार है: अमित शाह | New India Times

एनडीए नेतृत्व विहीन गठबंधन की राजनीति को समझ चुकी है। और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को तीसरी बार चार सौ पार से ज्यादा का लक्ष्य प्राप्त कर फिर एक बार मोदी बनकर शसक्त राष्ट्र का निर्माण करेंगी। मोदी जी ने देश को आतंक बाद से मुक्त करने का कार्य किया है। जब मनमोहन सरकार थी तो आलिया, मालिया, जमालिया आते थे और वह धमाके करके चलें जातें थे। वहीं काश्मीर में जब मोदी युग आया तो पुलवामा में हमला करने वाले पाकिस्तान के घर पर घुसकर सफाया करने कि कार्य किया।

अमित शाह ने कहा कि विपक्षी प्रधानमंत्री बनने का सपना देखने वाले इंडिया गठबंधन के नेताओं में अखिलेश यादव, तेजस्वी यादव, ममता दीदी, खड़गे और राहुल बाबा क्या कभी प्रधानमंत्री बन सकते हैं क्या? जनता ने उत्तर दिया- नहीं।

शाह ने कहा पंडित केसरी नाथ त्रिपाठी ने इस क्षेत्र में बहुत काम किया है। भाजपा ने इस बार केसरी नाथ त्रिपाठी के युवा पुत्र को नीरज त्रिपाठी को अपना उम्मीदवार बनाया है। आप अपना वोट देकर नीरज त्रिपाठी को सिर्फ सांसद नहीं बनाएंगे, बल्कि तीसरी बार मोदी को प्रधानमंत्री भी बनाकर देश को सौंपने का काम करेंगे।

अमित शाह ने मुफ्त राशन, गरीबी मिटाने के साथ सड़कों, पुलों के जाल गरीबों को मिलने वाले आवास और शौचालय की मोदी सरकार की उपलब्धियां को भी गिनाया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत दुनिया में विकसित और सशक्त राष्ट्र के रूप में स्थापित होगा। मोदी-मोदी जय घोष से पंडाल भी बीच-बीच गूंजता रहा।

भारी गर्मी और तपिश में जनता जनार्दन के सैलाब को सोरांव मेजा पहुंचने से सूर्य की गर्मी भी नहीं रोक सकीं। जब पंडाल भर गया,चारों तरफ भीड़ भी खड़ी हो गई, तब लोग पेड़ों के नीचे खडे होकर गृहमंत्री के सम्बोधन को सुन तालियां बजातें रहें।

सीटी रवि पूर्व राष्ट्रीय महामंत्री, अमरपाल मौर्य प्रदेश महामंत्री, सांसद प्रो.रीता बहुगुणा जोशी, कैबिनेट मंत्री व कलक्टर प्रभारी अनिल राजभर, कैबिनेट मंत्री नांदगोपाल गुप्ता नन्दी, विधायक हार्दिक पटेल अहमदाबाद, काशी क्षेत्र महामंत्री व जिला प्रभारी सुशील त्रिपाठी, लोकसभा प्रभारी मनोज जायसवाल, लोकसभा संयोजक शिवदत्त पटेल, जिला अध्यक्ष विनोद प्रजापति, पूर्व विधायक नीलम करवरिया, विधायक राजमणि कोल, विधायक पियूष रंजन निषाद, विधायक डॉ वाचस्पति, विधान परिषद सदस्य केपी श्रीवास्तव, पूर्व विधायक आनंद पांडे, योगेश शुक्ला, रईस चंद्र शुक्ला, कविता यादव त्रिपाठी के साथ इलाहाबाद लोकसभा उम्मीदवार नीरज त्रिपाठी ने सम्बोधित कर जनता जनार्दन से मतदान रूपी आशीर्वाद मांगा।

भाजपा जिला मीडिया प्रभारी दिलीप कुमार चतुर्वेदी ने बताया कि गृहमंत्री गृह मंत्री ने श्रृंगवेरपुर धाम, भारद्वाज मुनि आश्रम, झूंसी के उल्टा किला के सांस्कृतिक वैभव को भी याद किया। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र की जनता ने हमेशा से सोच समझकर सटीक और मजबूत निर्णय लिया है। उन्होंने जनता से पूछा- क्या आप देश में मजबूत प्रधानमंत्री चाहते हैं या हर साल में बदलने वाला पांच बार में पांच प्रधानमंत्री वाली सरकार चाहते हैं।  मोदी जी ने श्रीराम लीला के प्रतिष्ठा करके भारत के आध्यात्मिक सांस्कृतिक गौरव को विश्व में स्थापित कर दिया।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts to your email.

By nit

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading