पंकज शर्मा, ब्यूरो चीफ, धार (मप्र), NIT:

‘जीवन जीने के विविध आयाम’ विषय पर कार्यशाला
बुधवार को शासकीय महाविद्यालय मनावर में विश्व बैंक एवं रूसा के अंतर्गत आंतरिक गुणवत्ता उन्नयन शाखा के निर्देश पर हिंदी एवं अंग्रेजी विभाग द्वारा एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला का आरंभ डॉक्टर के. एस. वास्केल के स्वागत भाषण के साथ किया गया। कार्यशाला में मुख्य वक्ता के रूप में डॉ. पुष्पेंद्र दुबे प्राध्यापक महाराजा रंजित सिंह कॉलेज आफ प्रोफेशनल साइंसेस इंदौर उपस्थित थे। जिन्होंने जीवन जीने के विविध मापदंडों में समय, नियमितता और विवेकपूर्ण तरीके से कार्य करने के साथ जीवन जीने के तरीके बताए। यह कार्यशाला महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ आर सी पांटेल एवं आइक्यूएसी अधिकारी डॉ़ आई एस सस्तियां के नेतृत्व में आयोजित की गई। इस कार्यशाला में महाविद्यालय के 250 से अधिक विद्यार्थी उपस्थित थे। इस कार्यशाला में डॉ सेवंता मुवेल, डॉ प्रकाश गुजराती, डॉ नूतन राजपूत, डॉ नीरज चौहान, डॉ मनोज पाटीदार, प्रों सुरेश कवचे श, डॉ पूजा शर्मा, डॉ शंकर सिंह गोखले, प्रो सुनील राठौड़, प्रो बालेश्वर, प्रो मारू, प्रो आशीष वर्मा, प्रो प्रियंका जैन आदि उपस्थित थे। इस कार्यशाला का संचालन प्रो विष्णु बर्मन द्वारा किया गया। मुख्य वक्ता का परिचय प्रो ज्योति बर्फा द्वारा दिया गया और आभार प्रो मोनिका डावर द्वारा माना गया।

By nit

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *