राजापुर रेलवे क्रासिंग एवं राजापुर चौराहे पर फ्लाईओवर कम आरओबी का नितिन गडकरी ने किया लोकार्पण | New India Times

वी.के. त्रिवेदी, ब्यूरो चीफ, लखीमपुर खीरी (यूपी), NIT:

राजापुर रेलवे क्रासिंग एवं राजापुर चौराहे पर फ्लाईओवर कम आरओबी का नितिन गडकरी ने किया लोकार्पण | New India Times

दिनांक 04 फरवरी 2024 को एल आर पी चौराहा पर फ्लाई ओवर एवं राजापुर रेलवे क्रासिंग एवं राजापुर चौराहे पर फ्लाई ओवर कम आर0ओ0बी0 के निर्माण कार्य का लोकार्पण केन्द्रीय मंत्री सड़क,परिवहन एवं राजमार्ग नितिन गडकरी के द्वारा वर्चुअल माध्यम से केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र ‘टेनी’ की गरिमामयी उपस्थिति में हुआ। उक्त एल0आर0पी0 चौराहा पर फ्लाई ओवर एवं राजापुर रेलवे क्रासिंग एवं राजापुर चौराहे पर फ्लाई ओवर कम आर0ओ0बी0 का निर्माण कार्य लागत धनराशि रुपये 297.70 करोड़ से किया गया है। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए अजय मिश्र ‘टेनी’ केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री ने कहा कि वास्तव में किसी भी शहर किसी भी गांव और किसी भी देश विकास के किस स्तर पर खड़ा है इसकी पहचान किसी भी आने वाले व्यक्ति को सबसे पहले उस क्षेत्र में सड़के कैसी है इससे होती है और हम विश्व स्तर पर बात करते है तो बहुत सारे जो मानक होते है जिनके आधार पर किसी विकसित राष्ट्र की पहचान होती है उसमें भी सड़कों का भी काफी महत्वपूर्ण स्थान होता है।

2014 से पहले जो सड़कों की स्थितियां थी आप सबसे छुपी नहीं हुई है। लखनऊ से लखीमपुर जब लोग आते थे तब उनका स्थाई रूकना सिधौली में जरूर होता था क्योंकि सड़कें इतनी ज्यादा जर्जर थी कि लोगों को बीच में रूकना ही पड़ता था। पहले जब जनपद लखीमपुर में यह ओवरब्रिज नहीं बने थे तो राजापुर से लालपुर बैरियर जाने में 45 मिनट लग जाते थे अब यह ओवरब्रिज बन जाने के बाद केवल पांच मिनट लगते है। अब हर व्यक्ति का 40 मिनट तक बच जाता है जो राजापुर से लालपुर बैरियर तक जाता है। यह एक छोटा सा उदाहरण है यह सामान्य बात नहीं है 2014 से पहले हमारे 1 लाख से अधिक गांव ऐसे थे जो पक्की सड़कों से जुड़े हुए नहीं थे गांवों के जो रास्ते होते थे वह कीचड़ से भरे, पानी से भरे, नालियां न होने के कारण जलभराव लोगों को आने-जाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था।

हमारी सरकार ने 2014 के बाद प्रत्येक सड़क चाहे वह गांव की हो या गांवों को जोड़ने वाली सड़क हो या शहर की सड़क हो चाहे वह स्टेट हाइवे हो या नेशनल हाइवे हो प्रत्येक क्षेत्र में बड़े पैमाने पर सड़कों के निर्माण का कार्य जहां हमारी सरकार ने किया है। सभी को पक्का करने का काम हमारी सरकार ने किया है। प्रत्येक क्षेत्र में बड़े पैमाने पर जहां सड़कों के निर्माण का कार्य किया है वहीं लोगों का समय बच सके उस दृष्टि से ओवरब्रिजों का निर्माण किया गया है।

केन्द्रीय मंत्री सड़क एवं परिवहन नितिन गडकरी ने जनपद लखीमपुर-खीरी के विकास हेतु अपने वर्चुअल सम्बोधन में राष्ट्रीय मार्ग संख्या-730 के गोला बाईपास पटेल चौराहा पर उपरगामी सेतु (फ्लाईओवर) का निर्माण कार्य लम्बाई 1200 मीटर एवं अनुमानित लागत रू0 50 करोड़, राष्ट्रीय मार्ग संख्या-730 के शारदा नदी (ऐरा पुल) के समानान्तर 2 लेन पुल का निर्माण कार्य लम्बाई-581 मीटर अनुमानित लागत रू0 80 करोड़ एवं राष्ट्रीय मार्ग संख्या-730 के घाघरा नदी पुल के समानान्तर 2 लेन पुल का निर्माण कार्य लम्बाई 840 मीटर अनुमानित लागत रू0 110 करोड़ के कार्यों को कराने की घोषणा की है।

उक्त कार्यक्रम को जितिन प्रसाद मंत्री लोक निर्माण विभाग उत्तर प्रदेश द्वारा भी वर्चुअल सम्बोधित किया गया। इस कार्यक्रम में योगेश वर्मा विधायक सदर, मंजू त्यागी विधायक श्रीनगर, सुनील सिंह जिलाध्यक्ष भाजपा लखीमपुर, विनीत मनार खीरी लोकसभा संयोजक अध्यक्ष जिला सहकारी बैंक, अरविन्द गुप्ता, सांसद प्रतिनिधि अरविन्द सिंह ‘संजय’, सांसद प्रतिनिधि जितेन्द्र त्रिपाठी ‘जीतू’ एड0, मुन्ना लाल अवस्थी सांसद प्रतिनिधि, सांसद प्रवक्ता अम्बरीष सिंह, नरेन्द्र सिंह प्रतिनिधि अध्यक्ष जिला पंचायत, अवधेश सिंह अध्यक्ष जिला अधिवक्ता संघ, विनोद मिश्रा पूर्व जिलाध्यक्ष भाजपा, कुलभूषण सिंह, अशोक अवस्थी मण्डल अध्यक्ष खीरी, संदीप मौर्या मण्डल अध्यक्ष नकहा, दीपक मिश्रा, सतीश चौधरी, अनुज शुक्ला सहित भारी संख्या में लोग मौजूद रहे।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts to your email.

By nit

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading