थाना डबरा देहात पुलिस को मिली बड़ी सफलता | New India Times

पवन परूथी, ग्वालियर (मप्र), NIT:

थाना डबरा देहात पुलिस को मिली बड़ी सफलता | New India Times

फरियादी भगवानलाल मोदी निवासी करहिया रोड भितरवार द्वारा दिनांक 05/12/2023 को थाना डबरा देहात में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि दिनांक 04.12.2023 को वह अपनी धान लेकर मण्डी डबरा में बेचने आया था, जो 1,80,180/- रूपये की धान बेचकर रकम प्राप्त कर शाम को अपने ट्रैक्टर ट्राली से हमराही मिथुन के साथ गांव जा रहा था। जैसे ही वह महाकाल फैक्ट्री के आगे पहुँचा, उस समय शाम के समय रोड किनारे एक लड़का रोड किनारे लेटा हुआ व तीन लड़के खड़े हुए दिखे उनके पास दो मोटर साईकिल खडी थी। उनमें से एक लड़के ने मुझको हाथ दिया मैं समझा हो सकता हैं कि जो लड़का लेटा हुआ है उसकी तबियत खराब है तो मैंने अपना ट्रैक्टर रोककर नीचे उतरा पूछा क्या बात है तो उनमें से एक व्यक्ति ने मेरे पेट में कट्टा अडा दिया और दूसरे ने मेरी जेब में रखे 1,80,180/- रूपये छीन लिये सभी नोट पाँच-पाँच सौ के व एक नोट 100/- रूपये व 80/- रूपये खुल्ले थे। रूपये छीनने के बाद चारो लोग अपनी-अपनी मोटर साइकिलों से डबरा की तरफ भाग गये।

फरियादी की रिपोर्ट पर से थाना डबरा देहात पर अप.क्र. 448/23 धारा 392.34 ताहि, 11/13 एमपीडीव्हीपीके एक्ट का अपराध कायम कर विवेचना में लिया गया और घटना से वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को अवगत कराया गया। थाना डबरा देहात क्षेत्र में दिन दहाड़े हुई उक्त लूट की घटना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक ग्वालियर श्री राजेश सिंह चन्देल द्वारा अति पुलिस अधीक्षक देहात श्री निरंजन शर्मा का उक्त लूट की घटना का शीघ्र पर्दाफाश करने हेतु थाना बल की टीम गठित करने हेतु निर्देशित किया गया। अति पुलिस अधीक्षक देहात द्वारा मामले की गंभीरता को देखते हुए थाना डबरा देहात पुलिस की टीम को घटना स्थल के आसपास के सीसीटीवी फुटेज चेक कर लूट की घटना की शीघ्र पर्दाफाश करने के निर्देश दिए गये।

वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशानुसार एसडीओपी डबरा श्री उमेश गर्ग के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी डबरा देहात निरीक्षक राजेन्द्र सिंह परिहार के नेतृत्व में थाना बल तत्काल मौके पर पहुँचा और घटना स्थल के आसपास व रोड पर लगे सीसीटीव्ही फुटेज चेक किए गये। पुलिस टीम द्वारा आसपास के लोगों से भी चर्चा की तो उक्त लूट की घटना संदिग्ध प्रतीत होने से मामले के फरियादी भगवानलाल व उसके साथ मिथुन जाटव ने पृथक-पृथक पूछताछ की गई तो उन दोनों के द्वारा कभी कुछ तो कभी कुछ होना बताया। मामला पूर्ण रूप से संदेहात्मक पाया जाने से फरियादी व साथी मिथुन जाटव से गहनता से पूछताछ की तो फरियादी द्वारा बताया गया कि मेरे चाचा बलराम मोदी ने मेरी पाँच बीघा जमीन पर कब्जा कर लिया इसलिये उनको झूठा फसाने के लिये षडयंत्र रचा था। उक्त सारे रूपये मैंने पन्नी में लपेटकर ट्रैक्टर ट्राली के टूल बॉक्स में छिपाकर रख दिये हैं। पुलिस टीम द्वारा फरियादी की निशादेही पर ट्रेक्टर ट्राली के टूल बॉक्स से 1,80,180/- रूपये बरामद कर विधिवत जप्त किये गये। फरियादी भगवानलाल मोदी द्वारा अपने चाचा बलराम मोदी को लूट के झूठे प्रकरण में फसाने के उद्देश्य से मिथुन जाटव के साथ मिलकर लूट की घटना का षडयंत्र रचा था। फरियादी द्वारा झूठी लूट की रिपोर्ट दर्ज कराने पर डबरा देहात पुलिस द्वारा फरियादी और उसके साथी के खिलाफ षडयंत्र रचने पर वैधानिक कार्यवाही की जा रही है।

जप्त मशरूका:- 1,80,180/- रुपये।

सराहनीय भूमिका:- थाना प्रभारी डबरा देहात निरीक्षक राजेन्द्र सिंह परिहार, उनि योगेन्द्र सिंह मावई, सउनि नवल सिंह कुशवाह, सउनि राकेश कछवारे, प्र.आर. हेमन्त यादव, प्र.आर. महेन्द्र रावत, आर. आकाश शर्मा, आर. शैलेन्द्र शर्मा, आर. जितेन्द्र साहू, आर.चा. राघवेन्द्र यादव, आर.राजेश रावत, आर. सत्येन्द्र यादव, आर. कमलेश रावत, आर. रामू व आर. राजकुमार की सराहनीय भूमिका रही।

By nit

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading