गोपाल किरन समाजसेवी संस्था द्वारा अमृतसर (पंजाब) में 18 अगस्त 2024 को आयोजित होगा ग्लोबल डायमंड अचीवर्स अवार्ड, शोध सेमिनार, देश-विदेश के प्रतिनिधि होंगे शामिल | New India Times

संदीप शुक्ला, ब्यूरो चीफ, ग्वालियर (मप्र), NIT:

गोपाल किरन समाजसेवी संस्था द्वारा अमृतसर (पंजाब), 18 अगस्त 2024 को ग्लोबल डायमंड अचीवर्स अवार्ड, शोध सेमिनार आयोजित किया जाएगा। इस दौरान जापान, श्रीलंका, बंग्लादेश आदि सहित देशों के प्रतिनिधि उपस्थित होंगे।


देश की उभरती हुई प्रतिभाएं जिनको अवसर नहीं मिलने की वजह से हाशिए पर चली जाती हैं उन प्रतिभाओं को खोजने तथा उनको प्रेरित करने के लिए गोपाल किरन समाजसेवी संस्था जो कि गैर राजनैतिक स्वेचिछक संस्था है जो कि विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से वर्ष 1985 से निरंतर जमीनी स्तर पर कार्यरत है। संस्था के द्वारा आगामी 18th अगस्त 2024 को अमृतसर (पंजाब) शिक्षा, सामाजिक, साहित्य, सांस्कृतिक क्षेत्र में कार्यरत महानुभवों के लिए महाकुंभ आयोजित किया जा रहा है। उक्त जानकारी संस्था के अध्यक्ष श्रीप्रकाश सिंह निमराजे ने दी और विस्तार से बताया कि यह कार्यकम प्रातः 9.30 बजे से आरंभ होकर 4.30 बजे तक समाप्त होगा जिसमें चार सत्र होंगे। प्रातः उद्धघाटन के पश्चात तकनीकी सत्र होगा जिसमें निर्धारित विषय पर चर्चा, कविता पाठ होगा साथ ही इस सेमीनार के दौरान तीन पुस्तक जिसमें कि डॉ. सुधांशु कुमार चक्रवर्ती द्वारा लिखित पुस्तक ज्ञान विज्ञान की पाठशाला,राजनीति शाला, इसके साथ ही संस्था द्वारा प्रकाशित पुस्तक का लोकार्पण, अंतिम सत्र में अवार्ड समारोह का होगा जिसमें संस्था द्वारा चयनित समिति द्वारा चयनित सदस्यो का अवार्ड वितरण होगा। संस्था ने इस तरह के अनूठे काठमांडू ( नेपाल),के साथ अभी हाल मैं ही शिमला हिमाचल प्रदेश किया गया। इससे पूर्व ग्वालियर, भोपाल, अशोक नगर, दिल्ली, लखनऊ, अहमदाबाद, देहरादून, चित्तौड़गढ़, बौद्धगया, आगरा, कोलकाता, बेंगलुरु, उज्जैन, औरंगाबाद, कोटा, बिलासपुर आदि जगहों पर किए जा चुके हैं। संस्था ने अपने सेमीनार के दौरान शोधार्थियों के लिए नए विषय दिए हैं और हर कार्यकम अवॉर्ड समारोह में ऐसे पुरुष व महिलाओं को सम्मानित किया जायेगा, जिन्होनें विपरीत परिस्थियों से जूझते हुए स्वयं को एक नया मुकाम दिया तथा राष्ट्र एवं समाज को एक नई दिशा देने में अपना योगदान दिया है। संस्था द्वारा आयोजित कार्यकम मैं जापान, श्रीलंका, बंगलादेश आदि देशों के प्रतिनिधि भाग लेंगे।
अवार्ड हेतु माप दंड निर्धारित किए है जिसक पालन करते हुए व्यक्ति नामांकन/रजिस्ट्रेशन करने हेतु अंतिम तिथि 31/07/2024 तक तक रखी गई है जिसमें शामिल होने वालों को अपना जीवन परिचय, फोटो व उपलब्धियों का विवरण भेज कर कार्यक्रम में नामांकित करना है। यह अवॉर्ड जिन्होंने शिक्षा, साहित्य, हिंदी गीत, संगीत, गजल, उद्यमशीलता, कृषि, नवोन्मेष, सामाजिक कार्य, कला, दस्तकारी, एसटीईएमएम (विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग, चिकित्सा और गणित), भाषा-विज्ञान, पर्यावरण, दिव्यांगजन अधिकार  तथा वन्यजीव संरक्षण आदि क्षेत्रों में विपरीत परिस्थियों से जूझते हुए स्वयं को एक नया मुकाम दिया है तथा राष्ट्र एवं समाज को एक नई दिशा देने में अपना योगदान दिया है।
शिक्षक, शिक्षाविद, शोधार्थी, साहित्यकार अपनी किसी भी विधा (कविता, गीत, बाल कविता, बालगीत, ग़ज़ल, छंद, कहानी, लेख, लघुकथा, उपन्यास, नाटक, शोध पत्र,पद्य या गद्य की  समस्त विधा), समाज सेवी, कलम साधक, समाज सुधारक, कला सेवी आदि योगदान देने वाले पुरुष व महिलाओं को उनके द्वारा किये गए कार्यों के लिए निम्न अवार्ड के लिए गठित चयन समिति की अनुशंसा पर
दिया जायेगा।

  1. किरण ग्लोबल डायमंड Women Achiver’s शक्ति गौरव अवार्ड-2024 (महिलाओं के लिए विभिन्न क्षेत्र में)
  2. सिंबल ओफ नॉलेज डॉ. बी.आर अम्बेडकर ग्लोबल डायमंड अचीवर्स अवॉर्ड (विधि, शिक्षा, जल, नवाचार तथा डॉ. अम्बेडकर की विचारधारा को आगे बढ़ाने के लिए कार्य)
  3. सावित्रीबाई फुले ग्लोबल एजुकेशन डायमंड (शिक्षा,साहित्य)
  4. ग्लोबल रिसर्च अवार्ड
  5. ग्लोबल गोपाल किरन डायमंड अचीवर्स सम्मान (आयुर्वेदिक के लिए कार्य, नवाचार आदि)
  6. अशोका ग्लोबल डायमंड अचीवर्स अवार्ड (व्यापार,शांति एवं न्याय के क्षेत्र में)
  7. साहित्यक, कवियत्री अवॉर्ड
    आदि में से किसी एक के लिए उनके द्वारा उपलब्ध प्रोफाइल, दस्तावेज के आधार पर संस्था द्वारा तय किए मापदंड पूर्ण करने पर होगा।
    यदि आप किसी ऐसे पुरुष व महिला को जानते हैं जिन्होनें शिक्षा, स्वास्थ्य, आजीविका, पर्यावरण, स्वास्थ्य, खेल-कूद, व्यापार अथवा सामाजिक, आर्थिक परिप्रेक्ष्य में कुछ महत्वपूर्ण योगदान दिया है, तो आप उन्हें भी नामित कर सकते है। प्रस्तावित बुक में जो इसी अवसर पर साझा संकलन पुस्तक का प्रकाशन किया जा रहा है। इस पुस्तक मैं जो लेख देना चाहते हैं उसके मापदंड निर्धारित किए है।
    1) विषय से संबंधित मौलिक शोध आलेख संदर्भ सहित (यूनिकोड – कृतिदेव -10) 1500-3000 शब्दों में टाईप कर वर्ल्ड फाईल में 31मई 2024 तक ईमेल – gksss85_org@rediffmail.comपर भेज सकते है।
    2) शोध आलेख में अपना नाम,पद,महाविद्यालय, ई-मेल और मोबाइल नंबर अवश्य लिखें।
    3) मौलिकता प्रमाण पत्र के साथ
    4) किताब की एक प्रति डाक पते पर और आलेख प्रकाशन का ई-सर्टिफिकेट मिलेगा।

संस्था एक अलाभकारी संस्था है जो किसे भी विभाग से आर्थिक सहायता प्राप्त नहीं करती।
संस्था ने पे बेक सोसायटी के तहत इस कार्यकम मैं नामाकित होने वाले जनों से सहयोग लेना आवश्यक रखा है।
किसी भी प्रकार की अधिक जानकारी हेतु फोन न० 9425118370 या 9319206571 पर निसंकोच रूप से संपर्क कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

By nit

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading