अलीराजपुर में ज्वेलरी शॉप में हुई डकैती का पुलिस ने खुलासा कर 5 आरोपियों को किया गिरफ्तार | New India Times

अबरार अहमद खान/मुकीज खान, भोपाल/अलीराजपुर (मप्र), NIT:

अलीराजपुर ज़िले की जोबट तहसील अंतर्गत ज्वेलरी शॉप पर हुई सनसनीखेज डकैती का 7 दिन के अंदर अलीराजपुर पुलिस ने खुलासा किया है। इस प्रकरण में पुलिस ने 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर सोने व चांदी के आभूषण और दो मोटर साइकिल  जब्त की है। घटना के बाद पुलिस अधीक्षक श्री राजेश व्यास ने मौके का निरीक्षण कर तत्काल एसआईटी का गठन कर आरोपियों पर 10 हजार रुपए का ईनाम घोषित कर उन्हें पकड़ने के निर्देश जारी किए थे। आरोपियों की तलाश के लिए पुलिस की पांच टीमें बनाई गईं। पुलिस महानिरीक्षक इंदौर ग्रामीण श्री अनुराग द्वारा प्रकरण की लगातार समीक्षा की गई। वहीं  इंदौर ग्रामीण रेंज डीआईजी निमिष अग्रवाल द्वारा भी घटना स्थल का जायजा लेकर आवश्यक निर्देश दिए थे।

दरअसल 24 मई 2024 को अलीराजपुर जिले के थाना जोबट के अंतर्गत आने वाले शिव मार्ग निवासी राधिका सोनी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कर बताया कि जब वे प्रतिदिन की तरह अपने निवास स्थान से लगी अपनी ज्वेलर्स शॉप पर बैठी थी तभी सुबह 11:45 बजे तीन मोटरसाइकिलों से आए आठ हथियार बंद आरोपियों ने दुकान में घुसकर मुझे लोहे के फालिये से मारकर घायल कर दिया। इसके बाद बदमाश,  दुकान में रखे चांदी के जेवर व गले में पहनी सोने की चेन लूट कर ले गए। महिला की रिपोर्ट पर  तत्काल थाना जोबट में अपराध क्रमांक 281/2024 धारा 394, 395 भादवि की प्रथम सूचना रिपोर्ट पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। अत्यधिक गंभीर व सनसनीखेज प्रकृति की घटना घटित होने से तत्काल पुलिस अधीक्षक श्री राजेश व्यास घटना स्थल पहुंचे और  SIT का गठन कर आरोपियों के संबंध में जानकारी देने वाले पर 10000 रुपए का ईनाम घोषित किया।

एसडीओपी जोबट नीरज नामदेव के नेतृत्व में आरोपियों की गिरफ्तारी के लिये SIT व पृथक-पृथक 5 टीमों का गठन किया गया। पाचों टीमों के साथ पुलिस ने मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया। पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि ग्राम कदवाल थाना बोरी के कुख्यात फरार आरोपी तथा ग्राम ढेलवानी के कुख्यात बदमाश की गैंग द्वारा इस वारदात को अंजाम दिया गया है।

आरोपियों की धरपकड़ के लिए पुलिस की  टीमों द्वारा विभिन्न स्थानों पर दबिश दी गई। जिसकी पल-पल की जानकारी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री प्रदीप पटेल रख रहे थे। उक्त पांचों टीमों द्वारा ग्राम कनवाड़ा में संयुक्त रूप से दबिश दी गई। दबिश के दौरान चार कुख्यात आरोपियों को पुलिस ने धरदबोचा। जब इनका आपराधिक रिकार्ड तलाशा गया तो पुलिस को ज्ञात हुआ कि आरोपियों ने अलीराजपुर जिले के साथ ही अन्य जिलों में भी वारदातों को अंजाम दिया है। कई जिलों की पुलिस को भी आरोपियोें की तलाश थी। पुलिस ने गिरफ्तारी की कार्यवाही में एक विधि के प्रतिकूल बालक-को भी अभिरक्षा में लिया है।

आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि ग्राम बाकानेर की शिक्षक कॉलोनी मनावर के एक व्यक्ति को उन्होंने सारे जेवर बेचे हैं। आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने डकैती के जेवर खरीदने वाले व्यक्ति के घर दबिश देकर तीन किलाे चांदी के आभूषण (कीमत लगभग 2,14,380 रुपए)  तथा एक सोने की चेन (कीमत लगभग  50 हजार रुपए)  जब्त की गई। आरोपियों से घटना में प्रयुक्त 02 मोटरसाइकिल भी जब्त की है। इस तरह पुलिस को लगभग 404380 रूपए का माल बरामद करने में सफलता मिली है। प्रकरण में अभी 4 आरोपी फरार है, जिनकी तलाश जारी है।

लूट, चोरी, डकैती की घटना को अंजाम देने वाले कुख्यात बदमाश घटनास्थल की रैकी करते थे। इसके बाद योजनाबद्ध तरीके से वारदात करते थे। जोबट में हुई डकैती की घटना को भी बदमाशों ने इसी तरह अंजाम दिया था। रैकी के बाद उन्होंने दूसरी गैंग से संपर्क कर फालिया और देशी कट्‌टे का प्रयोग कर डकैती की।

इनकी रही सराहनीय भूमिका:- प्रथम टीम में निरी. सोनू सिटोले थाना प्रभारी जोबट, उनि धनराज सेमिया, सउनि दीपक मालवीया, सउनि विक्रम लाखन, सउनि दिनेश नरगांवे, आरक्षक गजेन्द्र, आरक्षक मनीष, आरक्षक निलेश, आरक्षक लेखराम, आरक्षक चेनसिह, आरक्षक जयराम,  आरक्षक अर्जुन, आरक्षक दलसिंह,  प्रआर रविन्द्र खन्ना, आर प्रताप जमरा, आर नबु वसुनिया,  आरक्षक महेश,  आरक्षक  राजेन्द्र मौर्य,  आरक्षक मुनसिंह,  दूसरी टीम में निरी. छगनसिह बघेल, प्रधान आरक्षक सतीश,   सउनि अरूण,  आरक्षक पन्नालाल, आरक्षक मुनसिंह,  तृतीय टीम में निरी. राजाराम बडोले, आरक्षक विशाल, आरक्षक प्रदीप, आरक्षक अर्जुन,  आरक्षक हेमराज, आरक्षक रविन्द्र, चौथी टीम में उनि. मोहन डावर, सउनि. अजय यादव, प्रधान आरक्षक दिलीप (सायबर सेल), आरक्षक प्रमोद,  (सायबर सेल), आरक्षक मुकेश,  आरक्षक सुनील, आरक्षक सुरेश पांचवी टीम में उनि. योगेन्द्र मण्डलोई, उनि योगेन्द्र सोजतिया, सउनि मनीष,  आरक्षक मोहन, प्रधान आरक्षक मुकेश अमलीयार एवं आरक्षक राहुल (सायबर सेल) की भूमिका सराहनीय रही।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

By nit

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading