निमाड़ में आंधी तुफान - बारिश का अलर्ट, आज भी कुछ जगह बिजली गिरने का अनुमान | New India Times

रहीम शेरानी हिन्दुस्तानी, ब्यूरो चीफ, झाबुआ (मप्र), NIT:

मेघनगर झाबुआ में मानसून के पहले ही एक दिन में ढाई इंच से अधिक बारिश 18 जून तक होगी मानसून की एंट्री महाराष्ट्र के कई हिस्सों को कवर कर चुका मानसून मध्य प्रदेश की सीमा के करीब है, लेकिन बंगाल की खाड़ी और अरब सागर की ब्रांच के कमज़ोर होने की वजह से इसकी एंट्री में 4 से 5 दिन और लगेंगे। आई एम डी  भोपाल के सीनियर वैज्ञानिक डॉ.वेदप्रकाश सिंह ने बताया, प्रदेश में मानसून 18 जून तक आ सकता है। दक्षिण हिस्से से मानसून एंटर होगा। इधर, प्रदेश में प्री-मानसून की एक्टिविटी जारी है। छिंदवाड़ा के चांद के सिरस सिंगोड़ी गांव में बिजली गिरने से 18 साल के चंदन कहार की मौत हो गई।

वहीं शाम के बाद भोपाल, विदिशा, देवास, नीमच, सीहोर, खरगोन के महेश्वर, इंदौर, शाजापुर, खंडवा के ओंकारेश्वर, पांढुर्णा, डिंडोरी, सिवनी, बालाघाट, अशोकनगर, छिंदवाड़ा, उदयगिरि, राजगढ़, अलीराजपुर, धार, सागर, दमोह, अनूपपुर के अमरकंटक, रायसेन और बड़वानी जिलों में भी मौसम बदला रहा।

खजुराहों में सबसे ज्यादा 45.4 डिग्री टेम्परेचर

इधर, कई जिलों में गर्मी का असर भी देखा गया। छतरपुर के खजुराहो में टेम्प्रेचर सबसे ज्यादा 45.4 डिग्री रहा। वहीं, बिजावर में 45.3 डिग्री और निवाड़ी के पृथ्वीपुर में पारा 45 डिग्री दर्ज किया गया। सबसे गर्म टॉप-10 शहरों में ग्वालियर, नौगांव, सिंगरौली, रीवा, सतना, सीधी और दमोह भी शामिल हैं। ग्वालियर-नौगांव में 44.6 डिग्री, सिंगरौली में 44.4 डिग्री, रीवा में 44.2 डिग्री, सतना में 44.1 डिग्री, सीधी में 43.8 डिग्री और दमोह में टेम्प्रेचर 43.5 डिग्री रहा। बड़े शहरों की बात करें तो भोपाल में 39.8 डिग्री, इंदौर में 35.8 डिग्री, जबलपुर में 41.4 डिग्री और उज्जैन में तापमान 36.6 डिग्री रहा।

मेघनगर में मानसून के पहले ही एक दिन में ढाई इंच से अधिक बारिश

झाबुआ जिले में प्री मानसून बारिश का असर लगातार चौथे दिन देखने को मिला। मेघनगर में जमकर ढाई इंच बरसात हुई। झाबुआ में 68 मिलीमीटर बारिश एक ही दिन में रिकार्ड की गई। ये जिले में इस साल एक स्थान पर अब तक हुई सबसे अधिक बारिश है।

18 जून तक होगी मानसून की एंट्री

धार क्षेत्र में आंधी-तूफान से 9 ट्रांसफार्मर और 31 खंभे टूटकर गिरे

धार क्षेत्र में जोरदार आंधी-तूफान के साथ बारिश हुई थी। आंधी के कारण बिजली वितरण व्यवस्था को काफी नुकसान पहुंचा है। धार संभाग में 9 ट्रांसफार्मर और करीब 31 बिजली के पोल टूटकर गिर गए। ट्रांसफार्मर के गिरने के कारण वे खराब भी हो गए हैं। सबसे ज्यादा नुकसान दिग्ठान और केसूर क्षेत्र में हुआ है। बिजली कंपनी से मिली जानकारी के अनुसार धार संभागीय क्षेत्र में आंधी-तूफान के कारण काफी नुकसान हुआ है।

इन जिलों में बदला रहेगा मौसम

अलीराजपुर, झाबुआ, धार, बड़वानी, खरगोन, बुरहानपुर, खंडवा, हरदा, पांढुर्णा, छिंदवाड़ा, सिवनी, मंडला, बालाघाट, भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, मुरैना, श्योपुरकलां, शिवपुरी, विदिशा, रायसेन, नर्मदापुरम, बैतूल, सीहोर, देवास, शाजापुर, राजगढ़, आगर-मालवा, उज्जैन, रतलाम में आंधी और गरज-चमक की स्थिति रहेगी। कहीं-कहीं बारिश भी हो सकती है।

इसलिए ऐसा मौसम

आईएमडी, भोपाल की सीनियर वैज्ञानिक दिव्या ई. सुरेंद्रन ने बताया कि वेस्टर्न डिस्टरबेंस और साइक्लोनिक सर्कुलेशन की वजह से प्री-मानसून एक्टिविटी है। बुधवार को कई जिलों में मौसम बदला रहा। सिस्टम की वजह से आकाशीय बिजली गिरने और चमकने का अनुमान है। आम लोगों के लिए गाइडलाइन जारी की है।
अगले 2 दिन 14,15 जून को ऐसा रहेगा मौसम…
14 जून को ऐसा रहेगा मौसम
*गर्मी का अलर्ट
सतना, रीवा, मैहर, मऊगंज, सीधी और सिंगरौली।

आंधी-बारिश ऑरेंज अलर्ट
धार, झाबुआ, अलीराजपुर, बड़वानी, खरगोन, खंडवा, बुरहानपुर, हरदा, नर्मदापुरम, बैतूल, छिंदवाड़ा, पांढुर्णा, सिवनी, मंडला और बालाघाट

आंधी, गरज-चमक का यलो अलर्ट
इंदौर, उज्जैन, ग्वालियर, शिवपुरी, मुरैना, रतलाम।

15 जून के लिए यलो अलर्ट
आंधी, गरज-चमक का यलो अलर्ट
अलीराजपुर, बड़वानी, खरगोन, बुरहानपुर, खंडवा, हरदा, नर्मदापुरम, बैतूल, छिंदवाड़ा, पांढुर्णा, सिवनी, मंडला और बालाघाट आदी है।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

By nit

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading