ग्वालियर नगर निगम के स्वच्छता निरीक्षक को 5 हजार रुपये की रिश्वत लेते लोकायुक्त ने रंगे हाथों किया गिरफ्तार

अपराध, देश, भ्रष्टाचार, राज्य

संदीप शुक्ला/हिमांशु सक्सेना, ग्वालियर (मप्र), NIT:

ग्वालियर में लोकायुक्त पुलिस ने गुरुवार सुबह नगर निगम के स्वच्छता निरीक्षक को 5 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। पिछले कुछ दिनों से निगम का स्वच्छता निरीक्षक एक कर्मचारी का परेशान कर रहा था। वह कर्मचारी से दो माह का वेतन निकालने के एवज में रिश्वत की मांग कर रहा था। कर्मचारी ने लोकायुक्त पुलिस में शिकायत की थी।

लोकायुक्त पुलिस से नगर निगम कर्मचारी लक्ष्मण खरे ने शिकायत की थी कि नगर निगम का स्वच्छता निरीक्षक अशोक धवल उनका दो माह का वेतन नहीं निकालने दे रहा है। इसके लिए रिश्वत मांग रहा है। आवेदक के मुताबिक उसके करीब 60 हजार रुपये फंसे हुए हैं, जिसको निकालने के लिए अशोक धवल 10% रिश्वत मांग रहा है, लेकिन सौदा 5 हजार रुपये में तय हो गया।

शिकायत के बाद लोकायुक्त ने लक्ष्मण खरे को समझाइश देकर भेजा। आज गुरुवार की सुबह लक्ष्मण खरे ने अशोक धवल को पड़ाव स्थित डफरन सराय नगर निगम स्टाफ क्वार्टर के पास बुलाया और रिश्वत के 5 हजार रुपये दिये पहले से मौजूद लोकायुक्त टीम ने उसे रंगे हाथ पकड़ लिया। इसके बाद आरोपी के हाथों को धुलवाए। नगर निगम के स्वच्छता निरीक्षक को ट्रेप करने के बाद लोकायुक्त टीम उसे अपने ऑफिस ले गई। जहां उसके खिलाफ कार्रवाई कर पूछताछ की जारी है।

इस पूरे मामले में लोकायुक्त पुलिस की इंस्पेक्टर आराधना डेविस का कहना है कि सफाई कर्मचारी लक्ष्मण ने लोकायुक्त पुलिस से शिकायत की थी। इस आधार पर आरोपी को रंगे हाथों दबोच लिया गया है, उसके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है.

Leave a Reply