माननीय मुख्यमंत्री जी ने शिक्षा भवन में आधुनिक लाइब्रेरी, रानी लक्ष्मीबाई पार्क में हॉकी म्यूजियम का उद्घाटन एवं मेजर ध्यानचंद की 25 फीट ऊंची मूर्ति का किया अनावरण | New India Times

अरशद आब्दी, ब्यूरो चीफ, झांसी (यूपी), NIT:

माननीय मुख्यमंत्री जी ने शिक्षा भवन में आधुनिक लाइब्रेरी, रानी लक्ष्मीबाई पार्क में हॉकी म्यूजियम का उद्घाटन एवं मेजर ध्यानचंद की 25 फीट ऊंची मूर्ति का किया अनावरण | New India Times

उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने वीरांगना महारानी लक्ष्मीबाई की पावन धरती एवं मेजर ध्यानचंद की जन्मस्थली झांसी में राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर जनपद वासियों को शुभकामनाएं देते हुए मेजर ध्यानचंद स्टेडियम में 2009 करोड़ रुपये लागत की विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। लोकार्पण एवं शिलान्यास कार्यक्रम के अवसर पर माननीय मुख्यमंत्री जी ने युवाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि बुंदेलखंड में विकास की अपार सम्भावनाएं हैं, जनपद के जनप्रतिनिधियों द्वारा प्राप्त समस्त प्रस्ताव को अनुमोदित करते हुए बुंदेलखंड क्षेत्र को सरकार नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने के लिए प्रतिबद्ध है।

माननीय मुख्यमंत्री जी ने शिक्षा भवन में आधुनिक लाइब्रेरी, रानी लक्ष्मीबाई पार्क में हॉकी म्यूजियम का उद्घाटन एवं मेजर ध्यानचंद की 25 फीट ऊंची मूर्ति का किया अनावरण | New India Times

मा0 मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में हॉकी के जादूगर महान सपूत की स्मृतियों को प्रेषित करते हुए मेजर ध्यानचंद जी को श्रद्धांजलि अर्पित की। इस दौरान उन्होने वर्ष 1928, 1932 और 1936 में भारत को स्वर्ण पदक दिलाने वाले हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद सहित अन्य खिलाड़ियों को याद किया। उन्होंने कहा कि 1936 में जर्मनी को हराकर गोल्ड मेडल जीतने पर जर्मनी के चांसलर ने उन्हें जर्मनी की नागरिकता दिए जाने का प्रस्ताव रखा, जिसे उन्होंने अस्वीकार करते हुए सच्चे राष्ट्रभक्ति होने का प्रमाण दिया।

माननीय मुख्यमंत्री जी ने शिक्षा भवन में आधुनिक लाइब्रेरी, रानी लक्ष्मीबाई पार्क में हॉकी म्यूजियम का उद्घाटन एवं मेजर ध्यानचंद की 25 फीट ऊंची मूर्ति का किया अनावरण | New India Times

माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि झांसी की भूमि महारानी लक्ष्मीबाई की धरा है, जो एक ओर वीरांगनाओं के बलिदान और शौर्य को प्रदर्शित करती है, वहीं दूसरी ओर खेलों की बात आती है, तो मेजर ध्यानचंद का नाम लिया जाता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में खेल को बढ़ावा देने के लिए मेरठ में मेजर ध्यानचंद के नाम से खेल विश्वविद्यालय बनाया जा रहा है। आज बहुत ही गौरांवित क्षण है कि वीरों की धरती पर प्रदेश का पहले हॉकी म्यूजियम का लोकार्पण किया जा रहा है। इस म्यूजियम में मेजर ध्यानचंद की स्मृतियों को डिजिटल रुप से संजोकर रखा गया है, इसके अतिरिक्त खेल के प्रति लोगों को जागरूक करने के विषय में भी काफी कुछ जानकारियां दी गई हैं। म्यूजियम का भ्रमण करते हुए उन्होंने अधिक से अधिक बच्चों को म्यूजियम देखे जाने का सुझाव दिया, इसके अतिरिक्त उन्होंने रानी लक्ष्मीबाई पार्क में 25 फीट ऊंची मेजर ध्यानचंद की प्रतिमा का भी अनावरण किया।

माननीय मुख्यमंत्री जी ने शिक्षा भवन में आधुनिक लाइब्रेरी, रानी लक्ष्मीबाई पार्क में हॉकी म्यूजियम का उद्घाटन एवं मेजर ध्यानचंद की 25 फीट ऊंची मूर्ति का किया अनावरण | New India Times

माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर पूर्व ओलंपियन खिलाड़ियों श्री गुरु बक्श, श्री अशोक कुमार ध्यानचंद, श्री ओंकार सिंह, श्री विनीत कुमार शर्मा, श्री रोमियो जेम्स, श्री अशोक दीवान, श्री आर पी सिंह, श्री अब्दुल अजीज, श्री वीरेंद्र सिंह, श्री सुबोध खांडेकर, श्री जानेशेर खान, श्री हसरत कुरैशी और श्री परमजीत सिंह को स्मृति चिन्ह और शाल भेंटकर सम्मानित किया। उन्होंने सभी पूर्व खिलाड़ियों को नये युवाओं के प्रशिक्षण हेतु रखे जाने का सुझाव दिया। राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर माननीय मुख्यमंत्री जी ने खिलाड़ियों के फिटनेस और उपकरण के लिए एकलव्य क्रीडा कोष से 125 खिलाड़ियों को फैलोशिप प्रदान करने हेतु 32 लाख 35 हजार रुपए की धनराशि उनके खातों में हस्तान्तरित की। उन्होंने समस्त राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों को प्रदेश का मान बढ़ाने के लिए उनका अभिनंदन किया। इस मौके पर माननीय मुख्यमंत्री जी ने ओलंपियन श्री सुभाष एल वाई तथा श्री आर पी सिंह का भी अभिनंदन किया।

राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा राजकीय जिला पुस्तकालय का निर्माण रुपए 9.65 करोड़ की लागत से शिक्षा भवन प्रांगण में नवनिर्मित आधुनिक लाइब्रेरी का उद्घाटन किया। उन्होंने लाइब्रेरी का निरीक्षण करते हुए अध्यनरत बच्चों से संवाद स्थापित करते हुए उन्हें चॉकलेट और मिठाइयां वितरित की, उन्होंने कहा की लाइब्रेरी में हर विद्यालय के बच्चे अवश्य जाये और वहां पर विभिन्न विषयों की जानकारी प्राप्त करें।

माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा रानी लक्ष्मीबाई पार्क में माननीय प्रधानमंत्री जी के स्मार्ट सिटी विजन को साकार करते हुए 600 वर्ग मीटर में रुपए 19.7 करोड़ की लागत से तैयार मेजर ध्यानचंद जी के नाम पर प्रदेश का पहला डिजिटल हॉकी संग्रहालय का भी उद्घाटन किया। उन्होंने हॉकी म्यूजियम का भ्रमण करते हुए वहां मेजर ध्यानचंद जी की स्मृतियों और जीवन से जुड़े विभिन्न पहलुओं को देखा। इस अवसर पर उन्होंने मेजर ध्यानचंद जी के कट आउट के साथ फोटो भी खिंचवाया, इसके अतिरिक्त उन्होंने 25 फीट ऊंची मेजर ध्यानचंद जी की प्रतिमा का अनावरण किया। उन्होंने लोगों से विशेष कर नौनिहाल खिलाड़ियों से मेजर ध्यानचंद म्यूजियम का भ्रमण करने को कहा ताकि खेल के प्रति आगे बढ़ने की प्रेरणा मिल सके।

उन्होंने कहा कि झांसी प्राकृतिक संसाधन एवं सौंदर्य से परिपूर्ण है। बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के लोकार्पण के पश्चात झांसी में विकास के नए पंख लग गए हैं। उन्होंने कहा की रानी लक्ष्मीबाई की धरती को अब डिफेंस कॉरिडोर के नाम से भी जाना जाएगा। उन्होंने बताया कि 38 हजार वर्गफुट क्षेत्रफल में बुंदेलखंड औद्योगिक विकास प्राधिकरण का निर्माण होने जा रहा है, जिसके लिए 6000 करोड़ रूपया दिया जा चुका। उन्होंने बताया कि इस औद्योगिक गलियारे से बुंदेलखंड में रोजगार सृजन सहित पलायन रुकेगा और रोजगार के संसाधनों में भी वृद्धि होगी, दूर क्षेत्र से लोग नौकरी के लिए यहां आएंगे। उन्होंने कानपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर जल्द ही एयरपोर्ट बनाए जाने की जानकारी दी, उन्होंने कहा कि अब चित्रकूट और झांसी में जल्द ही एयरपोर्ट की सुविधा उपलब्ध होगी, जिससे उद्योगों को और अधिक बढ़ावा मिलेगा।

राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री जी द्वारा बुंदेलखंड के विकास के लिए मुझे सर्वप्रथम बुंदेलखंड जाने के निर्देश दिए थे, बुंदेलखंड आने पर मुझे बताया गया कि कनेक्टिविटी और रोजगार की कमी के कारण लोगों के इस क्षेत्र के पलायन से क्षेत्र का विकास नहीं हो पा रहा।

माननीय मुख्यमंत्री जी ने 2009 करोड़ रुपए की 100 विकास कार्य परियोजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास करते हुए कहा कि सभी जनप्रतिनिधि द्वारा क्षेत्र विकास के प्रस्तावों को तुरंत ही स्वीकार किया जाता है। बुंदेलखंड में भूमिगत जल के पर्याप्त श्रोत हैं। उन्होंने बुंदेलखंड में पीने के पानी की समस्या के निवारण हेतु जल जीवन मिशन योजना अंतर्गत शीघ्र ही प्रत्येक घर में आरओ पेयजल की आपूर्ति होगी, जिससे यहां के लोग निरोगी होकर अपने आर्थिक विकास में वृद्धि कर सकें।

राष्ट्रीय खेल दिवस मेजर ध्यानचंद के जन्मदिन पर आयोजित कार्यक्रम में सांसद झांसी-ललितपुर श्री अनुराग शर्मा ने सर्वप्रथम रानी की पावन धरती पर माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी का स्वागत किया और करोड़ों की सौगात देने पर धन्यवाद ज्ञापित किया। उन्होंने धन्यवाद देते हुए बुंदेलखंड औद्योगिक विकास प्राधिकरण की सौगात देने पर जहां क्षेत्र में परिवर्तन के साथ-साथ पलायन रुकेगा और क्षेत्र का विकास होगा। उन्होंने 500 बेड का सुपर स्पेशलिटी अस्पताल तैयार होने की भी जानकारी दी, इसके अतिरिक्त उन्होंने अपने संसदीय क्षेत्र ललितपुर में एक अरब की सड़क परियोजना पर धन्यवाद व्यापित किया।

कार्यक्रम में विधायक सदर श्री रवि शर्मा ने माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी का झांसी आगमन पर उनका अभिनंदन और स्वागत किया। उन्होंने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री जी की कृपा से बुंदेलखंड जहां पलायन और गरीबी का क्षेत्र माना जाता है, अब बुंदेलखंड में माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा योजनाएं देते हुए रोजगार और विकास हो रहा है। क्षेत्र में उद्योग के बढ़ शते अवसर से जहां एक और पलायन रुकेगा इसके साथ ही क्षेत्र का विकास भी तेजी से अग्रसर होगा।

कार्यक्रम में माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा झांसी पर्यटन विकास हेतु तैयार की गई पुस्तक ‘‘गांव-गांव की गौरव गाथा’’ का विमोचन किया गया। इसके साथ राष्ट्रीय व राज्य स्त्री पुरस्कार से सम्मानित श्रीमती गीता देवी जल सहेली तथा ग्राम प्रधान रजनी आर्य देवी सिंहपुरा द्वारा माननीय मुख्यमंत्री जी को राखी बांधते हुए उनकी दीर्घायु की कामना की।
इस अवसर पर कार्यक्रम के दौरान झांसी जिला प्रशासन द्वारा जल संरक्षण कार्यों पर आधारित लघु फिल्म का प्रदर्शन भी किया गया। जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी द्वारा माननीय मुख्यमंत्री जी को स्मृति चिन्ह भेंट किया गया।

इस अवसर पर माननीय राज्य मंत्री भानु प्रताप सिंह वर्मा सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम भारत सरकार, मा0 सभापति विधान परिषद कुंवर मानवेंद्र सिंह, सांसद झांसी ललितपुर श्री अनुराग शर्मा, मा0 मंत्री जल शक्ति तथा बाढ़ नियंत्रण श्री स्वतंत्र देव सिंह, मा0 राज्य मंत्री श्रम एवं सेवायोजन श्री मनोहर लाल मन्नू कोरी, अध्यक्ष जिला पंचायत श्री पवन कुमार गौतम, महापौर श्री बिहारी लाल आर्य, विधायक सदर श्री रवि शर्मा, विधायक मऊरानीपुर रश्मि आर्या, विधायक बबीना श्री राजीव सिंह परीछा, विधायक गरौठा श्री जवाहरलाल राजपूत, सदस्य विधान परिषद श्रीमती रमा निरंजन, सदस्य विधान परिषद डाॅ. बाबूलाल तिवारी, जिला अध्यक्ष श्री जमुना प्रसाद कुशवाहा, महानगर अध्यक्ष श्री मुकेश मिश्रा सहित प्रमुख सचिव सूचना एवं गृह श्री संजय प्रसाद, मंडलायुक्त डॉ0 आदर्श सिंह, डीआईजी श्री जोगेंद्र कुमार, जिलाधिकारी श्री रविंद्र कुमार, नगर आयुक्त श्री पुलकित गर्ग, उपाध्यक्ष झांसी विकास प्राधिकरण श्री आलोक यादव, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री राजेश एस, मुख्य विकास अधिकारी श्री जुनैद अहमद सहित अन्य विभागीय अधिकारी बड़ी संख्या में बच्चे, पार्टी कार्यकर्ता एवं आम जनमानस उपस्थित रहे।

मेजर ध्यानचंद सहित अन्य खिलाड़ियों को याद किया। उन्होंने कहा कि 1936 में जर्मनी को हराकर गोल्ड मेडल जीतने पर जर्मनी के चांसलर ने उन्हें जर्मनी की नागरिकता दिए जाने का प्रस्ताव रखा, जिसे उन्होंने अस्वीकार करते हुए सच्चे राष्ट्रभक्ति होने का प्रमाण दिया।

माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि झांसी की भूमि महारानी लक्ष्मीबाई की धरा है, जो एक ओर वीरांगनाओं के बलिदान और शौर्य को प्रदर्शित करती है, वहीं दूसरी ओर खेलों की बात आती है, तो मेजर ध्यानचंद का नाम लिया जाता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में खेल को बढ़ावा देने के लिए मेरठ में मेजर ध्यानचंद के नाम से खेल विश्वविद्यालय बनाया जा रहा है। आज बहुत ही गौरांवित क्षण है कि वीरों की धरती पर प्रदेश का पहले हॉकी म्यूजियम का लोकार्पण किया जा रहा है। इस म्यूजियम में मेजर ध्यानचंद की स्मृतियों को डिजिटल रुप से संजोकर रखा गया है, इसके अतिरिक्त खेल के प्रति लोगों को जागरूक करने के विषय में भी काफी कुछ जानकारियां दी गई हैं। म्यूजियम का भ्रमण करते हुए उन्होंने अधिक से अधिक बच्चों को म्यूजियम देखे जाने का सुझाव दिया, इसके अतिरिक्त उन्होंने रानी लक्ष्मीबाई पार्क में 25 फीट ऊंची मेजर ध्यानचंद की प्रतिमा का भी अनावरण किया।

माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर पूर्व ओलंपियन खिलाड़ियों श्री गुरु बक्श, श्री अशोक कुमार ध्यानचंद, श्री ओंकार सिंह, श्री विनीत कुमार शर्मा, श्री रोमियो जेम्स, श्री अशोक दीवान, श्री आर पी सिंह, श्री अब्दुल अजीज, श्री वीरेंद्र सिंह, श्री सुबोध खांडेकर, श्री जानेशेर खान, श्री हसरत कुरैशी और श्री परमजीत सिंह को स्मृति चिन्ह और शाल भेंटकर सम्मानित किया। उन्होंने सभी पूर्व खिलाड़ियों को नये युवाओं के प्रशिक्षण हेतु रखे जाने का सुझाव दिया। राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर माननीय मुख्यमंत्री जी ने खिलाड़ियों के फिटनेस और उपकरण के लिए एकलव्य क्रीडा कोष से 125 खिलाड़ियों को फैलोशिप प्रदान करने हेतु 32 लाख 35 हजार रुपए की धनराशि उनके खातों में हस्तान्तरित की। उन्होंने समस्त राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों को प्रदेश का मान बढ़ाने के लिए उनका अभिनंदन किया। इस मौके पर माननीय मुख्यमंत्री जी ने ओलंपियन श्री सुभाष एल वाई तथा श्री आर पी सिंह का भी अभिनंदन किया।

राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा राजकीय जिला पुस्तकालय का निर्माण रुपए 9.65 करोड़ की लागत से शिक्षा भवन प्रांगण में नवनिर्मित आधुनिक लाइब्रेरी का उद्घाटन किया। उन्होंने लाइब्रेरी का निरीक्षण करते हुए अध्यनरत बच्चों से संवाद स्थापित करते हुए उन्हें चॉकलेट और मिठाइयां वितरित की, उन्होंने कहा की लाइब्रेरी में हर विद्यालय के बच्चे अवश्य जाये और वहां पर विभिन्न विषयों की जानकारी प्राप्त करें।

माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा रानी लक्ष्मीबाई पार्क में माननीय प्रधानमंत्री जी के स्मार्ट सिटी विजन को साकार करते हुए 600 वर्ग मीटर में रुपए 19.7 करोड़ की लागत से तैयार मेजर ध्यानचंद जी के नाम पर प्रदेश का पहला डिजिटल हॉकी संग्रहालय का भी उद्घाटन किया। उन्होंने हॉकी म्यूजियम का भ्रमण करते हुए वहां मेजर ध्यानचंद जी की स्मृतियों और जीवन से जुड़े विभिन्न पहलुओं को देखा। इस अवसर पर उन्होंने मेजर ध्यानचंद जी के कट आउट के साथ फोटो भी खिंचवाया, इसके अतिरिक्त उन्होंने 25 फीट ऊंची मेजर ध्यानचंद जी की प्रतिमा का अनावरण किया। उन्होंने लोगों से विशेष कर नौनिहाल खिलाड़ियों से मेजर ध्यानचंद म्यूजियम का भ्रमण करने को कहा ताकि खेल के प्रति आगे बढ़ने की प्रेरणा मिल सके।

उन्होंने कहा कि झांसी प्राकृतिक संसाधन एवं सौंदर्य से परिपूर्ण है। बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के लोकार्पण के पश्चात झांसी में विकास के नए पंख लग गए हैं। उन्होंने कहा की रानी लक्ष्मीबाई की धरती को अब डिफेंस कॉरिडोर के नाम से भी जाना जाएगा। उन्होंने बताया कि 38 हजार वर्ग फीट क्षेत्रफल में बुंदेलखंड औद्योगिक विकास प्राधिकरण का निर्माण होने जा रहा है, जिसके लिए 6000 करोड़ रूपया दिया जा चुका। उन्होंने बताया कि इस औद्योगिक गलियारे से बुंदेलखंड में रोजगार सृजन सहित पलायन रुकेगा और रोजगार के संसाधनों में भी वृद्धि होगी, दूर क्षेत्र से लोग नौकरी के लिए यहां आएंगे। उन्होंने कानपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर जल्द ही एयरपोर्ट बनाए जाने की जानकारी दी, उन्होंने कहा कि अब चित्रकूट और झांसी में जल्द ही एयरपोर्ट की सुविधा उपलब्ध होगी, जिससे उद्योगों को और अधिक बढ़ावा मिलेगा।

राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री जी द्वारा बुंदेलखंड के विकास के लिए मुझे सर्वप्रथम बुंदेलखंड जाने के निर्देश दिए थे, बुंदेलखंड आने पर मुझे बताया गया कि कनेक्टिविटी और रोजगार की कमी के कारण लोगों के इस क्षेत्र के पलायन से क्षेत्र का विकास नहीं हो पा रहा।

माननीय मुख्यमंत्री जी ने 2009 करोड़ रुपए की 100 विकास कार्य परियोजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास करते हुए कहा कि सभी जनप्रतिनिधि द्वारा क्षेत्र विकास के प्रस्तावों को तुरंत ही स्वीकार किया जाता है। बुंदेलखंड में भूमिगत जल के पर्याप्त श्रोत हैं। उन्होंने बुंदेलखंड में पीने के पानी की समस्या के निवारण हेतु जल जीवन मिशन योजना अंतर्गत शीघ्र ही प्रत्येक घर में आरओ पेयजल की आपूर्ति होगी, जिससे यहां के लोग निरोगी होकर अपने आर्थिक विकास में वृद्धि कर सकें।

राष्ट्रीय खेल दिवस मेजर ध्यानचंद के जन्मदिन पर आयोजित कार्यक्रम में सांसद झांसी-ललितपुर श्री अनुराग शर्मा ने सर्वप्रथम रानी की पावन धरती पर माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी का स्वागत किया और करोड़ों की सौगात देने पर धन्यवाद ज्ञापित किया। उन्होंने धन्यवाद देते हुए बुंदेलखंड औद्योगिक विकास प्राधिकरण की सौगात देने पर जहां क्षेत्र में परिवर्तन के साथ-साथ पलायन रुकेगा और क्षेत्र का विकास होगा। उन्होंने 500 बेड का सुपर स्पेशलिटी अस्पताल तैयार होने की भी जानकारी दी, इसके अतिरिक्त उन्होंने अपने संसदीय क्षेत्र ललितपुर में एक अरब की सड़क परियोजना पर धन्यवाद व्यापित किया।

कार्यक्रम में विधायक सदर श्री रवि शर्मा ने माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी का झांसी आगमन पर उनका अभिनंदन और स्वागत किया। उन्होंने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री जी की कृपा से बुंदेलखंड जहां पलायन और गरीबी का क्षेत्र माना जाता है, अब बुंदेलखंड में माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा योजनाएं देते हुए रोजगार और विकास हो रहा है। क्षेत्र में उद्योग के बढ़ते अवसर से जहां एक और पलायन रुकेगा इसके साथ ही क्षेत्र का विकास भी तेजी से अग्रसर होगा।

कार्यक्रम में माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा झांसी पर्यटन विकास हेतु तैयार की गई पुस्तक ‘‘गांव-गांव की गौरव गाथा’’ का विमोचन किया गया। इसके साथ राष्ट्रीय व राज्य स्त्री पुरस्कार से सम्मानित श्रीमती गीता देवी जल सहेली तथा ग्राम प्रधान रजनी आर्य देवी सिंहपुरा द्वारा माननीय मुख्यमंत्री जी को राखी बांधते हुए उनकी दीर्घायु की कामना की।

इस अवसर पर कार्यक्रम के दौरान झांसी जिला प्रशासन द्वारा जल संरक्षण कार्यों पर आधारित लघु फिल्म का प्रदर्शन भी किया गया। जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी द्वारा माननीय मुख्यमंत्री जी को स्मृति चिन्ह भेंट किया गया।

इस अवसर पर माननीय राज्य मंत्री भानु प्रताप सिंह वर्मा सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम भारत सरकार, मा0 सभापति विधान परिषद कुंवर मानवेंद्र सिंह, सांसद झांसी ललितपुर श्री अनुराग शर्मा, मा0 मंत्री जल शक्ति तथा बाढ़ नियंत्रण श्री स्वतंत्र देव सिंह, मा0 राज्य मंत्री श्रम एवं सेवायोजन श्री मनोहर लाल मन्नू कोरी, अध्यक्ष जिला पंचायत श्री पवन कुमार गौतम, महापौर श्री बिहारी लाल आर्य, विधायक सदर श्री रवि शर्मा, विधायक मऊरानीपुर रश्मि आर्या, विधायक बबीना श्री राजीव सिंह परीछा, विधायक गरौठा श्री जवाहरलाल राजपूत, सदस्य विधान परिषद श्रीमती रमा निरंजन, सदस्य विधान परिषद डाॅ. बाबूलाल तिवारी, जिला अध्यक्ष श्री जमुना प्रसाद कुशवाहा, महानगर अध्यक्ष श्री मुकेश मिश्रा सहित प्रमुख सचिव सूचना एवं गृह श्री संजय प्रसाद, मंडलायुक्त डॉ0 आदर्श सिंह, डीआईजी श्री जोगेंद्र कुमार, जिलाधिकारी श्री रविंद्र कुमार, नगर आयुक्त श्री पुलकित गर्ग, उपाध्यक्ष झांसी विकास प्राधिकरण श्री आलोक यादव, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री राजेश एस, मुख्य विकास अधिकारी श्री जुनैद अहमद सहित अन्य विभागीय अधिकारी बड़ी संख्या में बच्चे, पार्टी कार्यकर्ता एवं आम जनमानस उपस्थित रहे।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts to your email.

By nit

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading