पालकमंत्री गुलाब राव पाटिल के पैतृक गांव में भड़की हिंसा, 3 दिन तक के लिए लगा कर्फ्यू | New India Times

विशेष प्रतिनिधि, जलगांव (महाराष्ट्र), NIT:

पालकमंत्री गुलाब राव पाटिल के पैतृक गांव में भड़की हिंसा, 3 दिन तक के लिए लगा कर्फ्यू | New India Times

पालक मंत्री गुलाबराव पाटिल के धरनगांव तालुका के पैतृक गांव में रात को हिंसा भड़क उठी जिसके बाद ज़िला प्रशासन ने शुक्रवार सुबह 11 बजे तक कर्फ़्यू लगा दिया है। पालधी गांव में मंगलवार रात करीब साढ़े नौ बजे दो गुटों में पथराव हुआ। घटना उस वक्त हुई जब पालकी एक धार्मिक स्थल के पास डीजे बजाते हुए वाणी किले की ओर जा रही थी। इस जातीय हिंसा में एक पुलिसकर्मी समेत तीन लोग घायल हो गए हैं। इस घटना से गांव में तनाव का माहौल है। ज़िला प्रशासन ने कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए 31 मार्च तक कर्फ्यू लगा दिया है। पुलिस अधीक्षक एम. राजकुमार ने नागरिकों से किसी भी अफवाह पर विश्वास न करने की अपील की है।

पालकमंत्री गुलाब राव पाटिल के पैतृक गांव में भड़की हिंसा, 3 दिन तक के लिए लगा कर्फ्यू | New India Times

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार रात साढ़े नौ बजे के करीब पालक मंत्री गुलाबराव पाटिल के पैतृक गांव में एक मस्जिद के सामने नमाज के समय डीजे की आवाज के कारण पालकी के भक्तों और मुस्लिम समुदाय के लोगों में डीजे बंद करने को लेकर विवाद हुआ और देखते ही देखते किसी ने डीजे की दिशा में पथर उछाव दिया और पथराव शुरू हो गया। इस इस घटना में दंगाइयों ने तीन वाहनों और कुछ दुकानों में तोड़फोड़ की। इस मामले में पुलिस ने दोनों गुटों के 100 से अधिक लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर 45 लोगों को गिरफ्तार किया है।

पालकमंत्री गुलाब राव पाटिल के पैतृक गांव में भड़की हिंसा, 3 दिन तक के लिए लगा कर्फ्यू | New India Times

दंगे की खबर गांव में फैलने के बाद देर बाद कुछ नागरिकों ने पालधी थाने का घेराव कर संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. पुलिस मामले को संभाल ही रही थी कि आसामाजिक तत्वों में पथराव शुरू हो गया।

हमलावरों ने इस दौरान वाहनों को निशाना बनाते हुए पुलिस वाहन और पंचायत समिति सदस्य मुकुंद नन्नावरे के वाहन में तोड़फोड़ की।

जलगांव पुलिस को इस घटना की सूचना मिलने के बाद जलगांव, धरनगांव और चोपड़ा से अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया है लेकिन गाव में तनावपूर्ण शांति बनी हुई है।

पुलिस पर हमला आरोपी नामजद

पालकमंत्री गुलाब राव पाटिल के पैतृक गांव में भड़की हिंसा, 3 दिन तक के लिए लगा कर्फ्यू | New India Times

नागरिकों ने आरोप लगाया है की पुलिस ने रात के समय धरपकड़ कार्रवाई करते समय बल का प्रयोग किया जिसमें महिलाओं को भी पीटा गया है और आवासों के दरवाजों को भी तोडा गया है।

शेख सलीम शेख गनी कुरैशी ने अज्ञात ट्रक चलाकर पुलिसकर्मियों को मारने की कोशिश की।इसमें पुलिस कांस्टेबल जितेश नाइक घायल हो गया है। साथ ही जब वे पुलिसकर्मियों की सरकारी ड्यूटी कर रहे थे तो उन्होंने पुलिस कर्मियों को हिरासत में लिया, उनके साथ झगड़ा किया, मारपीट की, घायल किया और सरकारी काम में व्यवधान डाला।हेड कॉन्स्टेबल विजय चौधरी की शिकायत पर दोनो समुदाय के बदमाशों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है।

इनके खिलाफ एफआईआर दर्ज

पालकमंत्री गुलाब राव पाटिल के पैतृक गांव में भड़की हिंसा, 3 दिन तक के लिए लगा कर्फ्यू | New India Times

राहुल तुकाराम पाटील, राकेश लोहार, विकी राजेंद्र बिढे, शेखर अशोक चौधरी, चेतन भरत चौधरी, योगेश अशोक चौधरी, भुपेश रविंद्र पाटील,रोहित कुमावत, मिहीर प्रल्हाद बिढे के साथ अन्य ३० से ४० बलवाइयों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया है।

वही दूसरे गुट के समुदाय के संदिग्ध आरोपियों में शेख दानिश शेख मुस्ताक, सलीम युनुस पिंजारी,जाफर शेख जब्बार, शेख कय्युम शेख मेहमुद मन्यार, फरजान खान अरिफ खान, शेख नदिन शेख गफ्फार, शेख नजामोद्दीन शेख उस्मोद्दीन, सुलतान खान आयुब खान, जुबेर शेख हकिम, अजरोद्दीन शेख अमिनोद्दीन, साबीर सलीम मन्यार, आदिल जब्बार शेख, मोहीन शेख मुस्ताक, अक्रमखान आयुबखान, शेख परवेज शेख मुस्ताक, शेख अजगर शेख निसार,शाबीर युनुस पिंजारी, मुसद्दीन शेख खलील शेक,शेख तोसिफ शेख रफिक, जहागीर शेख गफ्फार, शेख शोहेब शेख रफिक, शेख शाखीर शेख गफ्फार, अर्षद शेख रफिक, रिजवान शेख सलीम, निशार शहा मस्तान शहा,अस्लम आयुब खान कुरेशी, जहागीर शहा सुपडु शहा, सुलतान शहा मस्तान शहा, शेख रिजवान शेख रशिद, आवेद खान असलम खान, शेख शकिल शेक अजिज, महोम्मद वसिम मोहम्मद कलीम, इद्रिस शेख शब्बीर, एहसान शेख सत्तार, ईसाक अहमद शब्बीर अहमद, ऐजाज अहमद शब्बीर, नासीर बशीर पिंजारी भिकन कालु भाट, लखन गुलशन भाट, सलमान रहेमान फकिर, जावेद शहा रमजान शहा श, शबीर खान महोम्मद खान, मुस्ताक शेख फकिरा, शहारुख रहेमान फकिर, आवेश मोहसीन देशमुख, जावेद उर्फ इम्रान पठाण अफताफ शेख भोकऱ्या पठाण भंगारवाला छोटु कुरेशी भिकन कुरेशी, युनुस शेख ,आजीम रबानी देशपांडे , नाइम गणी देशपांडे, बाबा मुस्ताक देशपांडे, निसार गुलाब देशपांडे, आरिफ रफिक देशपांडे, भुऱ्या बारिक शेख (प्लॉट भाग), पप्पु रफिक देशपांडे , शेख सलीम शेख हुसेन, समीर देशपांडे, जाबीर पिंजारी श, उर्फ बाबु शेख, जब्बार शेख (मेंम्बर) के साथ अन्य २० से ३० अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। वहीं पुलिस ने सूची से ४५ संदिग्ध लोगों को गिरफ्तार किया है।

By nit

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading