फर्ज़ी एप पर इंवेस्टमेंट को लेकर राज्य सायबर पुलिस ने जारी की एडवाइजरी | New India Times

अबरार अहमद खान/मुकीज खान, भोपाल (मप्र), NIT:

फर्ज़ी एप पर इंवेस्टमेंट को लेकर राज्य सायबर पुलिस ने जारी की एडवाइजरी | New India Times

सायबर अपराधी अनजान व्यक्तियों का शोषण करने के लिए लगातार अपनी रणनीति विकसित कर रहे हैं। ऐसे में भोपाल सायबर पुलिस ने अपराधों को रोकने के लिए एडवाइजरी जारी कर लोगों से सावधान रहने के लिए कहा है। पुलिस ने जारी एडवाइजरी में कहा है कि सायबर जालसाजों द्वारा नागरिकों को टेलीग्राम/व्हाट्सएप/फेसबुक एप्लीकेशन के माध्यम से निवेश के नाम पर ठगा जा रहा है। जारी एडवाइजरी में कहा गया है कि टेलीग्राम/व्हाट्सएप/फेसबुक पर शेयर मार्केट में इंवेस्टमेंट राशि पर अधिक लाभ दिलाने के लिए विज्ञापन/मैसेज भेजे जाते हैं, इनके माध्यम से व्हाट्सएप/टेलीग्राम ग्रुपों में लोगों को जोड़कर उन्हें शेयर मार्केट इंवेस्टमेंट संबंधी टिप्स दिए जाते हैं।

जिसके पश्चात् अधिक लाभ दिलाने के लिए जो नये आईपीओ रिलीज होने वाले होते हैं उन पर इंवेस्टमेंट कराकर बड़ा फायदा मिलने का लालच देते हैं।
इसके अतिरिक्त लोकप्रिय ट्रेडिंग एप से मिलते-जुलते अलग प्लेटफॉर्म, डमी/फर्जी एप चैनल जैसे-PROZOKSA, CHC-SES, INDIRA TRADE, ALLY आदि डाउनलोड कराए जाते हैं, जिन पर असली एप जैसे ही इंटरफेस, शेयर मार्केट के उतार-चढ़ाव, इंवेस्टमेंट की गई राशि का बढ़ना-घटना एवं अन्य जानकारियां दिखाई देती हैं। उक्त डमी/फर्जी एप पर इंवेस्टमेंट के लिए लोगों से करंट अकाउंट में पैसे जमा करा लिया जाता है। इन डमी/फर्जी एप्स पर आपका इंवेस्टमेंट एवं लाभ आभासी रूप से दिखता है, परंतु जब पीड़ित अपना पैसा वापस निकालना चाहता है तो वह पैसा नही निकाल पाता।

इसी प्रक्रिया में अपना पैसा वापस निकालने के लिए भी सत्यापन, प्रोसेसिंग फीस आदि कई बहानों से जालसाजों द्वारा पीड़ितों से और अधिक पैसा जमा करा लिया जाता है, और पीड़ित बड़े पैमाने पर धोखाधड़ी का शिकार हो जाते हैं। साइबर पुलिस ने लोगों से अपील की है कि टेलीग्राम/व्हाट्सएप/फेसबुक पर किसी भी अनजान प्रोफाइल, ग्रुप या चैनल से ना जुड़ें ना ही किसी दिए गए लिंक/विज्ञापन पर क्लिक करें।शेयर मार्केट व क्रिप्टो करंसी निवेश पर अत्याधिक लाभ व ऑफर्स के लालच में फीस, रजिस्ट्रेशन, एडवांस ट्रेडिंग मनी, इंवेस्टमेंट आदि के नाम पर किसी खाते में पैसे जमा न करें। टेलीग्राम/व्हाट्सएप पर किसी लिंक के माध्यम से ओपन हुए एप वेबपेज पर अपनी व्यक्तिगत जानकारियां दर्ज न करें।

टेलीग्राम, व्हाट्सएप, फेसबुक या अन्य सोशल मीडिया/मैसेंजर पर सुझाए गए एप्लीकेशन को इंस्टाल न करें।शेयर मार्केट व क्रिप्टो करेंसी आदि में निवेश करने हेतु प्रमाणिक ट्रेडिंग एप्लीकेशन का उपयोग करें। अपने सभी सोशल मीडिया व ईमेल अकाउंट आदि पर टू-फेक्टर ऑथेंटिकेशन की सुविधा चालू करें, ताकि आपके अकाउंट आसानी
से हेक ना किया जा सके।

यदि आपके साथ कोई सायबर अपराध घटित होता है तो उसकी शिकायत अपने नजदीकी पुलिस थाने में या www.cybercrime.gov.in या Toll Free नम्बर 1930 पर करें।

By nit

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading