नीचे गिरे सूखे पत्तों पर अदब से चलना जरा। कभी कड़ी धूप में तुमने इनसे ही पनाह मांगी थी…

लियाक़त शाह, भुसावल/जलगांव (महाराष्ट्र), NIT: जिंदगी खुशी और गम की परिभाषा होती है, जो रेल की पटरी के समान साथ साथ चलती रहती है. परमेश्वर ने हमें जीवन में दुख […]

अंग्रेजी सल्तनत की नींव हिलाने वाली दांडी यात्रा शताब्दी वर्ष की ओर…

Edited by Junaid Kakar, NIT: लेखक: डॉ. अश्विन झाला गाँधी रिसर्च फाउण्डेशन गाँधी जी ने अपने जीवन के दौरान कई सत्याग्रह किए किंतु उनमें से एक सत्याग्रह विशेष उभरकर सामने […]

स्वामी विवेकानंद जयंती पर विशेष: वर्तमान में स्वामी विवेकानंद के विचारों की प्रासंगिकता

हरकिशन भारद्वाज, जयपुर (राजस्थान), NIT: इस दुनिया में सिर्फ उसी को याद किया जाता है जो दूसरों के लिए जीता है, खुद के लिए तो जानवर भी जी लेते हैं। […]

अर्नब मामले में मुठ्ठी भर समर्थकों के अलावा एक बड़ा तबक़ा विरोध में है लामबंद: सैयद ख़ालिद कैस

Edited by Abrar Ahmad Khan, NIT: लेखक: सैयद ख़ालिद कैस गत तीन दिनों से सोशल मीडिया पर कथित पत्रकार अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी के बाद की खबरें जमकर नज़र आ […]

आंदोलन- कल और आज

Edited by Piyush Mishra, NIT: लेखिका: दीप्ति डांगे, मुम्बई आन्दोलन समाज के विकसित होने की प्रक्रिया में जन्म लेते हैं जिनका उद्देश्य समाज के वर्तमान जीवन में कोई न कोई […]

शरद पूर्णिमा विशेष: शरद पूर्णिमा पर अमृत सिद्धि योग…चंद्र किरणों से बरसेगा अमृत…।

हरकिशन भारद्वाज, ब्यूरो चीफ, सवाई माधोपुर (राजस्थान), NIT: 30 अक्टूबर (शुक्रवार) को शरद पूर्णिमा है। यह रात कई मायने में महत्वपूर्ण है। जहां इसे शरद ऋतु की शुरुआत माना जाता […]

दशहरा विशेष: अब राम कहां से आएंगे…???

हरकिशन भारद्वाज, ब्यूरो चीफ, सवाई माधोपुर (राजस्थान), NIT: आज दशहरा है और हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी हम बुराई और असत्य के प्रतीक रावण के पुतले का दहन […]

निजीकरण कानूनी तौर पर गलत है: श्रीप्रकाश सिंह निमराजे

Edited by Sandeep Shukla, NIT: संविधान में आर्टिकल 21, 37, 38, 39 और 300 के रहते केन्द्र सरकार निजीकरण नहीं कर सकती और न ही निजीकरण पर कोई कानून बना […]

दिल्ली विश्वविद्यालय के एडहॉक अध्यापकों के आंदोलन एवं देश की शिक्षा व्यवस्था पर उठते सवाल; डॉ. अनिल कुमार मीणा

Edited by Arshad Aabdi, NIT: लेखक: डॉ. अनिल कुमार मीणा दिल्ली विश्वविद्यालय में लगभग 5000 एडहॉक अध्यापक पढ़ाते हैं लेकिन उनकी लेकिन प्रत्येक 4 महीने बाद जॉइनिंग को लेकर विश्वविद्यालय […]

मुस्लिम समुदाय के पिछड़ने के कारणों को स्वयं मुसलमान को ही तलाशने होंगे

अशफाक कायमखानी, जयपुर (राजस्थान), NIT: हालांकि प्रिंटिंग प्रेस से लेकर आंखों की रोशनी बढाने के लिये आंखों पर चश्मा लगाने के अलावा लाऊडस्पीकर पर अजान देने की शुरुआत होते समय […]