6 माह के बच्चे का अपहरण करने वाले 11 आरोपियों को रीवा पुलिस ने किया गिरफ्तार | New India Times

अबरार अहमद खान/मुकीज खान, भोपाल (मप्र), NIT:

6 माह के बच्चे का अपहरण करने वाले 11 आरोपियों को रीवा पुलिस ने किया गिरफ्तार | New India Times

मध्य प्रदेश के रीवा से 7 मई की रात कॉलेज चौराहे से अपहृत किए गए छह माह के बच्चे को  पुलिस ने मुंबई से बरामद कर उसे परिजन को सौंपने में सफलता प्राप्त की है। इस मामले में पुलिस ने 11 आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जबकि एक आरोपी अभी फरार है। उल्लेखनीय है कि 7 मई की रात छह माह का बालक कॉलेज चौराहे पर अपने माता-पिता के पास सो रहा था। तभी दो आरोपी उसे उठाकर मोटर सायकल से भाग निकले थे। मामले में बालक के परिजन ने रीवा पुलिस को सूचना देकर शिकायत दर्ज कराई थी। सिविल लाइन पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए अपराध क्रमांक 222/2024 धारा 363,370,34 का अपराध पंजीबद्ध कर आरोपियों की तलाश आरंभ की। रीवा पुलिस ने आरोपियों को पांच दिन में ही मऊगंज और महाराष्ट्र के कल्याण से पकड़ा और बच्चे को उसके माता-पिता तक सकुशल पहुंचाया। बच्चे के माता-पिता फेरी लगाकर अपना भरण-पोषण करते हैं।

6 माह के बच्चे का अपहरण करने वाले 11 आरोपियों को रीवा पुलिस ने किया गिरफ्तार | New India Times

पुलिस ने मामले को अत्यंत संवेदनशील और सनसनीखेज मानते हुए तत्काल बच्चे की तलाश आरंभ की। आरोपियों की धरपकड़ के लिए पुलिस ने सूचना मिलते ही त्वरित कार्यवाही करते हुए शहर के साथ ही जिलेभर में नाकाबंदी कर दी। पुलिस महानिरीक्षक रीवा व उप पुलिस महानिरीक्षक के मार्गदर्शन में एवं पुलिस अधीक्षक श्री विवेक सिंह के निर्देशन में क्रमश: तकनीकी सेल सीसीटीवी निरी. श्री वीरेन्द्र पटेल, फुटेज ट्रैकिंग टीम उनि. श्री अरविन्द सिंह एवं विवेचना हेतु एसआईटी टीम नगर पुलिस अधीक्षक श्रीमती रितु उपाध्याय की टीम गठित की गई। इन टीमों का नेतृत्व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रीवा श्री अनिल सोनकर एवं श्री विवेक लाल को दिया गया। उक्त टीमों ने मोटर सायकल सवार अपहरणकर्ताओं मो. सलीम एवं अतुल जैसवाल निवासी मउगंज को सीसीटीवी के माध्यम से चिह्नित कर लिया। आरोपियों की पहचान होने के बाद पुलिस ने मऊगंज में दबिश देकर निर्जन स्थान से सलीम को घेराबंदी कर पकड़ा। सलीम ने पूछताछ पर पूरी घटना का खुलासा किया।

जांच में पाया गया कि आरोपी नितिन सोनी अपनी पत्नी स्वाती के साथ मउगंज आया था। जिसने अपने साथी मो. हारून, मो. सलीम, मुस्कान रावत, देवेश जायसवाल और गुड्डू गुप्ता के साथ मिलकर अपहरण की योजना बनाई। योजना के तहत वे 6 माह के बच्चे को किडनैप कर महाराष्ट्र के मुंबई शहर ले गए। जहां नितिन और स्वाती ने बच्चे को अमोल मधुकर,अरवी उर्फ सेजल और प्रदीप कोलम्बे को 8 लाख रुपए में बेच दिया। उसी बच्चे को अमोल मधुकर और सेजल ने श्रीकृष्ण संतराम पाटिल को 29 लाख रूपए में बेच दिया। अमोल मुंबई के एक जाने-माने अस्पताल में अटेंडेंर का काम करता है, जबकि उसकी पत्नी अर्बी एक शेयर ट्रेडिंग कंपनी के लिए काम करती है। वहीं कृष्ण संत राम पाटिल महाराष्ट्र के रायगढ़ का रहने वाला है। शादी के कई साल बाद भी उसे कोई संतान नहीं थी तो उसने आरोपियों के साथ मिलकर 29 लाख रुपए में बच्चे का सौदा तय कर डाला।

रीवा पुलिस ने मामले में मोहम्मद सलीम अंगारी उर्फ असलम पिता मोहम्मद मलाम अंसारी (19) निवासी मऊगंज, मोहम्मद हारूल उर्फ मुंगेरी पिता मोहम्मद जाहिद (24) मऊगंज, दीवेश जायसवाल उर्फ दादा पिता मुनिमाधव जायसवाल (24) निवासी मऊगंज जिला मऊगंज हाल संजय नगर थाना समान जिला रीवा, मुस्कान रावत उर्फ पार्वती उर्फ पारो पिता देमान रावत (19) निवासी मऊगंज, नितिन सोनी पिता राजेश सोनी (26) वर्ष निवासी कल्याण महाराष्ट्र, स्वाती सोनी पति नितिन सोनी (24) निवासी कल्याण महाराष्ट्र, अमोल अरुणकर पिता मधुकर (35) कल्याण, अर्बी उर्फ सेजल पति अमोल मधुकर अरुणकर (32) निवासी कल्याण, प्रदीप कोलाम्बे निवासी कल्याण, श्रीकृष्ण संताराम पाटिल पिता संताराम (53) निवासी मुखाकचली जिला रायगढ़ महाराष्ट्र, गुड्‌डू पिता गोविंद प्रसाद (22) निवासी मऊगंज  को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की। जबकि अतुल पिता रजनीश जायसवाल (25) निवासी मऊगंज की तलाश पुलिस कर रही है।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts to your email.

By nit

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading