गीतानंद महाराज ने श्रीमद्भगवत गीता का प्रचार कर भक्तों को सद्मार्ग पर चलने का दिया था संदेश | New India Times

अली अब्बास, ब्यूरो चीफ, मथुरा (यूपी), NIT:

गीतानंद महाराज ने श्रीमद्भगवत गीता का प्रचार कर भक्तों को सद्मार्ग पर चलने का दिया था संदेश | New India Times

महान विभूति सद्गुरूदेव श्रीस्वामी गीतानंद जी महाराज भिक्षु: की 19 वीं पुण्यतिथि पर वृन्दावन के गांधी मार्ग स्थित श्री गीता आश्रम में विभिन्न धार्मिक आयोजन हुए। इस दौरान मंहत, संत व धर्माचार्यों ने आध्यात्म चिंतन के साथ महाराजश्री को नमन कर भावांजलि अर्पित की। वहीं समाजसेवियों ने भी समाज और राष्ट्र हित में संत गीतानंद जी महाराज द्वारा किये गये कार्यों को याद कर उनसे प्रेरणा लेने पर जोर दिया।

महामंडलेश्वर डा.स्वामी अवशेषानंद महाराज की अध्यक्षता में आयोजित विराट श्रद्धांजलि सभा में महामंडलेश्वर गोविंदानंद तीर्थ महाराज ने कहा कि महाराजश्री की भक्ति के साथ-साथ सेवा में विशेष रूचि थी। उन्होंने देश में किसी तरह की आपदा आयी हो या फिर सीमा पर युद्ध हो हर समय अपने सरल ह्दय का दर्शन कराते हुए पीड़ित मानवता की सेवा में कोई कसर नहीं छोडी। एनयूजेआई के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व ब्रज प्रेस क्लब के अध्यक्ष डॉ. कमलकांत उपमन्यु एडवोकेट ने कहा कि गीतानंद महाराज ने गीता, वाणी और प्रवचन के माध्यम से लोगों में जनजाग्रति पैदा की। वहीं आध्यात्म के माध्यम से मानव को जोड़ने का जो काम किया वह हमेशा स्मरणीय रहेगा।

कार्यक्रम का शुभारंभ महाराजश्री के चित्रपट के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन एवं माल्यार्पण कर किया। महामंडलेश्वर डा.स्वामी अवशेषानंद महाराज ने कहा कि गीतानंद महाराज ने जीवन पर्यंत श्रीमद्भगवत गीता का प्रचार-प्रसार कर भक्तों को सद्मार्ग पर चलने का संदेश दिया। कार्यक्रम का संचालन रामजीवन शर्मा द्वारा किया गया। श्रद्धांजलि सभा के पश्चात संतो, महन्तों, महामंडलेश्वरों का विशेष भण्डारा हुआ। कार्यक्रम महामंडलेश्वर नवलगिरी महाराज, बलराम बाबा, सुरेशानंद महाराज, हरिबोल बाबा, बिहारी लाल वशिष्ठ, राधेलाल पाठक डॉ. विनोद बनर्जी, पार्षद राधाकृष्ण पाठक, वरिष्ठ पत्रकार अनंत स्वरूप वाजपेयी देशभक्त, अनूप शर्मा, छैलबिहारी शर्मा, अमेरिका से आये पं. सुनील, शांति, शांता, अनीता, कमीनी, राधाकृष्णा, देविका, गोपाल चतुर्वेदी, राजकुमार तोमर, डॉ. विवेक प्रिय आर्य आदि मौजूद रहे।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts to your email.

By nit

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading