शिक्षक विद्यार्थियों को संस्कार और संस्कृति से प्रेरित गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करें: उप मुख्यमंत्री बैरवा | New India Times

अशफ़ाक़ क़ायमखानी, सीकर/जयपुर (राजस्थान), NIT:

शिक्षक विद्यार्थियों को संस्कार और संस्कृति से प्रेरित गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करें: उप मुख्यमंत्री बैरवा | New India Times

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में लक्ष्य अंत्योदय, पथ अंत्योदय, प्रण अंत्योदय’ के भाव के साथ “गांव चलों अभियान” कार्यक्रम के तहत उपमुख्यमंत्री प्रेमचंद बैरवा ने शनिवार का दिन लक्ष्मणगढ़ की ग्राम पंचायत लालासी में बिताया। उप मुख्यमंत्री बैरवा ने गांव चलो अभियान के दूसरे दिन लालासी गांव में ही अनुसूचित जाति एवं जनजाति समाज से संवाद किया तथा गांव स्थित शिव मंदिर गोगाजी मंदिर श्री हरिराम बाबा मंदिर में दर्शन कर बऊ गांव स्थित बऊ धाम में संतों का आशीर्वाद लिया।

उप मुख्यमंत्री प्रेमचंद बैरवा ने शनिवार को लक्ष्मणगढ़ क्षेत्र के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय लालासी के विद्यार्थियों से संवाद किया। इस दौरान विद्यालय की कक्षा 8 की छात्रा अनामिका कंवर के सवाल पर जवाब देते हुए उपमुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे जीवन में शिक्षा का सबसे ज्यादा महत्व है लेकिन हमें पढ़ाई के साथ-साथ खेलकूद पर भी ध्यान देते हुए अपनी प्रतिभा को निखारना चाहिए। उन्होंने समय प्रबंधन से संबंधित सवाल का जवाब देते हुए कहा कि अगर आप टाइम टेबल बनाकर कार्य करेंगे तो समय प्रबंधन की विद्या को अपने आप सिख जायेंगे। उन्होंने विद्यालय के कक्षा 9 के छात्र गोविंद शर्मा के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि विद्यार्थियों को संस्कार और संस्कृति से प्रेरित गुणवत्तापूर्ण शिक्षा हासिल करनी चाहिए। इस दौरान उन्होंने संबोधित करते हुए कहा कि शिक्षकों को विद्यार्थियों की प्रतिभा को निखारकर उनकों आगे बढ़ाने का कार्य करें ताकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विकसित भारत का सपना पूरा हो सके। इस दौरान उन्होंने विद्यालय के कक्षा-कक्षों का निरीक्षण कर विद्यार्थियों को मिलने वाली सुविधाओं की जानकारी प्रधानाध्यापक अरविन्द भास्कर से प्राप्त की।

उपमुख्यमंत्री बैरवा ने लालासी गांव के प्रगतिशील किसान भंवरलाल के कृषि फार्म पर पहुंच कर उनके द्वारा कृषि की आधुनिक तकनीकों द्वारा तैयार की जा रही फसलों और सब्जियों की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने किसान भंवरलाल के खेत में सूक्ष्म सिंचाई योजना के तहत बने फार्म पॉन्ड और बकरी फार्म का निरीक्षण कर आवश्यक जानकारी प्राप्त की।

उपमुख्यमंत्री बैरवा ने लालासी गांव में ही अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति समाज के लोगों से संवाद किया। इस दौरान उन्होंने संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक अच्छी सोच के साथ पिछड़े समाजों के उत्थान के लिए लगातार कार्य कर रहे हैं। उन्होंने अनुसूचित जाति एवं जनजाति समाज के उत्थान में संविधान निर्माता डॉ भीमराव अंबेडकर के योगदान के संबंध में चर्चा की गई। कार्यक्रम में ग्रामवासियों द्वारा अपनी समस्याओं से उपमुख्यमंत्री को अवगत करवाया जिनके समाधान के लिए उपमुख्यमंत्री ने संबंधित विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया। इस अवसर पर पूर्व केंद्रीय मंत्री सुभाष महरिया ने अनुसूचित जाति, जनजाति की चिराणियां बस्ती में लोगों से संवाद करते हुए कहा कि अनुसूचित जाति, जनजाति समाज के दो व्यक्तियों को रोजगारपरक प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए सुधीर महरिया स्मृति संस्थान की ओर से नि:शुल्क सहायता उपलब्ध करवाई जायेगी।

उप मुख्यमंत्री बैरवा ने गांव लालासी में ही स्थित शिव मंदिर, गोगाजी एवं श्री हरिराम बाबा मंदिर में दर्शन कर देश-प्रदेश की समृद्धि की कामना की। उन्होंने बऊ गांव स्थित बऊ धाम जाकर संतों का आशीर्वाद लिया तथा धाम स्थित गौशाला का भ्रमण किया।

उप मुख्यमंत्री बैरवा ने कहा कि साधु-संतों का सानिध्य पाकर मैं सदैव ही ऊर्जा और उत्साह से भर जाता हूँ। मैं स्वयं को सौभाग्यशाली मानता हूँ कि आज बऊ धाम में श्री नवा नाथ जी महाराज, श्री भोला नाथ जी महाराज, श्री रतिनाथ जी महाराज, संत श्री ओम नाथ जी महाराज व गोशाला में पूज्य गौ-माताओं के पावन दर्शन कर जगत कल्याण व लोकमंगल के लिए प्रार्थना की।

इस दौरान कार्यक्रम में भाजपा जिला अध्यक्ष पवन मोदी, लक्ष्मणगढ़ नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष दिनेश जोशी, सीकर व्यापार संघ अध्यक्ष महावीर चौधरी, नवरंग चौधरी,अमृत ख्यालिया, लालासी सरपंच सुचित्रा गढवाल, पंचायत समिति सदस्य राजेश खाखल, लक्ष्मणगढ़ एसडीएम राजेश मीणा,डीएफओ विरेन्द्र कृष्णियां, आरटीओ जगदीश अमरावत, डीटीओ ताराचंद बंजारा,सहायक निदेशक सांख्यिकी डॉ. अनिल शर्मा सहित जिला स्तरीय, सीडीईओ विनोद जानू,डीईओ शीशराम कुल्हरी सहित ब्लॉक स्तरीय अधिकारी, जनप्रतिनिधि, ग्रामीणजन बडी संख्या में उपस्थित रहे।

By nit

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading