सम्राट के पट्ट धर गच्छाधिपति श्रीमद् नित्यसेन सूरीश्वरजी की निश्रा में हुआ परिषद का सम्मेलन | New India Times

रहीम शेरानी हिन्दुस्तानी/पंकज बडोला, झाबुआ (मप्र), NIT:

जैन समाज में आज से 64 वर्ष पूर्व पीताम्बर विजेता पूज्य आचार्य श्रीमद् विजय यतीन्द्र सूरीश्वरजी म.सा द्वारा मोहनखेडा महातीर्थ में स्थापित युवाओं की संस्था अखिल भारतीय श्री राजेन्द्र जैन नवयुवक परिषद व महिला एवं तरूण परिषद का संयुक्त वार्षिक सम्मेलन रविवार 1 अक्टूबर को उत्तर गुजरात के बनासकांठा जिले के नैनावा नगर में पुण्य सम्राट युग प्रभावकाचार्य श्रीमद्विजय जयन्तसेन सूरीश्वरजी म.सा के पट्टधर एवं वत र्मान
गच्छाधिपति आचार्य श्रीमद्विजय नित्यसेन सूरीश्वरजी म.सा आदि साधु साध्वीजी भगवंत की निश्रा में संपन्न हुआ।

उक्त जानकारी देते हुये नवयवक परिषद मेघनगर के प्रवक्ता दिविक कावडिया ने बताया कि, परिषद सम्मेलन का शुभारंभ ध्वजारोहण के साथ हुआ। ध्वजारोहण पूज्यश्री की निश्रा में परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री प्रकाश छाजेड ने किया।

समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में श्री सौद्धर्म बृहत्तपाेगच्छीय त्रिस्तुतिक जैन श्रीसंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री वाघजीभाइ र्वोरा, महामंत्री श्री सुरेन्द्रजी लोढा, उपस्थित थे। सम्मेलन में अरिहंत परमात्मा व गुरूदेव के समक्ष दीप प्रज्जवलन एवं पाट पर विराजित गच्छाधिपतिश्री को गुरूवंदन कर कार्यक्रम की शुरूआत की गयी, पश्चात् पूज्य गच्छाधिपतिश्री ने मंगलाचरण फरमाकर सदन को अग्रिम कार्यवाही हेतू आदेश प्रदान किया। प्रथम सत्र में अतिथि उद्बोधन में अतिथिगणो ने परिषद की स्थापना से लेकर आज तक परिषद द्वारा किये गये गौरवशाली कार्यो की सराहना करते हुये परिषद के उज्जवल भविष्य की कामना की।

पूज्य गच्छाधिपतिश्री सहित मुनि भगवंतो ने भी परिषद परिवार के उपस्थित 1000 से अधिक सदस्यो को अपना आशीवर्चन प्रदान करते हुये श्रीसंघ, गुरू गच्छ एवं परिषद के प्रति जीवनभर समर्पित रहने का संदेश दिया। साथ ही गच्छाधिपतिश्री की निश्रा में गुरू जयन्त जन्मभूमि श्री पेपराल महातीर्थ से गुरू जयन्त समाधि भूमि श्री भाण्डवपुर महातीर्थ तक श्री सौद्धर्म बृहत्तपोगच्छीय त्रिस्तुतिक जैन श्रीसंघ एवं परिषद परिवार द्वारा आयोजित होने वाले छःरिपालक संघयात्रा ‘‘ जयन्त जसयात्रा’’ का शुभ मुहुत र् भी प्रदान किया इस यात्रा का शुभ प्रयाण दिनांक 20 दिसंबर 2023 को पेपराल से होगा एवं यह यात्रा दिनांक 01 जनवरी 2024 को भाण्डवपुर महातीर्थ पहुंचेगी। द्वितीय सत्र में भारतभर से आयी परिषद शाखाओ द्वारा अपने वर्षभर का कार्यो का ब्यौरा प्रस्तुत किया और परिषद कें कार्यो में नवीनता लाने और आगामी वर्षो में कार्ययोजना को लेकर सुझाव भी दिये।

तृतीय सत्र में साथ ही परिषद की चयन समिति द्वारा परिषद शाखाओ द्वारा प्रस्तुत प्रतिवेदनो के आधार
पर पुरूस्कारो की घोषणा कर पूज्य गच्छाधिपतिश्री की निश्रा में पुरूस्कार भी प्रदान किये गये। जिसमें सर्वश्रेष्ठ
शाखा का पुरूस्कार मन्दसौर शाखा, श्रेष्ठ शाखा का पुरूस्कार सूरत शाखा को प्रदान किया गया एवं विविध
क्षेत्रो में सर्वश्रेष्ठ शाखाओ को भी पुरूस्कृत किया गया जिसमें ‘‘चिकित्सा के क्षेत्र में’’ नवयुवक परिषद शाखा मेघनगर को सर्वश्रेष्ठ शाखा पुरूस्कार प्रदान किया गया। मेघनगर शाखा की ओर से पुरूस्कार ग्रहण करने हेतू परिषद अध्यक्ष देवेन्द्र जैन के नेतृत्व में शरद बाफना, राकेश लोढा, रजत कावडि़या, राहुल लोढा, राहुल रूनवाल, गौरव कोठारी, कमलेश कोठारी आदि सदस्य उपस्थित रहें। साथ ही कावडिया ने बताया कि परिषद शाखा मेघनगर को पुरूस्कृत होने पर मेघनगर श्रीसंघ अध्यक्ष शांतिलाल लोढा, महामंत्री शेलेश भंडारी, मनोहर चाैरडिया, दिलिप कोठारी, चंद्रेश भंडारी, विमल जैन, राजेन्द्र लुणावत, नरेन्द्र रांका, शीतल कावडिया, अशोक भंडारी, निलेश कोठारी, राजेश भंडारी, पंकज रांका सहित श्रीसंघ और परिषद के सदस्यो ने शुभाकामनायें दी।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

By nit

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading