बागपत मुख्यालय पर मुलायम सिंह यादव को सैंकड़ों लोगों ने दी श्रद्धांजली | New India Times

विवेक जैन, बागपत (यूपी), NIT:

भारत देश को गौरवान्वित करने वाले युगपुरूष मुलायम सिंह यादव को उनकी प्रथम पुण्यतिथि पर जनपदभर में याद किया गया। मुलायम सिंह यादव की पुण्यतिथि पर समाजवादी पार्टी बागपत के जिला मुख्यालय पर हवन का आयोजन किया गया, जिसमें समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं और मुलायम सिंह यादव के शुभचिंतकों ने मुलायम सिंह यादव की आत्मा की शांति और विश्व कल्याण के लिए हवनकुंड में आहुतियां डाली। इस अवसर पर श्रद्धांजलि सभा आयोजित की गयी, जिसमें समाजवादी पार्टी के प्रदेश सचिव हाजी शकील शाह ने कहा कि मुलायम सिंह यादव जैसी शख्सियतें सदियों में कभी-कभार ही जन्म लेती है। हाजी शकील शाह ने बताया कि मुलायम सिंह यादव जमीन से जुड़े व्यक्ति थे।

उन्होंने अपने सम्पूर्ण जीवन में कभी पद और पैसे का घमंड नहीं किया। उन्होंने अपना समस्त जीवन देश सेवा में अर्पित कर दिया। हाजी शकील शाह ने बताया कि मुलायम सिंह यादव वर्ष 1982 से वर्ष 1985 तक एमएलसी रहे, वर्ष 1974, 1977, 1985, 1989, 1991, 1993 और वर्ष 1996 में एमएलए रहे। वर्ष 1982 से वर्ष 1985 तक विधान परिषद में नेता विपक्ष और वर्ष 1985 से वर्ष 1987 तक विधान सभा में नेता विपक्ष की महत्वपूर्ण भूमिका अदा की। उत्तर प्रदेश के 3 बार मुख्यमंत्री और देश के रक्षा मंत्री रहे। सपा वरिष्ठ नेता हाजी निजात खान ने कहा कि मुलायम सिंह यादव का मधुर व्यवहार और महान व्यक्तित्व हर किसी को अपनी और सहज ही आकर्षित करता था। मुलायम सिंह यादव ने ताउम्र गरीबों और किसानों का जीवन बेहतर बनाने के लिए कार्य किया। बताया कि मुलायम सिंह यादव के शासन में हर धर्म के लोगों को समान आदर मिलता था और लोगों का आपस में खूब भाईचारा था। कहा कि मुलायम सिंह यादव की समाजवादी पार्टी ही एकमात्र ऐसी पार्टी है जो विभिन्न धर्मों के लोगों को निर्भयता प्रदान करती है और सबको साथ लेकर देशहित के लिए कार्य करती है। सपा नेता डा शकील अहमद ने मुलायम सिंह यादव की महानता से लोगों को अवगत कराते हुए उनके जीवन से प्रेरणा लेने की बात कही। जिला मुख्यालय पर मुलायम सिंह यादव को श्रद्धांजलि अर्पित करने वालों में सपा जिलाध्यक्ष रविन्द्र देव यादव, सपा अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष नदीम अलवी, नेशनल अवार्डी एवं उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सम्मानित वरिष्ठ पत्रकार विपुल जैन, राजेन्द्र यादव, सरदार अली, बब्बू सिद्दकी, काला प्रधान, राजू प्रधान, संदीप भारद्वाज सहित सैंकड़ों लोग उपस्थित थे।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

By nit

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading