चांद के साउथ पोल पर भारत ने परचम फहराकर रचा इतिहास | New India Times

रहीम शेरानी हिन्दुस्तानी, ब्यूरो चीफ, झाबुआ (मप्र), NIT:

चांद के साउथ पोल पर भारत ने परचम फहराकर रचा इतिहास | New India Times

देश का ऐतिहासिक पल चंद्रयान- 3 के चांद के साउथ पोल पर लैंडिंग बड़ी अहम मानी जा रही है।

चांद के साउथ पोल पर भारत ने परचम फहराकर रचा इतिहास | New India Times

इसलिए भारत दुनिया का पहला देश है जो चांद के दक्षिणी ध्रुव क्षेत्र पर पहुंचा है पूरे देश में जश्न का माहौल है उक्त उदगार आज पूर्व केंद्रीय मंत्री झाबुआ विधायक कांतिलाल भूरिया ने देशवासियों को बधाई देते हुए कहा की प्रदेश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की दूरदर्शिता ने अंतरिक्ष की महत्वपूर्ण महत्वत्ता को पहचाना साल 1962 में भारत में अंतरिक्ष का सफ़र करने का फ़ैसला किया था और देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने भारतीय राष्ट्रीय अंतरिक्ष अनुसंधान समिति की स्थापना की बाद में डॉक्टर विक्रम सारा भाई ने उन्नत टेक्नोलॉजी के विकास के लिए 5 अगस्त 1969 को इसका नाम बदलकर भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो कर दिया था
प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री निर्मल मेहता ने कहा कि अमेरिका रूस और चीन के बाद भारत ऐसा देश बना है।

भारत के वैज्ञानिक एम शंकरन एस ए सोमनाथ पीर यू मू वेल् ए उन्नीकृष्णन नायर डॉ के कल्पना के प्रयासों से विश्व में भारत देश का नाम को रोशन करते हुए उन्होंने आज हमारे देश की जनता जनार्दन को गौरवान्वित कर दिया वैज्ञानिकों को बधाई देते हुए मेहता ने कहा कि धन्य है हमें देश में ऐसे वैज्ञानिकों का सानिध्य प्राप्त हुआ जो आज विश्व में भारत देश का नाम रोशन कर रहे हैं उन्होंने कहा कि चंद्रमा पर संयुक्त राज्य अमेरिका रूस और चीन के साथ जुड़कर और एक अंतरिक्ष शक्ति के रूप में यह प्रयास उभरेगा यह भारत की निजी अंतरिक्ष कंपनियों के लिए अगले दशक के भीतर वैश्विक लॉन्च बाजार में अपनी हिस्सेदारी 5 गुना बढ़ाने के लक्ष्य को आगे बढ़ाएगी इससे पहले चंद्रमा मिशन लॉन्च किया गया है।

ज़िला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रांका ने कहा कि इसरो भारत की अंतरिक्ष यात्रा में एक नया अध्याय लिख रहा है और प्रत्येक भारतीय के सपनों और महत्वाकांक्षाओं को ऊपर उठा रहा है इस कोशिश में रूस नाकाम हो चुका है ऐसे में भारत के चंद्रायन 3- मिशन बढ़ गई है पूरी दुनिया की निगाहें इस मिशन पर थी विदित हो कि चंद्रयान तीन की सफलता के लिए देश में पूजा अर्चना और प्रार्थनाओं का दौर भी चलता रहा आज देश के प्रदेश के हर जिले के सर्वधर्म लोगों ने जो इस चंद्रयान टीम की सफ़लता के लिए प्रार्थनाओं व अपनी श्रद्धा के स्वरूप जो कार्य किया है उसके लिए हम उनके आभारी रहेंगे।

विधायक गण वीर सिंह भूरिया वाल सिंह मैडा प्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष डॉ विक्रांत भूरिया पूर्व विधायक जेवियर मेडा जिला पंचायत अध्यक्ष सोनल भाबर वरिष्ठ कांग्रेस नेता रमेश दोषी कांग्रेस प्रवक्ता साबिर फिटवेल हेमचंद डामोर आशीष भूरिया गेंदाल डामोर यमन शेख महिला कांग्रेस अध्यक्ष श्वेता गंगा मोहनिया विजय भाबर चंदूलाल पडियार ठाकुर निर्भय सिंह ठाकुर आदित्य सिंह बंटू अग्निहोत्री विनय भाबर राजेश भट्ट ठाकुर रविंद्र सिंह घनश्याम सिंह सेमलिया मन्नालाल हमद बंसी बारिया फूलचंद जैन वीरेंद्र मोदी आशीष भूरिया गौरव सक्सेना विशाल राठौर गोपाल शर्मा जितेंद्र शाह वसीम सैयद मेथियस भूरिया नार्वेश अमलियार राशिद कुरैशी करीम शेख गोलू कुरैशी वरुण मकवाना दीपू डोडियार राजेश डामोर शीला मकवाना सुनीता अलावा मारिया डोडियार सूरज भूरिया रोहित हटीला इश्तियाक खान प्रेम गुंडिया नूर भाबर मुकेश शर्मा बलवीर सिंह सोहेल आदि नेताओं ने भारतीय अंतरिक्ष अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो के वैज्ञानिकों के प्रति आभार प्रकट किया है।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts to your email.

By nit

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading