श्री कृष्णा की नगरी मथुरा हुई राममय, सजने लगे हैं घर और मन्दिर, बैंडबाजों के साथ निकली शोभायात्रा... | New India Times

अली अब्बास, ब्यूरो चीफ, मथुरा (यूपी), NIT:

श्री कृष्णा की नगरी मथुरा हुई राममय, सजने लगे हैं घर और मन्दिर, बैंडबाजों के साथ निकली शोभायात्रा... | New India Times

जन-जन के आराध्य प्रभु श्री राम लला की प्राण प्रतिष्ठा अयोध्या धाम के दिव्य-भव्य नूतन मंदिर में 22 जनवरी को होगी। प्रभु श्री राम लला की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर ब्रजवासी बहुत ही हर्षोलासित हैं। मथुरा महानगर में 700 मंदिरों में प्रभु श्री राम लला की प्राण प्रतिष्ठा का महोत्सव की तैयारियां जोर-शोर से कर ली गई हैं। मंदिरों और घरों को सजाया जा रहा है। शनिवार को महानगर में रामभक्तों द्वारा जगह- जगह बैंडबाजों के साथ निकाली गई प्रभु श्री राम की शोभायात्रा से समूचा वातावरण राममय और भगवामय हो गया है। श्री राम लला की प्राण प्रतिष्ठा से पूर्व घर-घर पूजित अक्षत निमंत्रण अभियान के अंतर्गत मथुरा महानगर में लगभग 1.07 लाख से अधिक परिवारों में प्रभु श्री राम लला के दर्शन का निमंत्रण दिया गया है।

अयोध्या धाम में प्रभु श्री राम लला प्राण की प्राण प्रतिष्ठा 22 जनवरी से पूर्व शनिवार को मथुरा महानगर में रामभक्तों द्वारा जगह- जगह शोभायात्रा निकाल कर समूचे मथुरा महानगर का वातावरण राममय कर दिया। दीनदयाल नगर की शोभा यात्रा जनरल गंज से शुरु होकर जीआईसी चौराहा से कंपू घाट, बंगाली घाट, सप्तर्षि नगर, यमुना पुल, कृष्णापुरी चौराहा से वापस होते हुए जनरल कुंज चौराहे पर समाप्त हुई। सदर की शोभायात्रा राम मंदिर से शुरू होकर बढ़पुरा, डांडिया, अशोक विहार, श्यामसुंदर कॉलोनी, पुरानी छावनी, सदर बाजार महादेव घाट, रेजिमेंटल बाजार, आढ़त, सदर अड्डा और बाढ़पुरा से होती हुई श्री राम मंदिर पर समाप्त हुई।

रिफाइनरी नगर में प्रभु श्री राम की शोभायात्रा बीबीआर स्कूल से शुरू हुई और टाउनशिप गेट, औरंगाबाद, नरसीपुरम और पंचवटी कॉलोनी से होते हुए बीबीआर स्कूल पर समाप्त हुई। जगह- जगह आयोजित हुईं शोभायात्राओं में राष्ट्रीय स्वयंसेवक, संघ भारतीय जनता पार्टी, विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल और अन्य विचार परिवार के कार्यकर्ता, पदाधिकारी और छात्र सैंकड़ों की संख्या में सम्मिलित हुए। शोभायात्रा में सभी रामभक्त गले में भगवा पटुका और हाथों मे भगवा ध्वज लेकर रामलला हम आएंगे- दर्शन तेरे पाएंगे, जयकारा हे वीर बजरंगी-हर हर महादेव, वंदे मातरम- जय श्री राम आदि गगनभेदी उदघोष करते हुए चल रहे थे।

शोभायात्राओं का जगह-जगह नगर वासियों ने पुष्प वर्षा कर स्वागत किया और भक्तिभाव से प्रभु श्री राम के चित्र की आरती उतारी। शिवाजी नगर में पारिजात गौशाला पर हवनकर हनुमान चालीसा का सामूहिक पाठ कर, श्री राम संकीर्तन का आयोजन किया गया और प्रसादी वितरण हुआ।

विजय बंटा सर्राफ महानगर संयोजक श्री राम लला प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव समिति मथुरा महानगर ने बताया है कि अयोध्या में प्रभु श्री राम लाल के नूतन मंदिर में श्री राम लाल की प्राण प्रतिष्ठा से पूर्व घर-घर पूजित अक्षत वितरण अभियान के अंतर्गत मथुरा महानगर में अब तक लगभग 1.07 लाख परिवारों को प्रभु श्री राम लला के दर्शन निमंत्रण दिया गया है। जिसमें जनसामान्य से लेकर प्रतिष्ठित संत- महात्माओं, मंदिरों, जनप्रतिनिधियों, सेना के जवानों- अधिकारियों, न्यायिक और प्रशासनिक अधिकारियों, पत्रकारों, स्वयंसेवी संस्थाओं, झुग्गी बस्तियों में श्री राम लला प्रतिष्ठा महोत्सव समिति राम लला के दर्शन का निमंत्रण अयोध्या जी से आएं पूजित पीले अक्षत, प्रभु श्री राम मंदिर का चित्र और पत्रक दिया है। निमंत्रण अभियान के अंतर्गत जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, नगर आयुक्त, सांसद, विधायकों, महापौर एवं अन्य प्रशानिक अधिकारियों को भी श्री राम लला के दर्शन का निमंत्रण दिया गया है।

मुकेश शर्मा मीडिया प्रमुख श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव समिति ने बताया है कि प्राण प्रतिष्ठा के दिन पौष शुक्ल द्वादशी 22 जनवरी को महानगर के लगभग 700 मंदिरों मे श्री राम लला प्राण प्रतिष्ठा के धार्मिक आयोजन होंगे।प्रत्येक मंदिर पर प्रभु श्री रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के समय साज-सज्जा सहित भजन- कीर्तन और प्रभु श्री राम की आरती की व्यवस्था रामसेवको द्वारा की जा रही है। मंदिरों को सजाया जा रहा है। सायंकाल संपूर्ण समाज द्वारा भव्य दीपावली मनाने हेतु कार्य योजना तैयार की गई है। ब्रजवासी श्री राम लला की प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को लेकर बहुत ही उत्साहित हैं। 22 जनवरी को मंदिरों मे विराजमान प्रभु श्री बांसुरी की जगह हाथों मे धनुष बाण धारण कर दर्शन देंगे। मंदिरों में भजन कीर्तन, सुंदरकांड का सामूहिक पाठ, हनुमान चालीसा का पाठ, हवन आदि धार्मिक अनुष्ठान होकर प्रसादी वितरण होगा। सायंकाल मंदिरों और घरों में दीप प्रज्जवलित कर दीपावली मनाई जाएगी। सभी रामभक्त नवीन वस्त्र धारण करेगें।
      


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts to your email.

By nit

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading