आठ जिलों के बड़े नेताओं ने भाजपा और अन्य दल छोड़ ली कांग्रेस की सदस्यता, मध्य प्रदेश के भविष्य के रक्षक हैं कांग्रेस में शामिल होने वाले नेता और कार्यकर्ता: कमलनाथ | New India Times

जमशेद आलम, ब्यूरो चीफ, भोपाल (मप्र), NIT:

आठ जिलों के बड़े नेताओं ने भाजपा और अन्य दल छोड़ ली कांग्रेस की सदस्यता, मध्य प्रदेश के भविष्य के रक्षक हैं कांग्रेस में शामिल होने वाले नेता और कार्यकर्ता: कमलनाथ | New India Times

भाजपा ने मध्य प्रदेश को भ्रष्टाचार प्रदेश बना दिया है। आज मध्य प्रदेश में हर व्यक्ति भ्रष्टाचार का शिकार है या भ्रष्टाचार का गवाह है। मध्य प्रदेश में भ्रष्टाचार की एक ऐसी व्यवस्था बना ली है जिसमें पैसे दो काम लो’ का सिद्धांत चल रहा है। उक्त बातें आज अपने संबोधन में पूर्व मुख्यमंत्री और मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहीं। वे प्रदेश कांग्रेस कार्यालय भोपाल में भाजपा छोड़कर आए नेताओं को कांग्रेस की सदस्यता समारोह को संबोधित कर रहे थे।

आठ जिलों के बड़े नेताओं ने भाजपा और अन्य दल छोड़ ली कांग्रेस की सदस्यता, मध्य प्रदेश के भविष्य के रक्षक हैं कांग्रेस में शामिल होने वाले नेता और कार्यकर्ता: कमलनाथ | New India Times

श्री कमलनाथ ने कहा कि आज के नौजवान की अपनी सोच है। वह कमीशन या ठेके नहीं चाहता है। वह रोज़गार चाहता है। अपने हाथों को काम चाहता है। निवेश कलाकारी से नही आता है उसके लिये विश्वास का माहौल बनाने की ज़रूरत है।
उन्होंने कहा कि मैं आज आपसे थोड़ी सी बात करूँगा आप सब रक्षक हैं ये एमपी के भविष्य का चुनाव है और आप मध्य प्रदेश के भविष्य के रक्षक है। उन्होंने आगे बोलते हुए कहा कि आज शिवराज सिंह जी अपने पाप धोने के लिए बहनों को 1000 रुपये दे रहे हैं। शिवराज जी! आप सोचते हैं कि 18 साल के आपके पाप ऐसे धुल जाएंगे। आप जाइए मुंबई और कलाकारी वहाँ कीजिए, इस चुनाव के बाद मध्य प्रदेश की जनता आपको बड़े प्यार से विदा करेगी।

आठ जिलों के बड़े नेताओं ने भाजपा और अन्य दल छोड़ ली कांग्रेस की सदस्यता, मध्य प्रदेश के भविष्य के रक्षक हैं कांग्रेस में शामिल होने वाले नेता और कार्यकर्ता: कमलनाथ | New India Times

श्री कमलनाथ ने कहा कि भाजपा ने मध्यप्रदेश को चौपट प्रदेश, घोटाला प्रदेश, भ्रष्टाचार प्रदेश बना दिया है। आपको एक रक्षक के रूप में मध्य प्रदेश के भविष्य को बचाना है।
अब जब चुनाव में हार सामने है तो भाजपा सब कलाकारी कर रही हैं तो यह पैसा पुलिस प्रशासन का उपयोग करेंगे क्योंकि इनके पास बचा ही क्या है? प्रशासन को भी पता चल रहा है कि 4 महीने बाद प्रदेश में सरकार बदलने वाली है। इसलिये प्रशासन ने भी अपना भविष्य सुरक्षित रखना शुरू कर दिया है। प्रशासन का व्यवहार बदलने लगा है।

श्री कमलनाथ ने कहा कि हमनें 15 महीने की सरकार में नीति और नियत का परिचय दिया। मैंने कौन सी गलती की थी? 27 लाख किसानों की कर्ज माफ़ी की, मैंने 1000 गोशालायें पंचायतों में बनवाई क्या ये मेरी गलती थी? हमने 100 रुपये में 100 यूनिट बिजली दी। सामाजिक सुरक्षा पेंशन बढ़ाई। जनता हिसाब करने के लिये तैयार बैठी है ये आज जनता को प्रलोभन दे रहें हैं लालच दे रहें हैं। मैं कहता हूँ शिवराज जी ये 2023 है आप जिसे ज्ञान देने जाते हो वो आपको ज्ञान देने के लिये तैयार बैठा है।
इस अवसर पर मध्य प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि पिछली बार विधानसभा चुनाव में बीजेपी के 13 मंत्री हारे थे। इस बार इसका उल्टा होगा और मध्य प्रदेश की इस कमीशन वाली सरकार के 31 मंत्री चुनाव हारेंगे।

श्री सुरजेवाला ने कहा कि 50% कमीशन और भ्रष्टाचार इस सरकार का मुख्य धंधा है। जिस सरकार में दलित आदिवासी और महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं, उन्हें चुल्लूभर पानी में डूब मरना चाहिए। भोपाल राजधानी है और यहां हर दिन एक महिला से बलात्कार क्यों हो रहा है?
उन्होंने कहा कि कमलनाथ जी के पिटारे में अभी बहुत माल है, वहीं एमपी में एक धोखेबाज सत्ता में है वो कमलनाथ जी की घोषणाओं को नकल कर रहा है। कमलनाथ जी आपसे अनुरोध करता हूं कि आप आज कोई घोषणा न करें अब सारी घोषणाएं आचार संहिता के बाद करेंगे।

कमलनाथ जी के नेतृत्व से प्रभावित होकर आज निम्नलिखित नेताओं ने कांग्रेस पार्टी सदस्य ग्रहण की

1 भंवर सिंह शेखावत पूर्व विधायक भाजपा, जिला धार
2 चंद्रभूषण सिंह बुंदेला उर्फ गुड्डू राजा जिला सागर, दो बार झांसी से सांसद रहे सुजान सिंह बुंदेला के पुत्र
3 वीरेंद्र रघुवंशी भाजपा विधायक कोलारस जिला शिवपुरी
4 छेदीलाल पांडे शिवम पांडे कटनी
5 अरविंद धाकड़ शिवपुरी
6 सुश्री अंशु रघुवंशी गुना
7 डॉ केशव यादव भिंड
8 डॉ आशीष अग्रवाल गोलू, भोपाल भाजपा के पूर्व गृहमंत्री उमाशंकर गुप्ता के भांजे
9 महेंद्र प्रताप सिंह नर्मदापुरम


Discover more from New India Times

Subscribe to get the latest posts to your email.

By nit

This website uses cookies. By continuing to use this site, you accept our use of cookies. 

Discover more from New India Times

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading