नरेंद्र कुमार, जामनेर/जलगांव (महाराष्ट्र), NIT:

हमारे भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने पर हर नागरिक महंगाई में अपना योगदान देकर भारत को विश्वगुरु बनाने में जुटा है. अमृत महोत्सव के औचित्य से केंद्र और राज्य सरकारों की ओर से विभिन्न आयोजनों के माध्यम से जनता तक पहुंचा जा रहा है. इन कार्यक्रमों के सहारे प्रस्थापित नेताओं की लोकप्रियता का खास ख्याल रखा जा रहा है. यह हम इस लिए बता रहे हैं ताकि सरकारी कार्यक्रमों में जनता के सामने विशेष व्यक्तित्वों को दी जाने वाली तरजीह प्रशासन के कामकाज का एक ऐसा हिस्सा बन चुका है जिस पर इन कार्यक्रमों के स्टेज से गायब कर दिया गया, विपक्ष खेद तक प्रकट नहीं कर पाता और ना ही उस मीडिया से लड़ पाता है जो इन एकतरफा कार्यक्रमों के आयोजनों में प्रशासन और प्रस्थापितों के साथ खड़ी होती है. जामनेर में महाराष्ट्र सरकार, राष्ट्रीय आरोग्य अभियान + परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से उपजिला अस्पताल में स्वास्थ शिविर का आयोजन किया गया. शिविर में 560 लोगों की स्वास्थ जांच की गई, 212 लोगों को यूनिक हेल्थ कार्ड के लिए प्रमाणित किया गया वहीं 123 लोगों को आयुष्यमान भारत स्किम कार्ड दिए गए. महात्मा फूले जनआरोग्य योजना के तहत 51 मरीजों के मोतियाबिंद का ऑपरेशन किया जाना है. शिविर का उद्घाटन नगराध्यक्षा साधना महाजन ने किया. उनके हाथों एक हजार लीटर के ऑक्सिजन प्लांट को कार्यान्वित किया गया. मौके पर अमित देशमुख, डॉ प्रशांत भोंडे, डॉ विनय सोनावणे, डॉ राजेश सोनावणे, डॉ हर्षल चांदा, डॉ जयश्री पाटील, डॉ पल्लवी राउत, डॉ पंकज पाटील, डॉ राहुल निकम, डॉ वैशाली चांदा समेत स्वास्थ कर्मी उपस्थित रहे.

By nit

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *