ईमानदार लईक अहमद को कई सामाजिक संगठनों ने किया सम्मानित। हमने तो उम्मीद ही छोड़ दी थी: कृष्ण गोपाल

देश, राज्य, समाज

मुबारक अली, ब्यूरो चीफ, शाहजहांपुर (यूपी), NIT:

ईमानदारी की मिसाल पेश करने वाले रिक्शा चालक लईक अहमद को वीआईपी ग्रुप सामाजिक संगठन, व्यापार मंडल के नेता एवं एहसास वेलफेयर सोसाइटी ने सम्मानित किया है।

आपको बताते चलें कि लईक अहमद एक रिक्शा चालक हैं जो स्कूल के बच्चों को लाने और ले जाने का कार्य करते हैं. शुक्रवार को बच्चों को लेकर रिक्शे से जा रहे थे कि रास्ते में नोटों से भरी हुई पॉलिथीन उनको दिखाई दी, उन्होंने उसको उठाया और लीड कान्वेंट स्कूल के प्रबंधक मोहम्मद जमाल के सुपुर्द कर दी. इस पूरे घटनाक्रम की जानकारी जब पत्रकारों को मिली तो सोशल मीडिया पर प्रसारित खबरों के माध्यम से लईक अहमद की ईमानदारी की मिसाल जनपद में आग की तरह फैल गई. सोशल मीडिया पर वायरल हुई खबर से जनपद के कई सामाजिक संगठन आगे आए और लईक अहमद को शाल उड़ाकर, माला पहनाकर, उपहार एवं नगदी देकर सम्मानित किया।

लईक अहमद को सम्मानित करने वालों में वी आई पी ग्रुप सामाजिक संस्था से अभिनय गुप्ता, शाहनवाज खान, युवा बसपा नेता, अनूप कुमार, मोहम्मद जमाल, तराना जमाल, सचिन बाथम नगर अध्यक्ष व्यापार मंडल, एहसास वेलफेयर सोसाइटी से मो0 फहीम, मोहम्मद आमिर, शहजाद, सईद अंसारी शामिल हैं।

शाहनवाज खान युवा बसपा नेता ने 2500 रुपये नगद दे कर सम्मानित किया. शाहनवाज ने कहा कि आज के इस दौर में लाइक अहमद ने जो ईमानदारी का परिचय दिया है वह काबिले तारीफ है इसकी जितनी भी प्रशंसा की जाए वह कम है, आज के दौर में ऐसे ईमानदार लोग बहुत कम मिला करते हैं।

मोहल्ला ज़िया खेल निवासी कृष्ण गोपाल भारद्वाज को पैसों से भरा थैला लौटा दिया गया. कृष्ण गोपाल ने बताया कि हमने तो उम्मीद ही छोड़ दी थी कि पैसा जाने के बाद मिल पाए लेकिन लाईक भाई जैसे लोग आज भी इस दुनिया में मौजूद हैं, लाइक भाई ने हमारे पैसे वापस कर ईमानदारी की एक मिसाल कायम की है, हम उनका दिल से शुक्रिया अदा करते हैं. कृष्ण गोपाल ने 1000 पुरस्कार के रुप में लाइक अहमद को देकर सम्मानित किया।

Leave a Reply