भीमसेना चीफ़ नवाब सतपाल तंवर ने फिल्म ‘मैडम चीफ मिनिस्टर’ दिखाने पर थियटरों में आग लगाने की दी धमकी, फिल्म में बसपा सुप्रीमो मायावती के अपमान का आरोप

देश, राज्य, समाज

साबिर खान, गुरुग्राम/नई दिल्ली, NIT:

सुभाष कपूर की फिल्म मैडम चीफ मिनिस्टर पर भीमसेना और बॉलीवुड के बीच तनातनी बढ़ गई है। भीमसेना के विरोध में आ जाने से उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा सुप्रीमो बहन मायावती के किरदार में नजर आ रही अभिनेत्री ऋचा चड्ढा और अभिनेता मानव कौल की मुश्किलें भी बढ़ती दिखाई दे रही हैं। सूत्रों के मुताबिक अभिनेत्री ऋचा चड्ढा की जान को खतरा हो सकता है। आने वाली 22 जनवरी को रिलीज होने वाली बॉलिवुड हिन्दी फिल्म मैडम चीफ मिनिस्टर का ट्रेलर रिलीज होने के बाद से इस फिल्म का विरोध बढ़ता जा रहा है। बताया जाता है कि फिल्म में बसपा सुप्रीमो मायावती का जीवन चरित्र दिखाया गया है लेकिन आरोप है कि उसमें चरित्र हीनता, बेशर्मी, बेहूदगी और अपमान की सभी सीमाएं लांघ दी गई हैं। फिल्म में मायावती के चरित्र हनन और अपमान करने के गम्भीर आरोप लगे हैं। भीमसेना के संस्थापक एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष नवाब सतपाल तंवर ने फिल्म के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है। वे लगातार फिल्म का विरोध कर रहे हैं और इस फिल्म पर प्रतिबंध लगाने की मांग कर रहे हैं। तंवर की पोस्ट और विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

सोमवार को भीमसेना चीफ़ नवाब सतपाल तंवर ने एक विडियो और एक पोस्टर अपने आधिकारिक फेसबुक पेज से पोस्ट किया है जिसमें उन्होंने सिनेमाघर मालिकों को कड़ी चेतावनी दी है। तंवर ने कहा है कि यदि मैडम चीफ मिनिस्टर फिल्म को किसी भी थियेटर ने चलाया या कोई थियेटर इस फिल्म को दिखाने की तैयारी करते हुए पाया गया तो उनके भीम सैनिक उस थियेटर में आग लगा देंगे जिसके जिम्मेदार थियेटर मालिक स्वयं और भारत सरकार व राज्य सरकारें होंगी। यह पोस्टर और विडियो ट्वीट के माध्यम से पीवीआर, डीटी, एसआरएस, बिग सिनेमा, इनॉक्स मूवीज, एसपीआई सिनेमा, सिनेप्लेक्स मूवीज, सिनेपोलिस, बुक मया शो और मिराज सिनेमा आदि थियेटरों तक भी पहुंचा दिया गया है। यहां तक कि भीमसेना चीफ़ नवाब सतपाल तंवर ने भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, गृह मंत्रालय, पीएमओ, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राज्य सरकारों के पास भी यह सूचना भेज दी गई है। तंवर ने थियेटर मालिकों को कहा है कि वे विनम्र निवेदन करते हैं कि यह फिल्म मायावती के अपमान को दर्शाती है और उनका चरित्र हनन करती है। इस फिल्म को ना दिखाएं, यदि उनकी इस बात को अनसुना करके कोई थियेटर फिल्म दिखाता है तो उस थियेटर को आग के हवाले कर दिया जाएगा। तंवर की इस धमकी से सरकार भी अनजान नहीं है और ना प्रशासन, इस पर थियेटर मालिकों का भी कोई बयान नहीं आया है। ऐसे में भीमसेना की इस धमकी से देश में कभी भी अव्यवस्था फैल सकती है। यदि यह फिल्म सिनेमाघरों में चलाई गई तो परिणाम गम्भीर हो सकते हैं। तंवर की धमकी के बाद से बॉलीवुड में सन्नाटा है, कोई भी कलाकार या निर्माता अपना मुंह खोलने को तैयार नहीं है। उधर बसपा और सपा भी फिल्म के विरोध में उतर आई है। बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के नेताओं ने भाजपा पर मायावती की इमेज खराब करने का आरोप लगाया है।

Leave a Reply