सुदूर पहाड़ी भारिया आदिवासी समुदाय के साथ ही अन्य ग्रामीणों को पगडंडी, पथरीले और ऊबड़-खाबड़ सड़क से मिलेगी मुक्ति, कलेक्टर ने चौपाल में लिये विभिन्न निर्णय | New India Times

मो. मुजम्मिल, जुन्नारदेव/छिंदवाड़ा (मप्र), NIT:

सुदूर पहाड़ी भारिया आदिवासी समुदाय के साथ ही अन्य ग्रामीणों को पगडंडी, पथरीले और ऊबड़-खाबड़ सड़क से मिलेगी मुक्ति, कलेक्टर ने चौपाल में लिये विभिन्न निर्णय | New India Times

जुन्नारदेव विकासखंड के अंतर्गत तामिया के पातालकोट क्षेत्र के सुदूर पहाड़ी ग्राम जड़, खमारपुर और घानाकोड़िया में रहने वाले भारिया आदिवासी समुदाय के साथ ही अन्य ग्रामीणों को पगडंडी, पथरीले और ऊबड़-खाबड़ सड़क से मुक्ति मिलेगी तथा वे बेहतर सड़क मार्ग का उपयोग कर सकेंगे। इस संबंध में कलेक्टर श्री मनोज पुष्प द्वारा आज जिला मुख्यालय से लगभग 100 कि.मी.दूर पातालकोट क्षेत्र के ग्राम जड़ में पीएम जनमन मिशन (पी.वी.टी.जी.) योजना के अंतर्गत आयोजित चौपाल में ग्रामवासियों से चर्चा की गई। चर्चा के बाद सड़क निर्माण के संबंध में निर्णय लिया जाकर इसके प्रस्ताव कार्य योजना में शामिल कराये गये।

चौपाल में लिये गये इस निर्णय से भारिया जनजाति समुदाय के लोगों में अत्यंत प्रसन्नता और उत्साह देखा गया। चौपाल में ग्राम हर्राकछार में पिछले 20 दिनों से बिजली बंद रहने की जानकारी देने पर कलेक्टर श्री पुष्प द्वारा तुरंत मोबाइल पर अधीक्षण यंत्री म.प्र.पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी को निर्देश दिये गये कि तत्काल बिजली आपूर्ति की व्यवस्था सुनिश्चित करें। इस पर अधीक्षण यंत्री ने बताया कि आज ग्राम हर्राकछार में नया ट्रांसफार्मर पहुंच चुका है तथा शाम के पहले-पहले ट्रांसफार्मर की स्थापना कर बिजली की व्यवस्था कर दी जायेगी। भारिया समुदाय के ग्रामीणों ने कलेक्टर श्री पुष्प की इस त्वरित पहल पर भी प्रसन्नता व्यक्त की।

चौपाल में उपस्थित ग्रामीणों को पीएम जनमन मिशन (पी.वी.टी.जी.) योजना के कार्ड वितरित करने के साथ ही ग्राम हर्राकछार, जड़, मादल, खमारपुर, बातरा आदि के भारिया व गोंड समुदाय के लगभग 200 परिवारों को नि:शुल्क कंबल, स्वेटर, फल, बिस्किट, खिलौने आदि वितरित किये गये। साथ ही सामूहिक रूप से वनभोज में भी सभी ने सहभागिता की। इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री पार्थ जैसवाल, सहायक कलेक्टर सुश्री तनुश्री मीणा, सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य श्री सत्येन्द्र सिंह मरकाम, क्षेत्र संयोजक श्री रवि कनोजिया, तहसीलदार एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत तामिया श्री संतोष मांडलिक, अन्य खंड स्तरीय अधिकारी, ग्राम पंचायत हर्राकछार की सरपंच श्रीमती सोनवती कुडोपा, पंच, भूतपूर्व सरपंच, श्री शंकर कुडोपा, अन्य जनप्रतिनिधि और बड़ी संख्या में ग्राम हर्राकछार, जड़, मादल, खमारपुर, बातरा आदि के भारिया व गोंड समुदाय के ग्रामीणजन उपस्थित थे।

कलेक्टर पुष्प ने इस अवसर पर बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पीएम जनमन मिशन (पी.वी.टी.जी.) योजना के क्रियान्वयन के लिये आगामी 15 जनवरी 2024 को प्रदेश के शहडोल जिले में मेगा ईवेंट कार्यक्रम आयोजित किया गया है। इस कार्यक्रम से प्रधानमंत्री श्री मोदी ‍छिंदवाड़ा जिले के भारिया हितग्राहियों से सीधा संवाद करेंगे। इसके लिये आदिवासी विकासखंड मुख्यालय तामिया के एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय में जिला स्तरीय कार्यक्रम आयोजित किया गया है जिसमें आप सभी आमंत्रित हैं।

उन्होंने बताया कि पीएम जनमन अभियान और इस मेगा इवेंट के संबंध में जागरूकता के लिये भारिया जनजाति बसाहटों में एक और 2 जनवरी तक “हमरा गांवक नवता तिहार”, “गांवक नवता तिहार”/हमरा जनमन” अभियान संचालित किया जा रहा है तथा इसी परिप्रेक्ष्य में आज इस ग्राम में भी आपको इस योजना की जानकारी देने के लिये यह कार्यक्रम आयोजित किया गया है। पीएम जनमन योजना के अंतर्गत आपके ग्रामों में अधिकारी पहुंचकर आपसे ग्राम के विकास के संबंध में चर्चा करेंगे और आपकी आवश्यकताओं के अनुरूप प्रस्तावों को कार्य योजना में शामिल करायेंगे। ये अधिकारी उन्हें आवंटित किये गये ग्राम में रात्रि विश्राम भी करेंगे। उन्होंने ग्रामीणों से उनके ग्राम की विभिन्न आवश्यकताओं को सभी के समक्ष प्रस्तुत करने के लिये कहा जिस पर भारिया समुदाय के साथ ही अन्य ग्रामीणों ने सड़क, बिजली, पानी, सीमेंट कांक्रीट रोड, आंगनवाडी भवन आदि के प्रस्ताव रखे।

ग्राम में पहली बार कलेक्टर के पहुंचने पर बाजे-गाजे और पारंपरिक रूप से हुआ स्वागत- पातालकोट क्षेत्र के सुदूर अंचल के ग्राम जड़ में कलेक्टर श्री पुष्प के पहली बार पहुंचने पर ग्रामवासियों ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुये बाजे-गाजे व रमढोल बजाकर उनका आत्मीय स्वागत किया और तिलक लगाकर व उन पर पुष्प वर्षा करके अभिनंदन किया । उल्लेखनीय है कि कलेक्टर श्री पुष्प अन्य अधिकारियों के साथ ग्राम बातरा से पगडंडी, ऊबड़-खाबड़ व पथरीले वन मार्ग से होते हुये लगभग 7 कि.मी. पैदल चलते हुये पहली बार ग्राम जड़ पहुंचे ।
3 सड़कें बनेंगी- ग्राम जड़ में कलेक्टर श्री पुष्प की उपस्थिति में ग्रामवासियों ने जड़ से बातरा तक लगभग 7 कि.मी., हर्राकछार से खमारपुर तक लगभग 3 कि.मी. और घानाकोडिया से गैलडुब्बा तक लगभग 8 कि.मी. तक सड़क निर्माण के प्रस्ताव रखे । ग्राम हर्राकछार में ग्राम से शमशान घाट तक लगभग 150 मीटर सीमेंट कांक्रीट रोड निर्माण के साथ ही ट्रांसफार्मर लगाने और ग्राम खमारपुर में पानी व आंगनवाडी भवन निर्माण के प्रस्ताव भी रखे गये । कलेक्टर द्वारा संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये गये कि इन प्रस्तावों को कार्य योजना में शामिल करायें।

ग्राम जड़ में सर्वे के अनुसार हितग्राही होंगे लाभान्वित- चौपाल में छात्रावास अधीक्षक श्री गणेशप्रसाद धुर्वे ने बताया कि ग्राम जड़ के परिवारों का सर्वे कार्य पूर्ण कर लिया गया है। इस ग्राम की आबादी 154 है जिसमें 21 भारिया और 15 गौंड परिवार हैं एवं एक भारिया परिवार में शासकीय सेवक हैं। भारिया समुदाय के 14 परिवारों द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आवास निर्माण, 14 परिवारों द्वारा गौ-शाला निर्माण, 6 परिवारों द्वारा मेढ बंधान, 11 परिवारों द्वारा प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अंतर्गत गैस कनेक्शन, 2 परिवारों द्वारा वृध्दावस्था पेंशन, 5 परिवारों द्वारा वनाधिकार पट्टा और 4 परिवारों द्वारा कुंआ निर्माण के प्रस्ताव दिये गये हैं। इसी प्रकार गौंड समुदाय के 7 परिवारों द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आवास निर्माण, 7 परिवारों द्वारा गौ-शाला निर्माण, 6 परिवारों द्वारा मेढ बंधान, 2 परिवारों द्वारा वृध्दावस्था पेंशन, 5 परिवारों द्वारा वनाधिकार पट्टा और 3 परिवारों द्वारा कुंआ निर्माण के प्रस्ताव दिये गये हैं । इन सभी प्रस्तावों को कार्य योजना में शामिल करने के निर्देश दिये गये ।

वनभोज में क्षेत्रीय व्यंजनों का चखा स्वाद- कलेक्टर श्री पुष्प द्वारा वनभोज में अधिकारियों और भारिया व गौंड समुदाय के ग्रामीणों के साथ पंगत में बैठकर क्षेत्रीय व्यंजनों का स्वाद चखा। इस भोजन में स्थानीय निवासियों द्वारा मक्के की रोटी, टमाटर की चटनी, बैंगन का भुर्ता, बल्लर के बीजों की सब्जी, चना भाजी और कुटकी के भात का सभी ने आनंद लिया। चौपाल के बाद कलेक्टर ने स्थानीय निवासियों द्वारा बनाये जा रहे क्षेत्रीय व्यंजनों के निर्माण की प्रक्रिया का अवलोकन भी किया और भोजन पकाने वालों की सराहना की।

चौपाल के दौरान ग्रामवासियों ने क्षेत्रीय भाषा में पीएम जनमन मिशन योजना पर आधारित लोक गीत और युवाओं द्वारा शैला नृत्य की आकर्षक व सराहनीय प्रस्तुति दी गई। ग्राम की बेटी सुश्री मीरा धुर्वे ने क्षेत्रीय भाषा में प्रधानमंत्री जनजाति आदिवासी न्याय महाअभियान के अंतर्गत भारिया आदिवासी समुदाय के लोगों के लिये 9 मंत्रालयों से संबंधित 11 महत्वपूर्ण क्षेत्रों पर केन्द्रित भारत सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का शत-प्रतिशत लाभ दिये जाने के संबंध में क्षेत्रीय भाषा में विस्तार से जानकारी दी जिसमें सबको पक्का घर, हर घर नल से जल, गांव-गांव तक सड़क, घर तक बिजली, शिक्षा के लिये हॉस्टल, कौशल विकास, दूरदराज गांव तक मोबाईल मेडिकल यूनिट व नेटवर्क, सबको पोषण, उन्नत आजीविका, मुफ्त राशन व एलपीजी कनेक्शन, आयुष्मान भारत, गर्भवती महिलाओं को आर्थिक सहायता व पोषण आहार, संस्थागत प्रसव, सिकलसेल एनीमिया, शत-प्रतिशत टीकाकरण, टी.बी.उन्मूलन, मध्यान भोजन, प्रधानमंत्री जनधन योजना, सुकन्या समृध्दि योजना शामिल हैं । कार्यक्रम का संचालन जिला पंचायत के सहायक परियोजना अधिकारी श्री बद्रीप्रसाद कुर्मी ने किया।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts to your email.

By nit

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading