मध्यप्रदेश में पटवारी भर्ती परीक्षा में हुई धांधली एवं प्रदेश के छात्रों की समस्याओं को लेकर इंदौर से भोपाल तक एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने निकाली छात्र सत्याग्रह पदयात्र | New India Times

अबरार अहमद खान/मुकीज खान, भोपाल (मप्र), NIT:

मध्यप्रदेश में पटवारी भर्ती परीक्षा में हुई धांधली एवं प्रदेश के छात्रों की समस्याओं को लेकर इंदौर से भोपाल तक एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने निकाली छात्र सत्याग्रह पदयात्र | New India Times

मध्यप्रदेश में पटवारी भर्ती परीक्षा में हुई धांधली एवं प्रदेश के छात्रों की समस्याओं को लेकर इंदौर से NSUI नेता अमन पटवारी एवं यश यादव के नेतृत्व में 01 अगस्त को छात्र सत्याग्रह पदयात्रा प्रारंभ की गई थी। जो कि आज भोपाल पहुंची। इंदौर से भोपाल के बीच में जगह जगह NSUI कार्यकर्ताओं ने पदयात्रा का जोरदार स्वागत किया।
इस मौके पर एनएसयूआई नेता रवि परमार ने NIT संवाददाता को बताया कि जब छात्र सत्याग्रह पदयात्रा रविवार को भोपाल पहुंची तो पुलिस प्रशासन ने लालघाटी चौराहे के पास बैरिकेड लगाकर रोक दिया। उसके बाद सभी छात्रों को हिरासत में लिया गया लेकिन जब हंगामा बढ़ा तो पुलिस प्रशासन ने एक प्रतिनिधि मंडल को मुख्यमंत्री निवास पर ज्ञापन देने की व्यवस्था कर मुख्यमंत्री निवास ले गए। एनएसयूआई के प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री निवास पहुंच कर सचिव को ज्ञापन सौंपा।
तत्पश्चात मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष विवेक त्रिपाठी ने पदयात्रा के संयोजक कुणाल पटवारी और पदयात्रा का नेतृत्वकर्ता अमन पटवारी को पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी से मुलाकात करवाई कुणाल पटवारी , अमन पटवारी और छात्र सत्याग्रह पदयात्रा में शामिल हुए सभी लोगों ने पूर्व मुख्यमंत्री को नई शिक्षा नीति से छात्र छात्राओं को आ रही समस्याओं और मध्यप्रदेश में हुए पटवारी भर्ती घोटाले को लेकर तथ्यों के साथ अवगत करवाया।

मध्यप्रदेश में पटवारी भर्ती परीक्षा में हुई धांधली एवं प्रदेश के छात्रों की समस्याओं को लेकर इंदौर से भोपाल तक एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने निकाली छात्र सत्याग्रह पदयात्र | New India Times

यात्रा के संयोजक कुणाल पटवारी ने कहा कि मध्यप्रदेश में हर साल विद्यार्थियो को समय पर स्कॉलरशिप नहीं मिलती इसके साथ-साथ हर साल किसी न किसी कोर्स के पेपर लीक होने की घटनाएं सामने आती हैं और समय पर नियमित परीक्षाएं आयोजित नहीं होती हैं, जिसकी वजह से मेहनत करने वाले विद्यार्थियो का मनोबल कम होता हैं, और सरकारी कॉलेजों में जो सुविधाएं विद्यार्थियो को मिलनी चाहिए वे नहीं मिल पाती ‌जोकि छात्र छात्राओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ है।

छात्र सत्याग्रह पदयात्रा का नेतृत्व कर रहे अमन पटवारी ने कहा कि इस पदयात्रा का मकसद ईमानदारी से पढ़ाई करने वाले विद्यार्थियो को न्याय दिलाना और प्रदेश की उच्च शिक्षा व्यवस्था में सुधार करवाना होगा साथ ही साथ पदयात्रा के माध्यम से छात्रों को अपने हकों और अधिकारों के लिए आवाज़ उठाने के लिए जाग्रत करेगी।

छात्र सत्याग्रह पदयात्रा में मुख्य रूप से इंदौर एनएसयूआई जिला अध्यक्ष रजत पटेल गौलू चंदेरी यश यादव शुभम् दरबार शान्तनु लहिया सोहन मेवाड़ा अमित पटेल अजय जाट राजवीर सिंह सिद्धांत आचार्य मयंक शिवहरे तनय अग्रवाल और सैकड़ों कार्यकर्ता शामिल थे।

By nit

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading