पंडित दीनदयाल उपाध्याय पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय एवं गो अनुसंधान संस्थान के छात्रों ने राष्ट्रीय वाद-विवाद प्रतियोगिता में लहराया परचम | New India Times

अली अब्बास, ब्यूरो चीफ, मथुरा (यूपी), NIT:

पंडित दीनदयाल उपाध्याय पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय एवं गो अनुसंधान संस्थान के छात्रों ने राष्ट्रीय वाद-विवाद प्रतियोगिता में लहराया परचम | New India Times

पंडित दीन दयाल उपाध्याय पशु चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय एवं गो अनुसंधान संस्थान मथुरा उत्तर प्रदेश के छात्रों ने विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर अनिल कुमार श्रीवास्तव की मार्गदर्शन में अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी विश्वविद्यालय, अलीगढ़ में आयोजित राष्ट्रीय वाद-विवाद प्रतियोगिता में देश के विभिन्न केंद्रीय एवं राज्य स्तरीय विश्वविद्यालयों की टीम के साथ प्रतिभा किया।

यह प्रतियोगिता “वैश्विक विश्व व्यवस्था का भविष्य हिंद-प्रशांत में निर्धारित होगा” विषय पर हिंदी एवं अंग्रेजी दोनों माध्यमों में आयोजित की गई। जिसमें पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय, मथुरा की टीम ने उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए सर्वोच्च स्थान प्राप्त किया है । हिंदी टीम की प्रतिभागी आदित्य माहेश्वरी और विकास कुमार पांडे ने श्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए प्रथम स्थान प्राप्त किया। वहीं अंग्रेजी भाषा की टीम ने आकांक्षा शर्मा और इशिता सिंह ने महिला सशक्तिकरण का प्रबल उदाहरण प्रस्तुत करते हुए, प्रथम स्थान प्राप्त किया।

विश्वविद्यालय के सांस्कृतिक प्रभारी डॉ. गुलशन कुमार ने इस उपलब्धि को ऐतिहासिक क्षण बताते हुए, छात्र-छात्राओं को बधाई दी तथा उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। अधिष्ठाता पशु चिकित्सा एवं पशुपालन महाविद्यालय, प्रोफेसर विकास पाठक ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए पूरे टीम को हार्दिक बधाई दी। विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर अनिल कुमार श्रीवास्तव ने छात्र-छात्राओं को बधाई देते हुए कहा कि यह पूरे विश्वविद्यालय के लिए गर्व की बात है तथा ऐसी प्रतियोगिताओं में हमारे छात्र-छात्राओं को बढ़-चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए, जिससे उनके अंदर छिपी प्रतिभा अनावृत हो और उनका समावेशी विकास हो सके।


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts to your email.

By nit

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading