अंचल के समाजसेवी कन्नू मोरिया व वरिष्ठ पत्रकार रहीम शेरानी हिंदुस्तानी का यादगार जन्मदिवस

देश, राज्य, समाज

कादर शेख, थांदला/झाबुआ (मप्र), NIT:

वरिष्ठ पत्रकार रहीम शेरानी हिंदुस्तानी

दुनिया में जन्म तो सभी का होता है लेकिन कुछ दिन यादगार होते हैं ऐसे में उन दिनों किसी व्यक्ति का जन्म होता है तो लोग उनमें वही गुण देखने भी लगते हैं। अंचल के दो युवा कन्नू मोरिया व पत्रकार रहीम शेरानी का जन्म 15 अगस्त के ऐतिहासिक दिन हुआ जब सारा भारत आजादी का जश्न मनाता है।

यही कारण है कि मेघनगर मुस्लिम सुन्नतवल जामात कमेटी के अध्यक्ष पत्रकार रहीम शेरानी के साथ हिंदुस्तानी जुड़ गया वही वे अपनी लेखनी से अंचल की समस्याओं को उठाते रहते हैं व समाज सेवा में भी आगे रहते हैं।

बात अगर गवली समाज के युवा अध्यक्ष कन्नू मोरिया की करें तो सामाजिक सेवा के कारण ही वे सबसे युवा अध्यक्ष बने हैं. भारतीय जनता पार्टी के साथ हिंदुत्व के लिए समर्पित कन्नू भाई हर समाज वर्ग के साथ समन्वय स्थापित करते हुए सभी के काम आते हैं। आवर्तमान समय में वे वार्ड क्रमांक 3 से पार्षद पद के भी प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं जो उनकी लोकप्रियता को बता रहा है, हालांकि अभी उन्होंने चुनाव लड़ने का इरादा जाहिर नहीं किया है, लेकिन वार्ड के अनेक मतदाता उनकी कार्यशैली से प्रभावित हैं व सभी जानते हैं कि वे शासन प्रशासन में भी पकड़ रखते हैं जिसके चलते वार्ड वासियों की समस्याओं के त्वरित निराकरण भी करवा सकते हैं। फिलहाल स्वतंत्रता के यादगार दिन उनका जन्म होना व इस वर्ष आजादी के अमृत महोत्सव का जश्न दोहरी खुशियां लेकर आया है। हम दोनों को यशस्वी जीवन की शुभकामना देते हैं।

Leave a Reply