रतनगढ़ मेले के संबंध में मेला प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री माखन सिंह की अध्यक्षता में बैठक सम्पन्न

देश, राज्य

गुलशन परूथी, ब्यूरो चीफ, दतिया (मप्र), NIT:

दतिया जिले की सेवढ़ा तहसील में आयोजित होने वाले रतनगढ़ मेले में श्रृद्धालुओं को आवागमन में किसी प्रकार की परेशानी न हो एवं अन्य सुविधाओं के संबंध में मंगलवार को तीर्थ एवं मेला प्राधिकरण के अध्यक्ष (कैबीनेट मंत्री दर्जा) श्री माखन सिंह अध्यक्षता में बैठक सम्पन्न हुई।
न्यू कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में आयोजित बैठक में ग्वालियर संभाग आयुक्त श्री आशीष सक्सैना, चंबल रेंज के आईजी श्री सचिन अतुलकर, कलेक्टर श्री संजय कुमार, पुलिस अधीक्षक श्री अमन सिंह राठौर, हाउसिंग बोर्ड के अधीक्षण यंत्री श्री एसके सुमन आदि उपस्थित थे।
अध्यक्ष श्री माखन सिंह ने रतनगढ़ मेले से जुड़े विभिन्न पहलुओं पर चर्चा करते हुए कहा कि बाढ़ के कारण रतनगढ़ का पुल टूट कर बह चुका है। निर्माणाधीन पुल के कार्य में तेजी लाई जाए। साथ ही आवागमन हेतु वैकल्पिक अस्थाई व्यवस्था भी करें।
संभागायुक्त श्री सक्सैना ने कहा कि जो पुल स्वीकृत है उस पुल को मेले की स्थिति को देखते हुए तत्परता के साथ पुल का कार्य शीघ्र पूर्ण किया जाए। उन्होंने कहा कि इस संबंध में शीघ्र ही ग्वालियर में संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक आयोजित की जायेगी। जिसमें मेले की व्यवस्थाओं के संबंध में अंतिम रूप दिया जायेगा। उन्होंने जिला कलेक्टर को निर्देश दिए कि वह भी अधिकारियों के साथ स्थल भ्रमण कर व्यवस्थाओं का जायजा लें। बैठक में ग्वालियर क्षेत्र के बेहट एवं डबरा क्षेत्र पहुंच मार्ग से आने वाले श्रृद्धालुओं की पार्किग व्यवस्था, पैदल चलकर आने वाले लोगों की व्यवस्था के संबंध में चर्चा की गई। बैठक मंे बताया कि ग्वालियर सहित सीमावर्ती राज्य उत्तर प्रदेश के जिलों से बड़ी संख्या में श्रृद्धालु आते है।
बैठक में बताया गया कि हाउसिंग बोर्ड द्वारा 43 करोड़ की रतनगढ़ योजना बनाई गई है। जिसमें रैम्प चढ़ाई के साथ व्हीआईपी सर्किट हाउस, सामुदायिक भवन, पुजारी रूम, प्रसाद वितरण काउंटर के साथ सड़क चैड़ीकरण के कार्य शामिल है। बैठक में अपर कलेक्टर श्री एके चाॅदिल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री कमल मौर्य, अनुविभागीय दण्ड़ाधिकारी सेवढ़ा श्री अनुराग निगवाल, एसडीओपी श्री दीक्षित, सहायक यंत्री हेमंत कुमार गुरैया सहित संबंधित विभागों के अधिकारीगण शामिल हुए।

Leave a Reply