हिमांशु सक्सेना, ग्वालियर (मप्र), NIT:

उत्तर प्रदेश के मैनपुरी से ग्वालियर आई बरात में शामिल लाेग खराब खाना खाने से बीमार हो गये। बरात में लगभग 75 लोग शामिल थे और स्थानीय मेहमानों को मिलाकर 100 से ज्यादा लोगों की तबीयत बिगड़ गई। मंगलवार को सिटी सेंटर बाल भवन के सामने स्थित बैंबू रेस्टोरेंट में बरात आई थी और रात 12 बजे खाना खाने के बाद उल्टी दस्त का सिलसिला शुरू हो गया। दुल्हन और दूल्हे की भी हालत खराब हो गई। जिसके बाद दुल्हन को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। रात में बारातियों ने अपने स्तर पर ओआरएस सहित दवाएं लीं। कुछ बारातियों ने भिंड व इटावा में भी इलाज लिया। वहीं स्थानीय मेहमानों ने घरों पर ड्रिप लगवाई। बुधवार दोपहर तक सभी की हालत ठीक बताई गई। सूचना मिलते ही प्रशासन की टीम ने रेस्टोरेंट के खाने के सैंपल कराए। कलेक्टर ने जांच कराने के आदेश दिए हैं।

एमके सिटी में रहने वाले वरूण सिंह की बहन प्रार्थना सिंह का विवाह मैनपुरी के रोहित के साथ हुआ। जिसमें आयोजन स्थल बैंबू रेस्टोरेंट था। मंगलवार रात मैनपुरी से लगभग डेढ़ सौ बराती पहुंचे और यहां कुल 250 लोगों के खाने की बुकिंग की गई थी। रात 12 बजे बराती खाना खाकर फुर्सत होने लगे, तब लाेगाें की तबीयत खराब होना शुरू हुई। पहले 30 से 35 लोगों को उल्टी दस्त की शिकायत शुरू हुई, फिर आंकड़ा बढ़ता चला गया। सुबह लगभग चार बजे दुल्हन सहित छह लोगों की तबीयत ज्यादा खराब हुई तो निजी अस्पताल में भेजा गया, जहां से कुछ घंटो बाद छुट्टी हो गई।

जैसे-तैसे कराईं रस्में,दोपहर में हुई विदाईः रात में बराती व स्थानीय मेहमानों की तबीयत खराब होने के बाद रस्में समय पर नहीं हो सकीं। दुल्हन व करीबी लोगों को भर्ती कराने की नौबत आ गई थी और दूल्हे की भी तबीयत सही नहीं थी। इस कारण सुबह सुबह जैसे-तैसे रस्में पूरी कराईं और विदा दोपहर में हो सकी।

शादी में परोसा पनीर टिक्का मिला,सप्लाई वाली डेयरी से भी सैंपलः फूड एंड सेफ्टी टीम ने बुधवार शाम को बैंबू रेस्टोरेंट पर पहुंचकर पनीर टिक्का व दही का सैंपल लिया। पनीर टिक्का मंगलवार का रखा मिल गया था, जिसे शादी में बरातियों को परोसा गया था। रेस्टोरेंट संचालक ने थाटीपुर की गुप्ता डेयरी से सामान मंगवाया था, वहां भी टीम पहुंची और सैंपल लिए।

दूषित पानी का संदेह,रात में टंकी से दिया थाः बताया जा रहा है कि खाने से ज्यादा दूषित पानी के कारण लाेगाें के बीमार हाेने की आशंका है। पहले तो फिल्टर पानी दिया जा रहा था, फिर पानी खत्म होने पर टंकी का पानी बर्फ डालकर दिया गया। रेस्टोरेंट के संचालक अनिल दीक्षित हैं। वरूण सिंह ने दो लाख रुपये जमा कराए थे।

मेरे सामने सब उल्टी करने लगे,ग्वालियर से मैनपुरी तक इलाज करायाः पहले जब कुछ लोगों को उल्टी होने लगी तो मुझे लगा ज्यादा खाना या गर्मी के कारण ऐसा हो सकता है। जब 20 से 25 लोग उल्टी करते दिखे तो विश्वास नहीं हुआ। मेरी बहन प्रार्थना की तबीयत खराब हुई, राेहितकी भी तबीयत बिगड़ी तो इलेक्ट्राल पाउडर देकर संभाला। रात में लोग अपने वाहनों से घर भी नहीं पहुंच पाए और रास्ते भर उल्टियां करते गए। भिंड में कुछ लोंगों ने इलाज लिया और मैनपुरी में भी इलाज चल रहा है। यहां ग्वालियर में स्थानीय मेहमान अपने घरों पर इलाज ले रहे हैं। मेरे कुछ रिश्तेदार भिंड अस्पताल में भर्ती हुए थे। लगातार लोगों के फोन आ रहे हैं।

इस पूरे मामले की जांच कराई जा रही है, फूड एंड सेफ्टी टीम से सैंपलिंग कराई गई है। खराब खाना या दूषित पानी के कारण ऐसा हुआ है। लोगों का स्वास्थ्य अब ठीक बताया गया है: डाॅ इच्छित गढपाले, एडीएम, ग्वालियर.

By nit

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *